डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद 15 डेली फूड्स, शुगर कंट्रोल के लिए खाने में जरूर करें शामिल

डायबिटीज के मरीजों की संख्या में वृद्धि चिंता का विषय है। ऐसे में किचन में मौजूद कुछ चीजें इस समस्या को दूर करने में बेहद उपयोगी हैं।

 
Garima Garg
स्वस्थ आहारWritten by: Garima GargPublished at: Jun 22, 2021
Updated at: Jun 22, 2021
डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद 15 डेली फूड्स, शुगर कंट्रोल के लिए खाने में जरूर करें शामिल

जब ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा ज्यादा हो जाती है तो इस स्थिति को डायबिटीज कहा जाता है। वहीं लक्षणों के तौर पर शरीर में थकान महसूस करना बार-बार पेशाब जाना, आंखों की रोशनी का कम होना, शरीर में लगातार दर्द रहना, व्यवहार में चिड़चिड़ापन, जरूरत से ज्यादा भूख लगना, अचानक वजन का कम होना या ज्यादा होना आदि यह सब डायबिटीज के लक्षण हैं। ऐसे में जीवन शैली में थोड़ा सा बदलाव करके समस्या को नियंत्रित कर सकते हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए आप अपने खानपान में किन चीजों को जोड़ सकते हैं। इसके लिए हमने न्यूट्रिशनिस्ट और वैलनेस एक्सपर्ट वरुण कत्याल ( wellness expert and nutritionist varun katyal) से भी बात की है।  पढ़ते हैं आगे...

 

डाइट में जोड़ें ये 15 चीजें

1 - आंवला, हल्दी और मेथी- बराबर मात्रा में हल्दी, मेथी के दाने और आमला लें और इनको पीस लें। 3 महीने तक दिन में तीन बार साधारण पानी से इस पाउडर का सेवन करें। ऐसा करने से डायबिटीज का जोखिम कम हो सकता है।

2 - अदरक का सेवन - डायबिटीज के मरीज रोज ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए अदरक का सेवन कर सकते हैं।

3 - ब्लैक टी और कलौंजी - सुबह की शुरुआत एक कप ब्लैक टी में कलौंजी के तेल को मिलाकर की जा सकती है ऐसा करने से भी डायबिटीज नियंत्रित रहेगी।

4 - नींम के पत्तों का सेवन - डायबिटीज के मरीज हफ्ते में दो बार नीम के पत्तों का पेस्ट पानी में घोलकर पिएं।

5 - करी पत्तों का सेवन - अगर खाना बनाते वक्त करी के पत्तों की मात्रा ज्यादा की जाए तो डायबिटीज को कम किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- गर्मी में चीनी की जगह इस्तेमाल करें ये 5 मीठी चीजें, डायबिटीज और मोटापा कंट्रोल करने में मिलेगी मदद

6 - करेले और नींबू का सेवन - करेले के रस में नींबू के रस को मिलाकर सेवन करने से डायबिटीज नियंत्रित रह सकती है।

7 - बादाम का सेवन - बदाम खाने से शरीर में ग्लूकोज का स्तर सामान्य रहता है। ऐसे में डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए बादाम को रात भर भिगोएं और सुबह उठकर छिलके छिलकर इसका सेवन करें।

8 - दालचीनी पाउडर का सेवन - दालचीनी पाउडर को गुनगुने पानी के साथ मिलाएं और इसका सेवन करें डायबिटीज कंट्रोल में रह सकती है।

9 - मेथी दानों का सेवन - रात को सोने से पहले मेथी के दाने भिगोएं और सुबह उठते ही उसका पानी पिएं। साथ ही दानों को चबाकर खाएं। ऐसा करने से डायबिटीज कंट्रोल हो सकते हैं।

10 - एलोवेरा जूस का सेवन - एलोवेरा के जूस का सेवन दिन में दो बार करने से भी डायबिटीज के मरीजों को राहत पहुंचती है।

इसे भी पढ़ें- हरे सेब का जूस पीने से शरीर को मिलते हैं ये 9 फायदे, डायबिटीज रोगियों को भी मिलता है लाभ

11 - सलाद का सेवन - सुबह खाली पेट नाश्ते में संतरे और टमाटर की सलाद खाने से भी डायबिटीज को कम किया जा सकता है।

12 - आंवले के पाउडर में नींबू - आंवले के पाउडर में आधा नीबू निचोड़ लें और फिर एक गिलास पानी के साथ सेवन करें।

13 - ग्रीन टी का सेवन - नियमित रूप से ग्रीन टी पीने से भी डायबिटीज को नियंत्रित किया जा सकता।

14 - अमरूद का सेवन - डाइट में अमरूद के साथ-साथ अमरूद के पत्तों का काढ़ा भी डायबिटीज को नियंत्रित रख सकता है।

15 - लहसुन की कली का सेवन - खाली पेट दो लहसुन की कली खाने से भी डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- डायबिटीज और मोटापे को कंट्रोल करे मैकाडामिया नट्स, जानिए इसके 10 फायदे और कुछ नुकसान

इन बातों का रखें ख्याल

1 - डायबिटीज के मरीज जरूरी खानपान के साथ नियमित रूप से व्यायाम और मॉर्निंग वॉक करें।

2 - डायबिटीज के मरीज एक साथ भारी खाना ना खा कर धीरे-धीरे हल्के खाने का सेवन करें।

3 - शुगर मॉनिटरिंग में लापरवाही सही नहीं है इसके लिए दिन में अलग-अलग समय पर शुगर लेवल चेक करते रहें।

इसे भी पढ़ें- बेकार नहीं है करेले का बीज, डायबिटीज के मरीज जानें करेले के बीज के 5 फायदे और इस्तेमाल का तरीका

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि डायबिटीज से राहत पाने के लिए आप खानपान में बदलाव कर सकते हैं और इस समस्या को दूर कर सकते हैं लेकिन डायबिटीज के मरीजों को अपनी डाइट में बदलाव करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह लेनी जरूरी होती है। ऐसे में ऊपर बताई गई किसी भी चीज का सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Read More Articles on Healthy diet in hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK