शाम 6 बजे के बाद खाना खाने से क्या सचमुच वजन बढ़ता है? जानें डिनर और मोटापे से जुड़ी जरूरी बातें

Updated at: Nov 30, 2019
शाम 6 बजे के बाद खाना खाने से क्या सचमुच वजन बढ़ता है? जानें डिनर और मोटापे से जुड़ी जरूरी बातें

देर तक में खाना खाने से वजन और मोटापा बढ़ने की बात कितनी सच है कितनी झूठ? इस लेख में जानें डिनर और मोटापे के संबंध के साइंटिफिक कारण।

Anurag Anubhav
वज़न प्रबंधनWritten by: Anurag AnubhavPublished at: Nov 30, 2019

अक्सर आपने लोगों को यह कहते हुए सुना होगा या कहीं न कहीं पढ़ा होगा कि रात का खाना जल्दी खा लेना चाहिए। बहुत सारे लोग मानते हैं  कि अगर आप 10 बजे सोते हैं, तो आपको रात का खाना कम से कम 6-7 बजे तक खा लेना चाहिए। उनके मुताबिक इसके बाद खाया गया खाना आपका वजन बढ़ाता है। मगर इन बातों में कितनी सच्चाई है और इसका आपके वजन पर कितना प्रभाव पड़ता है, इस बारे में आज हम आपको बताएंगे कुछ वैज्ञानिक कारण और डायटीशियन की राय।

खाने का समय नहीं, खाना बढ़ता है मोटापा

अगर आप नौकरीपेशा हैं और रात में देर से घर लौटते हैं, तो रोजाना शाम को 6 बजे तक डिनर करना आपके लिए मुश्किल है। ऐसी स्थिति में यह जरूरी नहीं है कि आप 6 बजे के बाद कुछ खाएंगे, तो आप मोटे ही होंगे। दरअसल लोग यह समझ लेते हैं कि खाने के समय का उनके वजन पर प्रभाव पड़ता है। मगर रिसर्च बताती हैं कि आपके खाने के समय से ज्यादा, वजन का बढ़ना या घटना इस बात पर निर्भर करता है कि आप रात के खाने में क्या खा रहे हैं।

कैलोरीज समय के अनुसार नहीं, मेटाबॉलिज्म के अनुसार काम करती हैं

फिटनेस एक्सपर्ट्स का मानना है कि कैलोरीज को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि वो 6 बजे के पहले ली गई हैं या 6 बजे के बाद ली गई हैं। कैलोरीज का काम है शरीर के लिए एनर्जी पैदा करना और इस काम में उनकी मदद आपके शरीर का मेटाबॉलिज्म करता है। अगर आपका मेटाबॉलिज्म अच्छा है और आपने उतनी ही मात्रा में कैलोरीज का सेवन किया है, जितनी कि आपके शरीर को जरूरत है, तो इससे आपका वजन बिल्कुल नहीं बढ़ेगा।

इसे भी पढ़ें: कैलोरी बर्न करने के ये 4 तरीके अजीब जरूर हैं मगर घटाते हैं आपका वजन, ट्राई कीजिए

अतिरिक्त कैलोरीज बढ़ाती हैं आपका वजन

आपका वजन बढ़ाने का काम और शरीर का मोटापा बढ़ाने का काम वो कैलोरीज करती हैं, जिनका इस्तेमाल आपका शरीर नहीं कर पाता है। इन्हें ही अतिरिक्त कैलोरीज (Excess Calories) कहा जाता है।  यहां ध्यान देने की बात ये है कि वो सभी कैलोरीज जिनका इस्तेमाल आपका शरीर एनर्जी के रूप में नहीं कर पाता है वो फैटी डिपॉजिट के रूप में आपके शरीर में जमा हो जाते हैं। इन्हें ही फैट यानी चर्बी कहा जाता है। शरीर इन कैलोरीज को इसलिए जमा करके रखता है, ताकि जरूरत पड़ने पर और एनर्जी की कमी होने पर वो इस फैट को बर्न करके एनर्जी में बदल सके।

रात का खाना होना चाहिए हल्का और सुपाच्य

डायटीशियन्स के मुताबिक आपका रात का खाना हमेशा हल्का और सुपाच्य होना चाहिए। भारतीय भोजन की बात करें, तो आप रात के खाने में कई तरह की खिचड़ी जैसे- साबूदाना खिचड़ी, मूंग दाल खिचली, दलिया और दाल की खिचड़ी आदि खा सकते हैं। इसके अलावा सलाद, रायता, 2 पतली चपाती, उबली हुई सब्जियां, कम तेल में पकी हुई हरी सब्जियां, करेले की सब्जी, रोस्टेड चिकन, लो-कैलोरी करीज और 1 छोटी कटोरी चावल आदि खा सकते हैं।
मगर यहां यह ध्यान रखें कि खाने के बाद तुरंत लेटने, बैठने या सोने से आपका खाना अच्छी तरह नहीं पच पाता है। इसलिए  रात का खाना खाने के बाद कम से कम 30 मिनट पैदल जरूर चलें।

देर रात खाया गया भोजन कब बढ़ाता है वजन?

जैसा कि शुरू में ही बताया जा चुका है कि रात के समय खाना खाने से आपका वजन नहीं बढ़ता है, बल्कि गलत चीजें खाने से वजन बढ़ता है। अगर आप देर रात तक जागकर पिज्जा, बर्गर, डोनट्स, कोल्ड ड्रिंक या बटर और स्टफ्ड पराठा आदि खाएंगे, तो आपका वजन बढ़ेगा ही, क्योंकि इनमें कैलोरीज की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। जबकि इनकी जगह अगर आप एक मीडियम साइज का केला या कुछ पनीर के टुकड़े या गाजर और कच्चे सलाद आदि खाते हैं, तो इससे आपका वजन नहीं बढ़ेगा।

इसे भी पढ़ें: इन 5 समय पर हाई कार्ब्स वाले आहार खाने से बढ़ता है मोटापा, स्लिम होना है तो रहें सावधान

देर रात में खाना खाने से हो सकता है एसिड रिफ्लक्स

हालांकि जो लोग यह बात कहते हैं कि रात का खाना जल्दी खा लेना चाहिए, वो भी पूरी तरह गलत नहीं है। दरअसल खाना खाने के बाद इसके पाचन की प्रक्रिया लगभग 2 घंटे बाद शुरू होती है। इसके अलावा जब आप सो जाते हैं, तो आपके शरीर के बहुत सारे फंक्शन्स बिल्कुल स्लो हो जाते हैं, जिनमें मेटाबॉलिज्म भी शामिल है। इसलिए अगर आप रात का खाना बहुत देर से खाते हैं और थोड़ी देर में ही लेट जाते हैं, तो आपका खाना ठीक से नहीं पच पाता है। कई बार पेट में पाचन के लिए बनने वाला एसिड लेटने के दौरान आपके पेट के बाहर निकल जाता है, जिससे सीने में जलन यानी एसिड रिफ्लक्स की समस्या हो जाती है। इससे बचने के लिए यह जरूरी है कि आप सोने से कम से कम 2-3 घंटे पहले खाना खा लें और खाने में मिर्च-मसाले और तेल का प्रयोग बहुत कम करें।

Read more articles on Weight Management in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK