• shareIcon

मरकर जिंदा हुये इस सख्‍स ने नाश्‍ता कर मौत को दोबारा लगाया गले

मेडिकल मिरेकल By Rahul Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Apr 04, 2016
मरकर जिंदा हुये इस सख्‍स ने नाश्‍ता कर मौत को दोबारा लगाया गले

क्या आपने किसी इंसान को कई बार मरते देखा या सुना है? बिहार के बेगूसराय जिले के एक युवक ने मरने के बाद दो बार अपनी आंखें खोली और फिर दोबारा मौत की गोद में चला गया। इस लेख में विस्‍तार से जानें उसकी कहानी।

हम सभी जानते हैं कि इंसान एक बार पैदा होता है और एक बार ही मरता है। लेकिन क्या आपने किसी इंसान को कई बार मरते देखा या सुना है? बिहार के बेगूसराय जिले के एक युवक ने मरने के बाद दो बार अपनी आंखें खोली और फिर दोबारा मौत की गोद में चला गया। चलिये विस्तार से जानें, क्या है खबर -  


चश्मदीदों के अनुसार विकास कुमार जनरेटर का करंट लगने की वजह से बुरी तरह घायल हो गया। जिसके बाद उसे आनन फानन में परिजनों द्वारा अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन वहां उस वक्त कोई डॉक्टर मौजूद नहीं था। हालांकि इस दुर्घटना की सूचना डॉक्टरों को दी गई, लेकिन उन्हें वहां पहुंचने में आधा घंटा लगा। डॉक्टरों ने विकास की जांच की और उसे मृत घोषित कर दिया।

 

Dead Man Wakes in Hindi

 

इसके बाद जब विकास के शव को शमशान ले जाने की तैयारी की गईं, इसके बाद जो हुआ उसे देखकर वहां मौजूद हर व्यक्ति अचंभित रह गया। जैसे ही उसके शव को अर्थी पर रखा गया तो विकास ने अपनी आंखें खोल लीं। गांव वासियों ने विकास को दूध पिलाने की सलाह दी, इसके बाद विकास को दूध पिलाया गया और उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

हालांकि निजी अस्पताल में इलाज के दौरान विकास की फिर से मौत हो गई। इस बार परिजनों ने इलाज में देरी और डॉक्टर की लापरवाही का आरोप लगाते हुए विकास का शव सड़क पर रख वहां जाम लगा दिया। प्रदर्शन के लिए सड़क पर विकास के शव को रखा ही था कि वह फिर से जिंदा हो गया।

इसके बाद लोग उसे पास की एक दुकान में ले गए जहां उसके शरीर पर मालिश की गई और फिर वहां इलाज के लिए डॉक्टरों को बुलाया गया लेकिन उसकी फिर से मौत हो गई। विकास का इलाज करने वाले डॉक्टर का कहना है कि युवक की मौत करीब 11:30 बजे ही हो गई थी। लेकिन करंट लगने के मामले में कई बार मौत के बाद भी मांसपेशियों में हलचल हो जाती है।


Image Source - Getty

Read More Articles On Medical Miracle in Hindi.

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK