कैंसर के उपचार के नाम पर इन 6 चीजों पर न करें भरोसा, पहुंचा सकते हैं शरीर को नुकसान

Updated at: Sep 23, 2020
कैंसर के उपचार के नाम पर इन 6 चीजों पर न करें भरोसा, पहुंचा सकते हैं शरीर को नुकसान

कैंसर में हर तरह का उपचार काम नहीं करता। आपको मालूम होना चाहिए कि कौन सा उपचार उपयोगी जानिए विस्तार से। 

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: Sep 23, 2020

कैंसर एक ऐसी भयावह बीमारी है जिसमें डॉक्टरी इलाज के साथ-साथ कुछ ही वैकल्पिक उपचार मदद कर सकते हैं, सब नहीं। शोध से पता चलता है कि कैंसर से पीड़ित 30% लोगों ने एक तथाकथित "इलाज" की कोशिश की है जिसका कोई लाभ नहीं है। वे समय और धन की बर्बादी हो सकती है। इससे भी बदतर, इनमें से कुछ "उपचार" आपके स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हैं और कुछ बहुत प्रभावित हैं।

insidecancercell

1.क्षारीय आहार (Alkaline Diets)

 ऐसा माना जाता है कि क्षारीय (एसिडिक) आहार से शरीर में कैंसर की सेल्स ज्यादा नहीं बढ़ पाती हैं। परंतु सत्य यह है कि इससे केवल आप की बॉडी का एसिड लेवल कम होता है और आप क्या खाते हैं इससे आप के ब्लड के क्षारीय (एसिडिक) लेवल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता, बल्कि आप का शरीर इसे बैलेंस करता है। 

2.मारिजुआना तेल (Cannabis Oil)

ऐसा माना जाता है कि मरिजुआना का यह पौधा आप की कैंसर सेल्स को खत्म करने में सहायक है। परन्तु इससे केवल आप की कैंसर के लक्षण कम हो सकते हैं,  कैंसर नहीं। इस को प्रयोग करने से पहले आप को अपने डॉक्टर से अवश्य सलाह ले लेनी चाहिए। क्योंकि इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें : ब्रेस्ट कैंसर से बचाव के लिए महिलाओं को करना चाहिए इन 5 फूड्स का सेवन, कैंसर सेल्स पनपने का खतरा होता है कम

3.सीजि़यम क्लोराइड (cesium Chloride)

ऐसा माना जाता है कि इस प्रकार का सॉलिड नमक आप की कैंसर के उपचार में सहायक हो सकता है। परन्तु साइंस ने अभी तक ऐसा कोई प्रमाण नहीं पाया है। यह कैंसर से पीड़ित लोगों की किसी प्रकार सहायता नहीं करता है, बल्कि उन्हें कुछ अन्य साइड इफेक्ट्स भी देता है। कुछ मामलों में, यह गंभीर, संभवतः  हृदय की समस्याओं को जन्म दे सकता है।

4.हर्बल रेमेडीज (Herbal Remedies)

किसी भी तरह की हर्बल रेमेडी आप के लिए कैंसर का उपचार नहीं बन सकती है। रिसर्च में पता चला है कि हर्बल दवाइयों के द्वारा कैंसर के लक्षणों में कुछ कमी आ सकती है। परन्तु उसे पूरी तरह ठीक नहीं किया जा सकता है। उदाहरण के तौर पर अदरक से जी मिचलाना व उल्टियां ठीक हो सकती हैं। 

insidevitaminc

इसे भी पढ़ें : कोलन कैंसर और आपका आहार कैसे एक दूसरे को करते हैं प्रभावित, जानें कैसे रखें खुद को स्वस्थ

5.काला मरहम (black Salve)

यह एक ट्यूब होती है जिसमें एक किस्म का पेस्ट होता है जो ज़िंक क्लोराइड व ब्लड रुट नाम के पौधे को मिला कर बनाई जाती है। इसके बारे में यह कहा जाता है कि यह कैंसर सेल्स को नष्ट करता है। परन्तु यह जिस त्वचा को छूता है उसी को नष्ट करता है। इससे कैंसर की केवल उपरी सतह नष्ट होती है और इससे आप को त्वचा इंफेक्शन आदि भी हो सकता है।

6.विटामिन सी का मेगा डोज (vitamin c)

पहले यह माना जाता था कि यदि कैंसर के मरीज को विटामिन सी का मेगा डोज देंगे, तो वह कैंसर से ठीक हो सकता है। परन्तु अब यह सामने आया है कि इसका मेगा डोज कैंसर को ठीक करने के लिए सहायक नहीं है। अब डॉक्टर विटामिन सी के कम डोज के बारे में रिसर्च कर रहे हैं।

 कुछ लोग कहते हैं कि इन की खुशबू व फॉर्मूला कैंसर को ठीक करने में सहायक हो सकते हैं। परन्तु डॉक्टर का मानना है कि कैंसर से इन ऑयल का कोई लेना देना नहीं है। परंतु इनसे कैंसर के कुछ लक्षण जैसे चिंता होना, जी मिचलाना व डिप्रेशन आदि से राहत मिल सकती है। 

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK