ब्लड प्रेशर के मरीज हो या आम इंसान नमक के सेवन का आपका तरीका है बिल्कुल गलत ! जानें कितना खाएं और कितना नहीं

Updated at: Aug 05, 2020
ब्लड प्रेशर के मरीज हो या आम इंसान नमक के सेवन का आपका तरीका है बिल्कुल गलत ! जानें कितना खाएं और कितना नहीं

नमक का अधिक या कम सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। जानें कितनी मात्रा में इसका सेवन करना आपके लिए सही होता है। 

 

Jitendra Gupta
विविधWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Aug 05, 2020

आप नमक के बारे में तो भलीभांति जानते ही होंगे क्योंकि नमक उन महत्वपूर्ण अवयवों में से एक है जो आमतौर पर हर घर में पाया जाता है। चाहे आप भारतीय हो या दुनिया के किसी भी कोने में रहने वाले व्यक्ति खाना बनाते वक्त भोजन का स्वाद बढ़ाने के लिए एक चुटकी नमक आवश्यक डालते ही है। ठीक इसी तरह बहुत अधिक नमक खाने से आपके द्वारा बनाया हुआ खाना नमकीन बन सकता है और आपका मजा किरकिरा हो सकता है। लेकिन अगर आपको लगता है कि आपको अपनी डिश में नमक डालने से पहले ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है तो आप बिल्कुल गलत हैं। जी हां, इस लेख में हम आपको नमक से जुड़ी ऐसी कुछ बातें बताने जा रहे हैं, जो आपके लिए जानना बेहद जरूरी है। आप चाहे ब्लड प्रेशर के मरीज हों या आम इंसान नमक की मात्रा पर ध्यान जरूर दें।

salt  

क्यों जरूरी है नमक के बारे में जानना 

नमक महज किसी व्यंजन को स्वादिष्ट बनाने का कोई आम घटक नहीं है, बल्कि ये एक आवश्यक पोषक तत्व है, जो हमारे शरीर के ठीक से काम करने के लिए बहुत ही जरूरी होता है। नमक या सोडियम में कुछ आवश्यक खनिज होते हैं, जो शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स के रूप में कार्य करते हैं। वे तंत्रिका संचरण, द्रव संतुलन और मांसपेशियों के कार्य में मदद करते हैं। लेकिन जब नमक अधिक मात्रा में लिया जाता है, तो नमक उच्च रक्तचाप और हृदय रोग सहित कई स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। तो, आपको अपने पकवान में नमक का आजादी से उपयोग करने से पहले सावधान रहना होगा। यहां हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं, जो ज्यादातर लोग नमक का उपयोग करते समय गलत करते हैं।

जानें नमक की मात्रा बहुत कम उपयोग करने के नुकसान 

जब तक आपको विशेष रूप से अपने नमक का सेवन कम करने के लिए नहीं कहा जाता है, तब तक आपको इसे अपने डाइट से कम करने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन जब बात हमारे स्वास्थ्य की आती है तो नमक को बेहद गलत नजरों से देखा जाता है लेकिन ज्यादातर लोग जो ये नहीं जानते हैं कि सोडियम का कम सेवन शरीर में द्रव प्रतिधारण (fluid retention) को जन्म दे सकता है। इसके अलावा यह छोटी आंत, मांसपेशियों में मरोड़, दस्त, उल्टी और हृदय गति रुकने का कारण बन सकता है। यह आपके मस्तिष्क की गतिविधि को भी प्रभावित कर सकता है।

इसे भी पढ़ेंः आधी बाल्टी पानी में 1 चम्मच नमक डालकर ऐसे लें 'फुट बाथ', शरीर को मिलेंगे ये 5 हैरान करने वाले फायदे

जानें नमक का बहुत अधिक उपयोग करने के नुकसान  

आपके पकवान में बहुत अधिक नमक की मात्रा से ऑस्टियोपोरोसिस, गुर्दे की बीमारी और उच्च रक्तचाप यानी की हाई ब्लड प्रेशर जैसे कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से भी जुड़ा हुआ है। हाई ब्लड प्रेशर धमनियों में पट्टिका के निर्माण के पीछे एक प्रमुख कारण है, जिससे हृदय संबंधी समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। अमेरिकन हेल्थ एसोसिएशन ऐसे मामलों में अधिक पोटेशियम का सेवन और सोडियम का सेवन कम करने की सलाह देता है। माना जाता है कि पोटेशियम सोडियम के नकारात्मक प्रभावों को कम करता है।

saltbenefits

क्या आपको लगता है कि सभी प्रकार के नमक एक तरह के हैं?

बाजार में विभिन्न प्रकार के नमक उपलब्ध हैं जैसे टेबल सॉल्ट, कोशेर सॉल्ट, सी सॉल्ट, पिंक हिमालयन सॉल्ट। ये सभी एक दूसरे से अलग हैं और विभिन्न पोषक तत्वों के स्त्रोत हैं। इन सभी के बीच, खाना पकाने के लिए टेबल नमक का सबसे अधिक उपयोग किया जाता है। यह आम तौर पर आयोडीन युक्त होता है, जिसका अर्थ है कि नमक में आयोडीन मिलाया जाता है। जब पोषक तत्वों की बात आती है, तो सी सॉल्ट और हिमालयन सॉल्ट को अधिक स्वस्थ माना जाता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप उन्हें जितना चाहें उतना उपयोग कर सकते हैं। याद रखें कि आप किस प्रकार के नमक का उपयोग कर रहे हैं, इन सभी में सोडियम होता है। इसलिए  मात्रा को लेकर सावधान रहें।

इसे भी पढ़ेंः अंगूठे में दर्द का रामबाण इलाज है सेंधा नमक, जानें छोटी-मोटी चोट के लिए कितना कारगार है ये घरेलू नुस्खा

क्या खाने पर नमक छिड़कते हैं आप?

अपने भोजन पर नमक छिड़कना एक बहुत ही अनहेल्दी आदत है। हममें से ज्यादातर लोग ऐसा करने के लिए दोषी होंगे। जब भी हमें लगता है कि हमारा भोजन थोड़ा फीका है तो हम टेबल नमक लेते हैं और अपने भोजन पर तुरंत छिड़क लेते हैं। हालांकि, बिना पके हुए भोजन पर नमक छिड़कना स्वास्थ्य समस्याओं को निमंत्रण देना हो सकता है। अतिरिक्त नमक जिसे आप अपने भोजन में शामिल करते हैं, शरीर द्वारा आसानी से अवशोषित नहीं होता है, जो सिस्टोलिक दबाव के स्तर में स्पाइक होने की संभावना बढ़ जाती है। 

कितना नमक होता है बहुत ज्यादा

अपने नमक के सेवन को नियंत्रित करने और अपने भोजन को तैयार करते समय बुद्धिमानी से उपयोग करने के लिए, यह समझना महत्वपूर्ण है कि कितना नमक बहुत अधिक होता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार वयस्कों को प्रतिदिन 5 ग्राम से कम नमक का सेवन करना चाहिए। 2 से 15 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए सोडियम की मात्रा उनकी ऊर्जा आवश्यकताओं पर निर्भर करती है। इसके अलावा, आप जिस नमक का सेवन करते हैं, वह आयोडीन युक्त होना चाहिए या फोर्टीफाइड होना चाहिए, जो आपके मस्तिष्क और विकास के उचित कार्य के लिए आवश्यक है।

Read More Article On Miscellaneous In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK