• shareIcon

हर्बल चाय के भी हो सकते हैं कई नुकसान, प्रेग्‍नेंसी के समय भूल से भी न पिएं ये 10 तरह की चाय

महिला स्‍वास्थ्‍य By शीतल बिष्‍ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 12, 2019
हर्बल चाय के भी हो सकते हैं कई नुकसान, प्रेग्‍नेंसी के समय भूल से भी न पिएं ये 10 तरह की चाय

Herbal Tea During Pregnancy: गर्भावस्‍था एक ऐसा समय है, जब आपको अपनी एक विशेष देखभाल की जरूरत होती है, क्‍योंकि इस दौरान आपके द्वारा की जाने वाली लापरवाहियां आपको नुकसान पहुंचा सकती हैं। आइए हम आज आपको बताते हैं कि प्रेग्‍नेंसी के दौरा

यदि आप प्रेग्‍नेंट हैं और आप भी चाय के शौकीनों में से एक हैं और चाय की तलप आपको समय-समय सताती है, तो सावधान हो जाइए। क्‍योंकि चाय का अधिक सेवन या कैफीन की खपत गर्भावस्‍था के दौरान हानिकारक हो सकता है, इसलिए प्रेग्‍नेंसी में चाय का सेवन सीमित मात्रा में ही होना चाहिए। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप एड्राक वली चाय या एक कप हर्बल चाय, क्‍योंकि उन सभी में कैफीन की कुछ मात्रा होती है। आइए हम आपको बताते हैं कि प्रेग्‍नेंसी के दौरान आपको कौन-कौन सी हर्बल चाय के सेवन पर रोक लगानी होगी। 

प्रेग्‍नेंसी के दौरान हर्बल चाय (Herbal Tea During Pregnancy)

वैसे तो प्रेग्‍नेंसी के दौरान हर्बल चाय ज्यादातर हर्बल चाय का सेवन बहुत सुरक्षित होता है। लेकिन यह केवल तब तक है, जब तक सेवन सीमित मात्रा में किया जाए लेकिन अधिक सेवन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। हालांकि गर्भावस्था के दौरान हर्बल चाय के कुछ फायदे भी है लेकिन कुछ ऐसे भी चाय हैं, जिसके सेवन से बचना चाहिए।

प्रेग्‍नेंसी के दौरान इन 10 हर्बल चाय को कहें ना (10 Herbal Teas to Avoid During Pregnancy) 

चाय कोई भी हो हर किसी में कुछ मात्रा में कैफीन होता ही है, ऐसे में चाय के सेवन को प्रेग्‍नेंसी में प्रतिबंधित किया जाता है। आइए हम आपको बताते हैं कि आपको प्रेग्‍नेंसी के दौरान कौन-कौन सी चायों के सेवन को सीमित करना या बचना चाहिए। 

इसे भी पढें: कुछ ऐसे होते हैं प्रेग्‍नेंसी के शुरूआती लक्षण, इन्‍हें पहचाने और रखें ख्‍याल

  1. ग्रीन टी या माचा टी (Green Tea and Matcha Tea) (ग्रीन टी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है और फोलेट का अवशोषण कम करता है। लेकिन अगर आप ग्रीन टी के आदी हैं, तो आप दिन के 1 कप से ज्‍यादा न पिएं।)
  2. लीची की चाय (Lichee Tea)
  3. चक्र फूल की चाय (Anise Tea)
  4. एलोवेरा की चाय (Aloe vera Tea)  
  5. बरबेरी चाय (Barberry Tea) 
  6. कैमोमाइल चाय (Chamomile Tea)
  7. जिनसेंग चाय (Ginseng Tea)
  8. हिबिस्कस चाय (Hibiscus Tea)
  9. कावा चाय (Kava Tea)
  10. लेमनग्रास टी (Lemongrass Tea)

प्रेग्‍नेंसी के दौरान चाय के सेवन से क्‍यों बचना चाहिए? (Why Avoid Herbal Tea During Pregnancy)

अधिकतर हेल्‍थ एक्‍सपर्ट सलाह देते हैं कि प्रेग्‍नेंसी के दौरान चाय के सेवन को सीमित करना ही मां व आने वाले बच्‍चे के लिए फायदेमंद होता है। कुछ अध्ययनों के अनुसार, गर्भावस्था के दौरान 200 मिलीग्राम से अधिक कैफीन का बच्‍चे के कम जन्म के वजन के साथ जुड़ा है। कैफीन आसानी से अवशोषित होता है और नाल को स्वतंत्र रूप से पार करता है। 200 मिलीग्राम से अधिक कैफीन का सेवन करने से प्लेसेंटा में रक्त का प्रवाह 25 प्रतिशत तक कम हो जाता है। इसके अलावा, कैफीन गर्भावस्था की लंबाई 5 घंटे प्रति 100 मिलीग्राम तक बढ़ाता है। और यदि आप एक कॉफी पीने वाले हैं, तो गर्भावस्था की अवधि और भी लंबी हो जाती है।

इसे भी पढें: प्रेग्नेंट कल्कि कोचलिन 'वाटर बर्थ' के जरिए देना चाहती हैं बच्चे को जन्म, जानें क्या है ये

गर्भावस्था के अन्‍य चाय के मुकाबले हर्बल चाय के फायदे (Benefits of Herbal Tea During Pregnancy)

यदि आपको चाय पीने की बुरी लत है और आप इसके बिना नहीं रह सकते हैं, तो आप अन्‍य कैफीनयुक्‍त चाय के बजाय हर्बल टी का सेवन कर सकते हैं। यह एक बुद्धिमानी वाला फैसला होगा। कैफीनयुक्त पेय पदार्थों में मूत्रवर्धक प्रभाव होता है, जो पोषक तत्वों के अवशोषण को कम करता है और अधिवृक्क ग्रंथियों को नष्ट करता है। दूसरी ओर, हर्बल चाय, हाइड्रेटिंग है और आपके शरीर को एंटीऑक्सिडेंट प्रदान करती है। हर्बल चाय विटामिन सी से भरपूर होती है, जो तनाव और चिंता को दूर करने में मदद करती है। कुछ हर्बल चाय सुबह की सुस्‍ती को कम करने में मदद करती हैं और गर्भाशय को श्रम के लिए तैयार करती हैं।

Read More Article On Women's Health In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK