आपके मुंह और गले में मौजूद कोरोनावायरस को 98.3 फीसदी तक नष्ट कर सकता है ये माउथ स्प्रे! स्टडी में हुआ ये दावा

Updated at: Jul 22, 2020
आपके मुंह और गले में मौजूद कोरोनावायरस को 98.3 फीसदी तक नष्ट कर सकता है ये माउथ स्प्रे! स्टडी में हुआ ये दावा

कोरोनावायरस को लेकर रोजाना नई-नई चीजें सामने आ रही है, इनमें से एक है कि ये माउथ स्प्रे कोरोना को 98.3 फीसदी तक इनएक्टिव कर सकता है।   

Jitendra Gupta
लेटेस्टWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Jul 22, 2020

दुनियाभर के लिए परेशानी का सबब बन चुका कोरोनावायरस का इलाज या इस समस्या  का हल अभी तक नहीं पता चल पाया है। कोरोना को खत्म या निष्क्रिय करने के लिए साइंटिस्ट तरह-तरह के प्रयास कर रहे हैं और इस संबंध में कई दावे सामने आ रहे हैं कि ऐसा करने से कोरोना हल्का पड़ सकता है लेकिन इन दावों की हकीकत कुछ और ही है। हाल ही में स्वीडन की एक लाइफ साइंस फर्म  Enzymatica ने एक अध्ययन किया है, जिसमें ये सामने आया है कि  ColdZyme माउथ स्प्रे SARS-CoV-2 को 98.3 फीसदी तक निष्क्रिय कर सकता है।  

spray

वायरस और बैक्टीरिया के बीच बनाता है बैरियर

अध्ययन में इस बात का दावा किया गया है कि ये माउथ स्प्रे ओरल कैवीटी में वायरस और बैक्टीरिया के खिलाफ एक बैरियर का निर्माण करने में प्रभावी है, फिर चाहे वे वायरस कोविड -19 ही क्यों न हो। 

98.3 फीसदी तक वायरस को मार सकता है स्प्रे

कंपनी ने एक आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि वर्तमान अध्ययन का लक्ष्य कोविड-19 महामारी का कारण बनने वाले SARS-CoV-2 को निष्क्रिय करने के लिए ColdZyme की क्षमता का पता लगाना था। SARS-CoV-2 के खिलाफ ColdZyme का उपयोग करते हुए एक प्रभावकारिता परीक्षण किया गया था।  अध्ययन में पाया गया कि ColdZyme ने 20 मिनट में SARS-CoV-2 को 98.3 प्रतिशत (1.76 log10) तक निष्क्रिय कर दिया।

इसे भी पढ़ेंः  अगर आपके घर में हैं ये 4 चीजें तो आपका घर है कोरोना से बिल्कुल सेफ, बस इस्तेमाल का सही तरीका जानना है जरूरी

वायरस हो जाता है कमजोर

कंपनी ने बयान में कहा, "इसके अलावा, किसी भी कमजोर पड़ने वाले परीक्षण में ColdZyme के लिए किसी प्रकार की कोई साइटोटोक्सिसिटी का पता नहीं चला है। ये अध्ययन अमेरिकी कंपनी माइक्रोबैक लैबोरेट्रीज़ इंक द्वारा किया गया एक स्वतंत्र अध्ययन है। इस संस्था को मान्यता प्राप्त है और प्रमाणित प्रयोगशाला में ये अध्ययन किया गया था।

spraymouth

अध्ययन में इस बात को भी सामने रखा गया कि ये अध्ययन एक मानकीकृत और मान्य कार्यप्रणाली पर आधारित था। इस टेस्ट का नाम एएसटीएम इंटरनेशनल टेस्ट विधि E1052 रखा गया था, जो सस्पेंशन में वायरस के खिलाफ माइक्रोबिसाइड्स की गतिविधि का आकलन करने के लिए एक मानक परीक्षण विधि है। 

क्या कहते हैं कपंनी के अधिकारी

Enzymatica के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर क्लॉस ईग्सट्रेंड का कहना है कि भले ही वर्तमान समय में इन-विट्रो परिणामों को नैदानिक प्रभावकारिता में सीधे अनुवाद नहीं किया जा सकता है, लेकिन यह बहुत दिलचस्प है कि ColdZyme इन विट्रो में SARS-CoV-2 को प्रभावी रूप से निष्क्रिय करने में सक्षम है क्योंकि यह एक सबूत-के-सिद्धांत को पेश करता है, जिसे नैदानिक अध्ययन के लिए आगे ले जाया जा सकता है। इस प्रकार से हमारे परिणाम बताते हैं कि ColdZyme , SARS-CoV-2 के खिलाफ एक सुरक्षात्मक बैरियर की पेशकश कर सकता है। 

इसे भी पढ़ेंः Coronavirus Outbreak: कोरोनावायरस से नहीं बचाता N95 वाल्व मास्क, केंद्र सरकार ने दी चेतावनी

और भी कई वायरस के खिलाफ प्रभावी है ये स्प्रे

कोल्डजाइम, कोरोना परिवार के कई वायरस के खिलाफ प्रभावी है, जिसमें HCoV-229E भी शामिल है, जो सामान्य सर्दी के कारणों में से एक है। अध्ययन में दावा किया गया कि कोल्डजाइम को मुंह और गले के भीतर छिड़कने से से संक्रमण का खतरा कम हो सकता है।

मार्केटवॉच की रिपोर्ट के अनुसार, कंपनी के कोल्डज़ाइम पर अपना चौथा अध्ययन सामने रखने के बाद, स्टॉकहोम में इसके शेयरों में 67 प्रतिशत का उछाल आया है। हालांकि अभी इस पर और अध्ययन किए जाने की जरूरत है। 

Read More Articles On Health News In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK