सावधान! भरपूर नींद न लेने वालों को हो सकती है ये बीमारी

Updated at: May 05, 2017
सावधान! भरपूर नींद न लेने वालों को हो सकती है ये बीमारी

एक अध्ययन के अनुसार पर्याप्त नींद न लेने से एक व्यक्ति लोगों के चेहरे के भाव को ठीक से नहीं पढ़ पाता, आइए कैसे इस हेल्‍थ न्‍यूज के माध्‍यम से जानते हैं।

Rashmi Upadhyay
लेटेस्टWritten by: Rashmi UpadhyayPublished at: May 05, 2017

अच्‍छे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भरपूर नींद बहुत जरूरी है। इसके तमाम फायदे हैं, एक अध्‍ययन के मुताबिक रात की पूरी नींद लेने से हमारी दिनचर्या ठीक रहती है, मानसिक तनाव से निजात मिलता है। चेहरे की रंगत सही रहती है। लेकिन नींद पूरी नहीं होने के गंभीर परिणाम हो सकते हैं, इससे प्रभावित व्‍यक्ति दूसरों की मनोदशा को ठीक तरह से भाप नहीं पाता है। इस तरह के व्यक्ति यह भी अंदाजा नहीं लगा सकते कि कोई हिंसक जीव उसके पीछे पड़ा है या नुकसान पहुंचा सकता है।

इसे भी पढ़ें : चोट या खरोंच को चाटना है कितना सही? जानें

sleep in hindi

जर्नल ऑफ न्‍यूरोसाइंस में प्रकाशित एक अध्‍ययन में कहा गया है कि किसी व्यक्ति के भावनात्मक हाव-भाव बदलने से हम यह तय कर पाते हैं कि उससे बात किया जाए या नहीं, या इसके बदले में वह आपसे बात करता है या नहीं। जर्नल में इस बात को यूनिवर्सिटी ऑफ केलिफोर्निया-बर्कले के मनोविज्ञान के प्रोफेसर और इस अध्ययन के लेखक मैथ्यू वॉकर ने कहा है। स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में फेलो आंद्रिया गोल्डस्टेन-पीकास्क्री ने कहा, रात भर जगने वाले स्‍टूडेंट, इमरजेंसी वार्ड में रहने वाले मेडिकल कर्मचारी, युद्ध क्षेत्र के सैन्य लड़ाके और रात के वक्त काम पर तैनात रहने वाले पुलिसकर्मियों पर अध्ययन किया गया, जिसका नतीजा बहुत ही भयावह था।

इसे भी पढ़ें : कौन सा चॉकलेट है हेल्‍दी ? वाइट, मिल्‍क या डार्क!

अध्‍ययन के लिए 18 लड़कों पर प्रयोग किया गया, जिन्हें 70 लोगों का हावभाव देखने को कहा गया है। एक बार उन्हें 24 घंटे की नींद लेने और एक बार पूरे दिन जगे रहने के बाद उनके हावभाव देखने को कहा गया। उनके मस्तिष्‍क के स्कैन से पता चला कि नींद की कमी के कारण लोग डरावने तथा मित्रवत लोगों के हावभाव में अंतर नहीं कर पाते। इसके अतिरिक्त, नींद की कमी वाले लोगों का हृदय मित्रवत तथा डरावने हावभाव वाले लोगों पर सामान्य प्रतिक्रिया नहीं देता।

इससे यह पता चलता है कि अकेलेपन के शिकार और असामाजिक हो जाते हैं। इसके अलावा कम नींद लेने वाले लोगों की दिनचर्या प्रभावित होती है, चेहरें पर चमक नही रहती है। इसका निष्‍कर्ष यह है कि भरपूर नींद हमारे भावनात्‍मकता को चुस्‍त और दुरूस्‍त रखता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Health News in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK