दिल्ली में बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले, जानें कोरोना काल में डेंगू की मार से बचने के लिए कुछ आसान घरेलू उपाय

Updated at: Aug 07, 2020
दिल्ली में बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले, जानें कोरोना काल में डेंगू की मार से बचने के लिए कुछ आसान घरेलू उपाय

कोरोनावायरस महामारी के बीच इस मौसम में मच्छरों से होने वाली बीमारियों से बचना भी बेहद जरूरी है, क्योंकि ये आपके इम्यूनिटी पर हमला कर सकती है।

Pallavi Kumari
घरेलू नुस्‍खWritten by: Pallavi KumariPublished at: Aug 07, 2020

कोरोनावायरस महामारी के बीच, इस मौसम में मच्छरों से फैलने वाली बीमारियों के खतरे भी मड़राने लगे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि दिल्ली में अब मच्छर जनित बीमारियों जैसे कि डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया के मामले भी सामने आ रहे हैं। दिल्ली के तीनों नगर निगमों द्वारा जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, शहर में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया के 73 मामले दर्ज किए गए हैं। इन 73 मामलों में से 38 मलेरिया के, 22 डेंगू के हैं, और शेष 13 चिकनगुनिया के हैं। हालांकि, वर्तमान गिनती के बारे में अधिकारी काफी आशावादी हैं। उनका मानना है कि स्थिति नियंत्रण में है क्योंकि पिछले वर्ष की तुलना में इन आंकड़ों में इस साल 30 प्रतिशत की कमी आई है। 2019 में, शहर ने इस समय में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया के 107 मामले दर्ज किए थे। 

insidedenguefever

पर कोरोना महामारी के देखते हुए आपको इन बीमारियों से बचाव के लिए खुद को तैयार रखना चाहिए। इसकी बारे में OnlyMyHealth ने ग्रेटर नोएडा के कैलाश नैचुरोपैथी हॉस्पिटल के आयुर्वेद के जानकार डॉक्‍टर उमाशंकर शर्मा से बात की। डॉक्‍टर. उमाशंकर शर्मा बताया कि कोरोनावायरस महामारी के बीच डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों का होना आपकी इम्यूनिटी को और  कमजोर कर सकता है। कमजोर इम्यूनिटी के कारण वो लोग भी कोरोनावायरस के शिकार हो सकते हैं, जो अभी तक इससे बचे हुए हैं। इसलिए जरूरी है पहले तो आप खुद को डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों से बचा कर रहें और दूसरा अगर गलती से आप इनके शिकार हो गए हैं, तो शरीर में प्लेटलेट्स (platelets count) को बढ़ाएं और उसे घटने न दें। वहीं डॉक्‍टर. उमाशंकर शर्मा ने इसके लिए कुछ घरेलू उपाय भी बताएं हैं, आइए जानते हैं इनके बारे में।

1. दिन में दो बार पिएं गिलोय वाला दूध

डॉक्‍टर. उमाशंकर शर्मा बताते हैं कि गिलोय का रस डेंगू बुखार के लिए सबसे अच्छे उपचारों में से एक है। यह आपके चयापचय में सुधार करता है और आपकी इम्यूनिटी को मजबूत बनाता है। इससे आपका शरीर अधिक प्रभावी ढंग से डेंगू बुखार से लड़ने में सक्षम है। इसके अलावा, यह प्लेटलेट काउंट को भी बढ़ाता है और रोगी को राहत देता है। इसके लिए बस एक गिलास दूध में गिलोय के जड़ों को कूट कर मिला लें और उसे उबाल लें। इसे थोड़ा ठंडा होने दें और फिर इसे पी लें। ऐसा दिन में दो बार करें। साथ ही आजकल गिलोय का जूस और टेबलेट्स दोनों बाजार में उपलब्ध है। आप एक कप उबले हुए पानी में दो बूंद डालकर दिन में दो बार पी सकते हैं और टेबलेट्स को दूध के साथ खा सकते हैं।

insidegiloyleaf

इसे भी पढ़ें : क्यों माना जाता है डेंगू को खतरनाक? जानें डेंगू बुखार के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

2. पपीते का अर्क और बकरी का दूध

पपीते के कुछ पत्तों को पीसकर रस निकाल लें और इसका सेवन करें। इससे आसानी से प्लेटलेट काउंट बढ़ता है। वहीं आप दूसरा काम ये भी कर सकते हैं कि पपीते के पत्तों के निकले अर्क को आप बकरी के दूध में मिलाकर पी सकते है। ये आपकी इम्यूनिटी को बड़ी तेजी से बूस्ट करेगा। बेहतर परिणाम के लिए दिन में दो बार पपीते के पत्तों के रस की थोड़ी मात्रा का सेवन करें और रात में बकरी का दूध पीकर सोएं।

insidegoatmilk

3. अमरूद का जूस

अमरूद का जूस में सबसे आसानी से ज्यादा मात्रा में विटामिन सी मिल सकता है। डॉक्‍टर. उमाशंकर शर्मा बताते हैं कि इस समय संतरा भी बाजार में मिल जाएगा पर अमरूद इस मौसम में आपको सस्ते दामों में ज्यादा से ज्यादा मिल जाएगा। ऐसे में संतरे की जगह अमरूद का जूस पिएं। यह विटामिन सी में समृद्ध है, जो कि इम्यूनिटी बढ़ाता है। लेकिन सुनिश्चित करें कि आपके पास ताजा अमरूद का रस हो जिसे आपने अपने घर पर ही बनाया हो। एक कप जूस दिन में दो बार पिएं। वैकल्पिक रूप से, आप जूस के बजाय एक ताजा अमरूद भी खा सकते हैं। इस तरह आप जितनी तेजी से शरीर में प्लेटलेट्स बढ़ाएंगे और इम्यूनिटी बढ़ाएंगे उतनी तेजी से आप ठीक होते जाएंगे।

insidegauvajuice

इसे भी पढ़ें : Dengue Diet: डेंगू होने पर डाइट में शामिल करें ये 5 चीजें, बढ़ेंगे प्लेटलेट्स और जल्द मिलेगा आराम

इन चीजों के अलावा डॉक्‍टर. उमाशंकर शर्मा की सबसे बड़ी सलाह ये कि बीमारियों से बचाव सबसे पहली जरूरत है। इसके बाद आते हैं इनके ये उपचार। इसलिए पहले को कोरोना से बचाने के लिए खुद की इम्यूनिटी को बिल्डअप करें और मास्क व सफाई का ध्यान रखें। उसके बाद मच्छरों से बचाव के लिए घर में पानी किसी भी स्थान पर जमा न होने दें, कूलर की सफाई करते रहें, फूल स्लीव वाले कपड़े पहनें और मच्छरदानी का इस्तेमाल करें।

Read more articles on Home-Remedies in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK