मुंह के छाले और अपच का कारण कहीं फोलेट की कमी तो नहीं? जानें folate और folic acid का अंतर और 4 खाद्य पदार्थ

Updated at: Jan 24, 2021
मुंह के छाले और अपच का कारण कहीं फोलेट की कमी तो नहीं? जानें  folate और folic acid का अंतर और 4 खाद्य पदार्थ

हम से बहुत से लोग फोलेट और फोलिक एसिड को लेकर कंफ्यूज रहते हैं। तो, आइए जानते हैं इस दोनों के बीच का अंतर और फिर फोलेट से भरपूर कुछ खाद्य पदार्थ।

Pallavi Kumari
स्वस्थ आहारWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jan 24, 2021

फोलेट (Folate) और फोलिक एसिट (Folic Acid) पानी में घुलनशील विटामिन-बी (Vitamin-B)के प्रकार हैं। ज्यादातर लोगों को फोलेट और फोलिक एसिड दोनों एक ही लगते हैं, पर इन दोनों में थोड़ा सा अंतर है (difference between folate and folic acid in hindi)। दरअसल, फोलेट आपको नेचुरल तरीके से खाद्य पदार्थों के जरिए मिलता पर जब आप इसके सप्लीमेंट या सिंटेथिक फॉर्म में लेते हैं, तो फोलिक एसिड कहलाता है। यानी कि जब फोलेट को दवाइयों के रूप में लेंगे, तो वो फॉलिक एसिड कहलाएगा। पर क्या आप जानते हैं कि हमारे शरीर के लिए फोलेट या फोलिक एसिड क्यों जरूरी है? नहीं, तो आइए आज हम आपको बताएंगे कि क्यों शरीर के लिए जरूरी है फोलेट, फोलिक एसिड की कमी के लक्षण (symptoms of deficiency of folic acid) और इसे पाना का नेचुरल उपाय (folic acid foods in hindi)

insidefolicacid

शरीर के लिए क्यों जरूरी है फोलेट या फोलिक एसिड-What is folic acid used for?

शरीर के लिए हर माइक्रोन्यूट्रिएंट्स जरूरी होता है। ऐसा इसलिए कि ये शरीर के छोटे-छोटे कामों में मदद करता है। इसलिए फोलेट और फोलिक एसिड भी शरीर के लिए जरूरी है जैसे कि 

  • - सबसे पहले शरीर में रेड ब्लड सेल्स (Red Blood Cells) को बनाने में मदद करता है और उनका विकास करता है।
  • -ये शरीर के डीएनए फॉर्मेशन (DNA Creation) में शामिल होता है। 
  • -ये पेट के हाजमे को मजबूत बनाता है और इसे शरीर के काम करने में मदद करता हैष
  • -ये मस्तिष्क के नर्व फंक्शन को सही रखने में भी मदद करता है।

इसे भी पढ़ें : इन 5 परेशानियों से निजात दिला सकता है गन्ने का जूस, Rujuta Diwekar से जानें गन्ने का जूस पीने का सही समय

फोलेट की कमी के लक्षण- Deficiency of folate

जब आप खाने में फोलेट से भरपूर चीजों को नहीं लेते हैं, तो आपके शरीर में फोलेट की कमी या फोलिक एसिड की कमी (deficiency of folic acid)हो सकती है। इसके अलावा लोगों को फोलेट की कमी तब भी होती है, जब उन्हें कोई ऐसी बीमारी हो जो कि शरीर में कोई जीन का म्यूटेशन कर दें और शरीर को फोलेट को प्राप्त करने और इसे चीजों से लेने में मुश्किल हो। फोलेट या फोलिक एसिड की कमी से शरीर में कुछ खास लक्षण नजर आते हैं (symptoms of deficiency of folic acid in hindi)

  • -मुंह में बार-बार छाले होना, फोलिक एसिड की कमी के मुख्य लक्षणों में से एक है।
  • -जीभ में सूजन आ जाना।
  • -शरीर में थकान रहना भी फोलेट या फोलिक एसिड की कमी का संकेत है।
  • -बालों का जल्दी सफेद हो जाना भी फोलेट की कमी का लक्षण है।

इसके अलावा कुछ लोगों को फोलेट की कमी के कारण एनीमिया वाले लक्षण भी महसूस होते हैं। जैसे कि कुछ लोगों को कमजूरी और सुस्ती होती है। तो कुछ लोगों की त्वचा पीली पड़ जाती है, सांस लेने में तकलीफ होती और व्यक्ति के अंदर चिड़चिड़ापन बढ़ जाता है।

insideswellingintongue

इसे भी पढ़ें : मस्तिष्क से लेकर वजन घटाने तक फायदेमंद है तिलापिया मछली (Tilapia Fish) का सेवन, एक्सपर्ट से जानें इसके 7 फायदे

फोलेट से भरपूर खाद्य पदार्थ - Folic acid foods

फोलिक एसिड या फोलेट शरीर के लिए बहुत जरूरी है इसलिए हमें इससे भरपूर खाद्य पदार्थों को डाइट में शामिल करना चाहिए। जैसे कि

1. एवोकैडो (Acocado)

एवोकैडो फोलेट से भरपूर है। आपको जानकर हैरानी होगी कि 1 एवोकैडो के आधे टूकड़े में 82mcg फोलेट होता है। इसलिए आपको एवोकैडो को अपने डाइट में शामिल करना चाहिए।

2.ब्रोकली (Broccoli)

एक कप ब्रोकली में 57 mcg फोलेट होता है, जिसे पका कर खाने से आपके शरीर को अच्छी मात्रा में फोलिक एसिड मिल सकता है।

3. हरी पत्तेदार सब्जियां (Leafy Vegetables)

1 कप पत्ते दार सब्जी, जैसे कि पालक और पत्तो गोभी में कम से कम 100 mcg फोलेट होता है। इसलिए आपको इन्हें अपने खाने में शामिल करना चाहिए।

4. पपीता (Papaya)

पपीता शरीर के लिए बहुत फायदेमंद है। एक ग्राम पपीते में 53mcg फोलेट होता है, जो कि शरीर के लिए कई मायनों में फायदेमंद है।

तो, अपने खाने में इन 4 चीजों को शामिल करें, ताकि आपके बाल जल्दी सफेद न हो, न ही आपके मुंह में छाले हों और ना ही आप थके हुए और सुस्त रहें। इस तरह से फोलेट आपकी डाइट को हेल्दी और आपको स्वस्थ रख सकता है।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK