डायबिटिक पेशेंट के लिए कौन सी ब्रेड होती है बेहतर जिसे खाकर नहीं बढ़ता ब्लड शुगर, जानें कैसे चुनें सही ब्रेड

Updated at: Jan 03, 2020
डायबिटिक पेशेंट के लिए कौन सी ब्रेड होती है बेहतर जिसे खाकर नहीं बढ़ता ब्लड शुगर, जानें कैसे चुनें सही ब्रेड

डायबिटिक पेशेंट के लिए खाने का सही विकल्प चुनना बहुत जरूरी है। इसलिए ब्रेड चुनते वक्त ये सावधानियां जरूर बरतें।

 

Jitendra Gupta
स्वस्थ आहारWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Jan 03, 2020

डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है, जिसमें आपकी रक्तधारा में ग्लूकोज का स्तर काफी बढ़ जाता है। यह स्थिति तब होती है जब आपका शरीर इंसुलिन को ठीक से संसाधित नहीं कर पाता है। ऐसा तब भी होता है जब आपके पैनक्रियाज पर्याप्त रूप से इंसुलिन का उत्पादन नहीं कर पाते। अगर आपको डायबिटीज है तो सही फूड का चुनाव करना आपके लिए हमेशा मुश्किल रहता है। ऐसी बहुत सी चीजें, जिन्हें नजरअंदाज करने की जरूरत होती है। ज्यादातर स्वादिष्ट फूड आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ा देते हैं आपको मिठाई, कुछ फलों और तो और कुछ सब्जियों से बचना पड़ता है। इनके अलावा आपको रिफाइनड कार्ब को भी न कहना चाहिए। मौजूदा वक्त में ब्रेड हमारी डाइट का एक हिस्सा बन चुकी है। ये न केवल हमारा पेट भरने में फायदेमंद है बल्कि ये सस्ती भी होती है। लेकिन ये कार्बोहाइड्रेट से भरी होती है। हालांकि बाजार में ब्रेड के कई हेल्दी विकल्प मौजूद हैं। आप ऐसे हेल्दी विकल्प तलाश सकते हैं, जो आपका ब्लड शुगर नहीं बढ़ाएंगे। लेकिन आपको सबसे पहले कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। 

diabetic patient

ब्रेड खरीदते वक्त न करें ये गलतियां

ग्लूटेन फ्री का मतलब लो कार्ब नहीं

यह एक ऐसी आम गलती है, जिसे ज्यादातर लोग अपनी ब्रेड चुनते वक्त करते हैं। वे सोचते हैं कि ये ग्लूटेन फ्री है तो इसमें लो कार्ब भी होंगे। लेकिन ये एक गलत धारणा है। अगर इसमें से ग्लूटेन निकाल भी दिया जाता है तो वास्तव में आपकी ब्रेड कार्ब और कैलोरी से भर भी सकती है। इसलिए अगर आप ग्लूटेन के प्रति सहनशील नहीं हैं तो इस प्रकार की  ब्रेड से दूर रहना ही बेहतर होगा।

इसे भी पढ़ेंः 5 सुपरफ्रूट आपको रखेंगे 2020 में भी चुस्त और दुरुस्त, जानें इनसे होने वाले फायदे

मल्टी ग्रेन ब्रेड फाइबर युक्त नहीं होती

अगर आप डायबिटीक हैं तो आपको अपने खाने में फाइबर की मात्रा बढ़ाने की जरूरत है। लेकिन अगर आप मल्टी ग्रेन ब्रेड खा रहे हैं तो आप ऐसा नहीं कर रहे हैं। ऐसी मशहूर धारणा के विपरित मल्टीग्रेन ब्रेड में ज्यादा फाइबर नहीं होता है। इसमें केवल अनाज की मात्रा थोड़ी ज्यादा होती है।

diabetic patient

एनरिचड ब्रेड नहीं होती है सेहतमंद

इस प्रकार की ब्रेड आपको बेकरियों में काफी लुभावनी दिखाई देती हैं। लेकिन ये हेल्दी नहीं होती हैं। यह एक प्रकार की रिफाइन्ड ब्रेड होती है और इसकी बाहरी कोटिंग, चोकर और कर्नेल के रोगाणु इसे बनाने की प्रक्रिया के दौरान हटा दिए जाते हैं। इसलिए इसके सारे विटामिन्स और मिनरल्स भी निकल जाते हैं, जिसके कारण ये हेल्दी नहीं रहती ।

इसे भी पढ़ेंः आखिर क्यों आपके लिए फायदेमंद है इंटरमिटेंट फास्टिंग, जानें वजन घटाने के साथ मिलते हैं कौन से फायदे

साबुत गेहूं की ब्रेड (Whole Wheat Bread)

ये ब्रेड हेल्दी होती है और ये फाइबर से भरी होती है। ये आपका पेट लंबे समय तक भरा रखती है, जिसके कारण आप कम खाते हैं। अगर आप डायबिटीज कंट्रोल करना चाहते हैं तो ये आपके लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती है। इतना ही नहीं ये वजन कम करने में भी आपकी मदद करती है।

Buy Online: TWF Flour X - Whole Wheat Bread Flour 2lb (907g) | Versatile Baking Flour | Beta Product (1 Qty) & MRP.499.00/- only.

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK