वजन घटाने के लिए डायबिटीज के मरीज खाएं हल्दी से बनी ये 5 रेसिपीज, शुगर और हाई कोलेस्ट्रॉल भी होगा कंट्रोल

Updated at: Jan 22, 2021
वजन घटाने के लिए डायबिटीज के मरीज खाएं हल्दी से बनी ये 5 रेसिपीज,  शुगर और हाई कोलेस्ट्रॉल भी होगा कंट्रोल

ये 5 हेल्‍दी रेस‍िपीज़ आप डायब‍िटीज़ में खा सकते हैं पर ध्‍यान रखें क‍ि रेस‍िपीज़ में चीनी, नमक और तेल की मात्रा को कम से कम रखें।

Yashaswi Mathur
स्वस्थ आहारWritten by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 22, 2021

क्‍या आपको पता है डायब‍िटीज़ में हल्‍दी खाना क‍ितना फायदेमंद है? हल्‍दी खाने से शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है और वजन भी जल्‍दी नहीं बढ़ता। डायब‍िटीज़ के मरीज़ों को रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने के ल‍िये कहा जाता है। हल्‍दी खाने से डायब‍िटीज़ में शरीर जल्‍दी-जल्‍दी बीमार‍ियों का श‍िकार नहीं होता और कोलेस्‍ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल में रहता है। हल्‍दी में करक्‍यूमिन नाम का तत्‍व होता है जो डायब‍िटीज़ से लड़ने में हमारी मदद कर सकता है। इन सब बातों को ध्‍यान में रखते हुए आज हम बनायेंगे हल्‍दी की 5 हेल्‍दी रेस‍िपीज़ जो आपने आज से पहले डायब‍िटीज़ में नहीं खाई होगी। इन रेस‍िपीज़ को जानने के ल‍िये हमने बात की The Nutriwise Clinic, लखनऊ की  न्‍यूट्रि‍शन‍िस्‍ट नेहा सिन्‍हा से और हल्‍दी के गुणों पर बात की।

haldi curry in diabeties

1. हल्दी का सब्जी (Benefits of haldi and black pepper in diabeties)

हल्‍दी की सब्‍जी राजस्‍थान में शौक से बनाई और खाई जाती है। हस रेस‍िपी के 2 मेन सामग्री है हल्‍दी और काली म‍िर्च और दोनों का म‍िश्रण डायब‍िटीज़ में फायदेमंद माना जाता है। इस म‍िश्रण से डाइजेशन अच्‍छा रहता है। डाइजेशन अच्‍छा रहेगा तो आपका वजन घटाने में मदद म‍िलेगी। हल्‍दी में औषधीय गुण होते हैं जबक‍ि काली म‍िर्च में प‍िपेर‍िन नाम का तत्‍व पाया जाता है जो डायब‍िटीज़ मरीजों के ल‍िये अच्‍छा होता है। अगर शरीर में दर्द या घबराहट है तो भी हल्‍दी और काली म‍िर्च का म‍िश्रण आपको आराम पहुंचायेगा। चल‍िये सीखते हैं हल्‍दी की सब्‍जी बनाने का तरीका।               

सामग्री

  • कच्ची हल्दी की गांठ
  • मूंग दाल 
  • टमाटर का पेस्ट
  • हरी मिर्च 
  • दही (फेंटा हुआ)
  • हींग
  • काली म‍िर्च पाउडर  
  • लाल मिर्च पाउडर
  • धनिया पाउडर
  • सौंफ पाउडर
  • गरम मसाला
  • जीरा
  • नमक स्वादानुसार
  • घी 

विधि

  • हल्‍दी की गांठ को धोकर छील लें। उसको कद्दूकस करके रख लें।    
  • थोड़ी सी मूंग दाल को भी पीसकर पेस्‍ट बना लें।
  • पैन में खी गरम करें। उसमें घि‍सी हुई हल्‍दी डालकर भून लें। 
  • दूसरे पैन में घी गरम कर सारे मसाले डालकर भूनें और उसमें टमाटर का पेस्‍ट डाल दें। 
  • पक जाने पर उसमें मूंग दाल पेस्‍ट डालकर भूनें।
  • मसाला भुनते ही उसमें दही डालें और सारे म‍िश्रण को म‍िला लें। 
  • उबाल आने के बाद नमक डालें।
  • कच्‍ची हल्‍दी की सब्‍जी तैयार है। धन‍िया डालकर सर्व करें।  

2. हल्दी राइस (Benefits of haldi and brown rice in diabeties)

haldi rice in diabeties

इस रेस‍िपी में हल्‍दी-काली म‍िर्च के गुण तो हैं ही पर साथ में खास डायब‍िट‍िक मरीज़ों के ल‍िये हमने इसमें ब्राउन राइस का इस्‍तेमाल क‍िया है। ब्राउन राइस से कोलेस्‍ट्राल कंट्रोल में रहता है और शुगर लेवल नहीं बढ़ता। इससे द‍िल की धम‍नि‍यां भी ठीक रहती हैं और वजन भी जल्‍दी से नहीं बढ़ता। ब्राउन राइस में मैग्‍न‍िश‍ियम की भी अच्‍छी मात्रा होती है जो आपकी हड्डि‍यों के ल‍िये अच्‍छा माना जाता है। आप चावल के साथ ढेर सारा सलाद खायें। इससे आप कम चाावल कंज्‍यूम करेंगे। इस तरह आप कोई भी इंड‍ियन ड‍िश को हेल्‍दी बना सकते हैं। हल्‍दी के राइस वेस्‍ट ज़ोन में खाए जाते हैं। ये रेस‍िपीज़ बनने में आसान भी है और खाने में हेल्‍दी भी। 

सामग्री 

  • 1 कप ब्राउन राइस 
  • जीरा 
  • तेज पत्‍ता 
  • दालचीनी 
  • लौंग 
  • काली म‍िर्च
  • हल्‍दी
  • घी धन‍िया पत्‍ती 
  • नमक स्‍वाद अनुसार  

व‍िध‍ि 

  • चावल को भ‍िगोकर उबालकर रख लें। 
  • पैन में घी गरम करें। उसमें सभी मसाले डालकर भूनें। 
  • कच्‍ची हल्‍दी को साफ करके पीस लें। पेस्‍ट को कढ़ाई में डालकर भूनें।   
  • उबले हुए चावल को म‍िश्रण के साथ डालकर म‍िलायें। 
  • पानी और नमक डालकर ढककर पकायें। 
  • धनि‍या पत्ती से सजाकर परोस सकते हैं।  

3. हल्‍दी का पराठा  (Whole grain and haldi benefits)

आपको डायब‍िटीज़ है तो आपके ल‍िये साबुत अनाज अच्‍छा रहेगा। हमारी इस रेस‍िपी में आप सीखेंगे क‍ि हल्‍दी के पराठे कैसे बनते हैं। इन पराठों की खास बात ये है क‍ि इन्‍हें साबुत अनाज यानी की होल ग्रेन आटे से तैयार क‍िया जा सकता है। इस आटे में फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है। इससे आपका पाचन तंत्र ठीक रहता है। डायब‍िटीज़ मरीजों की सबसे बड़ी परेशानी होती है  ब्‍लड शुगर बढ़ना पर हल्‍दी के हेल्‍दी पराठे खाने से आपका शुगर लेवल भी न‍ियंत्रण में रहेगा।      

सामग्री 

  • होल ग्रेन आटा 
  • कच्‍ची हल्‍दी 
  • सरसों का तेल 
  • अजवाइन 
  • जीरा 
  • हींग   
  • नमक 

व‍िधि 

  • बर्तन में आटा गूंथकर रख लें। 
  • हल्‍दी को छीलकर उसे म‍िक्‍सी में चलाकर पाउडर बना लें।  
  • पैन में तेल गरम करें हल्‍दी पाउडर को तेल में भून लें। 
  • तड़के के ल‍िय‍े सारे मसालों को डालकर हल्‍दी में म‍िला लें। 
  • म‍िश्रण को आटे की लोई में भरकर पराठा बना लें। 
  • तवे पर दोनों तरफ तेल लगाकर सेक लें। 
  • आपके हल्‍दी के पराठे तैयार हैं।

इसे भी पढ़ें- त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए बहुत फायदेमंद है कच्ची हल्दी, एक्सपर्ट से जानें क्या है इस्तेमाल करने का तरीका

4. हल्दी की बर्फी (Haldi ki Barfi recipe) 

haldi ki barfi in diabeties

हम अक्‍सर ये सोचते हैं क‍ि डायब‍िटीज़ में मीठा नहीं खा पायेंगे जबक‍ि हमारी फल और सब्‍ज‍ियों में नैचुरल स्‍वीटनेस होती है इसल‍िये मीठे को पूरी तरह से छोड़ पाना मुमक‍िन नहीं है। कुछ लोगों को डायब‍िटीज़ के साथ-साथ मीठा खाने का शौक होता है पर हाई शुगर लेवल में वो मीठा चख तक नहीं पाते। इस परेशानी को ध्‍यान में रखते हुए हमने लेख में आपके ल‍िये एक मीठी रेस‍िपी भी जोड़ी है ज‍िसका नाम है हल्‍दी की बर्फी। ये खाने में बेहद लजीज़ पर कम मि‍ठास के साथ बनाई गई है ताक‍ि आप इसे ब‍िना डर खा सकें। आपको इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि द‍ि‍न में 1 ही पीस खायें।

सामग्री 

  • 1 कप कच्ची हल्दी
  • होल ग्रेन आटा 
  • घी
  • मिक्स ड्राई फ्रूट
  • गुड़
  • सौंठ पाउडर
  • काली मिर्च पाउडर

व‍िधि 

  • बर्फी बनाने के ल‍िये कच्‍ची हल्‍दी को धो लें और छीलकर म‍िक्‍सी में पीस लें। 
  • पेन में घी डालकर पेस्‍ट को भून लें। 
  • उसमें आटा डालकर उसे भूनें। जब आटा तेल छोड़ने लगे तो समझें पक गया है। 
  • गुड़ के टुकड़े डालें और थोड़ा सा पानी डालें ज‍िससे वो मेल्‍ट हो। 
  • सोंठ, काली म‍िर्च पाउडर म‍िलायें। 
  • उसको थाली में सेट करें और ड्राइफ्रूट डाल दें। 
  • छोटे-छोटे पीस काटकर खा सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- कच्ची हल्दी या हल्दी की गांठ है ज्यादा स्वास्थ्यकारी, जानें हल्दी पाउडर की जगह क्यों करें इनका इस्तेमाल

5. हल्‍दी का सूप (Haldi improves immune system)

सर्दी हो या बुखार हल्‍दी मौसम की सभी बीमार‍ियों में गुणकारी मानी जाती है। ज‍िन लोगों को डायब‍िटीज़ है वो ये बात अच्‍छी तरह समझते होंगे क‍ि बीमारियां उन्‍हें क‍ितना जल्‍दी जकड़ लेती हैं क्‍योंक‍ि डायब‍िटीज़ के मरीजों का इम्‍यून स‍िस्‍टम कमजोर हो जाता है। रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाने के ल‍िये आप हल्‍दी का सूप पी सकते हैं। इसमें आपको सभी पोषक तत्‍व म‍िलेंगे। जो बच्‍चे हल्‍दी पीने के नाम से नाक स‍िकोड़ते हैं उन्‍हें भी आप ये हेल्‍दी सूप प‍िला सकते हैं। चल‍िये सीखते हैं हल्‍दी के सूप की रेस‍िपी। 

सामग्री 

  • कच्‍ची हल्‍दी
  • प्‍याज
  • अदरक 
  • लहसुन 
  • गाजर, पालक
  • ऑलिव ऑयल
  • नमक 
  • काली म‍िर्च 
  • लाल म‍िर्च  

व‍िध‍ि 

  • एक बर्तन में ऑल‍िव ऑयल गरम करें। 
  • गरम तेल में प्‍याज भून लें। उसमें कच्‍ची हल्‍दी, लहसुन और अदरक घ‍िसकर डालें। म‍िश्रण को अच्‍छी तरह से भून लें। 
  • म‍िश्रण में सारी सब्‍ज‍ियां और मसाले डालकर पकायें।
  • बर्तन में पानी डालकर गाढ़ा होने तक पकायें। 
  • गरम-गरम हल्‍दी का सूप तैयार है। इसमें नींबू डालकर पियें। 

हल्‍दी की ये रेस‍िपी हेल्‍दी भी हैं और टेस्‍टी भी। आप इन्‍हें डायब‍िटीज़ में खा सकते हैं पर अपने डायटीश‍ियन से सलाह जरूर लें। 

Read more on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK