Diabetes Diet: डायबिटीज पेशेंट डिनर में शामिल करें ये 10 फूड, ब्‍लड शुगर हमेशा रहेगा कंट्रोल

Updated at: Aug 03, 2020
Diabetes Diet: डायबिटीज पेशेंट डिनर में शामिल करें ये 10 फूड, ब्‍लड शुगर हमेशा रहेगा कंट्रोल

 डायबिटीज के रोगी को क्या खाना चाहिए क्या नहीं इसको लेकर कोई ना कोई कन्फ्यूजन रहता है।  आइए जानते हैं विस्तार से।

Monika Agarwal
डायबिटीज़Written by: Monika AgarwalPublished at: Aug 03, 2020

यदि आप डायबिटीज से पीड़ित है तो आपको अपने खान पान पर विशेष रूप से ध्यान देने की आवश्यकता है। आप को कुछ भी खाने से पहले उसके बारे में कई बार सोचना भी पड़ता है, कि क्या ये आपके लिए सुरक्षित है या नहीं। डायबिटीज के रोगी के लिए दवाइयों के साथ-साथ उसकी डाइट भी महत्वपूर्ण है। यदि आपकी डाइट हेल्दी नहीं होगी तो आपको किसी भी प्रकार की दवा असर नहीं करेगी इसलिए बहुत जरूरी है कि आप अपनी डाइट के लिए एक डाइट चार्ट के अनुसार लें। तो आज जानें कुछ डिनर आइडियाज जो हेल्दी भी होंगे और टेस्टी भी।

diabetes

कम फैट वाला बटर चिकन (Butter Chicken)

स्वादिष्ट और बहुत आसानी से बनने वाला यह बटर चिकन बहुत कम समय में बन जाता है हालांकि यह बटर से परिपूर्ण है परन्तु इसमें बटर होने के बावजूद भी आपको महसूस नहीं होगा। आप इसे अपने मेहमानों के लिए भी परांठे, नान या चावल के साथ सर्व कर सकते हैं। इस बटर चिकन में बटर का अंतर बताना बहुत ही मुश्किल होगा। इसके स्वाद में भी कोई कमी नहीं होगी। 

इसे भी पढ़ेंः    क्रोमियम आपके डायबिटीज को कर सकता है कंट्रोल, जानें किन चीजों को खाने से मिलेगा ये जरूरी तत्व

शुगर रहित चावल की पुडिंग (Rice Pudding)

इसको बनाने के लिए आपको दालचीनी तथा इसकी एक डंठल व ताजा जायफल की जरूरत होगी। यह शुगर रहित चावल की पुडिंग एक बहुत अच्छी और स्वादिष्ट मिठाई है। इसके साथ आप अनानास भी ले सकते हैं ।

कम फैट वाले अजवाइन का सूप (Low Fat celery Soup)

जब आप को भूख लगती है और आप कोई स्नैक खाने के लिए तरस रहे हैं तो आप अजवाइन ला सूप पी सकते हैं। एक अजवाइन के डंठल में केवल 10 कैलोरी ही होती हैं। यह एक बहुत अच्छा सूप है। आप इसे अन्य किसी भी सब्जी के साथ खा सकते हैं। यह फैट में कम और पोषक तत्वों से भरपूर है। 

कम फैट वाला काली मिर्च चिकन ड्राई (Low Fat Pepper Chicken Dry)

काली मिर्च व हल्दी मसालों से युक्त यह आंध्र स्टाइल चिकन बहुत ही लाजवाब होता है और डायबिटीज के मरीजों के लिए ही विशेष रूप से बनाया जाता है। इसे लाल व काली मिर्च के साथ गार्निश किया जाता है। 

इसे भी पढ़ेंः ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए अपनाएं नेचुरल तरीका, डायबिटीज के मरीज जरूर करें ये 3 योगासन

कच्चा पपीता समभारो (Raw Papaya Sambharo) 

यह समभारो फाइबर, विटामिन ए, बी, सी व ई से भरपूर होने के साथ साथ फोलेट, मैग्नीशियम, पोटैसियम और लाइकोपीन से भी युक्त है। यदि आप को पपीता खाना पसंद है तो आप बिना कुछ सोचे इस डिश को बना कर खा सकते हैं। यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है। आप इसे सलाद के रूप में खा सकते हैं।

सफेद मटर (Chick Pea or white Pea)

चिकपी या छोले फाइबर और प्रोटीन से भरपूर होते हैं। इसके साथ साथ उनमें बहुत से विटामिन और अन्य पोषण तत्त्व भी होते हैं। इसके अलावा इनमे ग्लाइसेमिक इंडेक्स की मात्रा भी कम होती है। डिनर में इनका सेवन स्वास्थ्य वर्धक है।

पत्ता गोभी (Cabbage)

पत्ता गोभी से ब्लड ग्लूकोज लेवल कम होता है और इसमें बहुत से एंटीऑक्सिडेंट व एंटी हाइपरग्लिसमिक गुण भी होते हैं जो स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं और यह गुण डायबिटीज के मरीजों के लिए भी लाभदायक होते हैं।

diabetes

पालक (Spinach)

पालक व छोले फाइबर से युक्त होते हैं और इनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी कम होता है। इनमे प्रोटीन की मात्रा भी अधिक होती है और यह आपके लिए लाभदायक रहते हैं। पालक से बनी कोई सी भी सब्जी डायबिटीज रोगी को बहुत फायदा करती है।

दही वाली भिन्डी   (Bhindi With Curd)

यदि आप दही वाली भिन्डी या भिन्डी को दही के साथ खाते हैं, तो यह आपकी सेहत के लिए बेहद स्वास्थ्यवर्धक है। इसमें डाइट्री फाइबर की अधिकता और इंसुलिन की कमी होती है। इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी कम होता है। 

उबले हुए अंडे (Boiled Egg)

यदि आप रोजाना के खाने से बोर हो गए हैं और अब एक मजेदार रेसिपी को ट्राई करना चाहते हैं तो आप उबले हुए अंडो को खा सकते हैं। अंडे में प्रोटीन की मात्रा भी अधिक होती है। आप कभी कभार उबले हुए अंडों को भी अपने डिनर में शामिल कर सकते हैं। 

Read more articles on Diabetes in Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK