• shareIcon

Chhath Puja: इन 3 स्‍वादिष्‍ट डिश के बिना अधूरी है छठ पूजा की थाली, जानें इनकी आसान रेसेपी

Updated at: Nov 02, 2019
स्वस्थ आहार
Written by: शीतल बिष्‍टPublished at: Nov 02, 2019
Chhath Puja: इन 3 स्‍वादिष्‍ट डिश के बिना अधूरी है छठ पूजा की थाली, जानें इनकी आसान रेसेपी

Chhath Puja Recipe : भारत में अन्य त्योहारों की तरह ही छठ पूजा भी एक पारंपरिक त्‍योहार है। जिसे कि कई स्‍वादिष्‍ट व्‍यंजनों को बनाकर मनाया जाता है। आइए यहां हम आपको कुछ स्‍वादिष्‍ट व्‍यंजनों की रेसेपी बताते हैं। 

उत्तर प्रदेश, झारखंड और बिहार छठ पूजा त्योहार की तैयारियों में डूबे हुए हैं। क्योंकि छठ पूजा का यह खास त्‍योहार इन 3 राज्‍यों में विशेष रूप से मनाया जाता है। छठ  पूजा 4 दिवसीय त्योहार होता है। इस हिंदू त्योहार को सूर्य षष्ठी, छठ पर्व, डाला पूजा और डाला छठ के रूप में भी जाना जाता है। जिसमें सभी सुख-समृद्धि की तलाश के लिए, 'सूर्य देवता' को श्रद्धांजलि दी जाती है। छट पूजा त्‍योहार के समय भगवान सूर्य की बहन, 'छठी मैया' की भी पूजा की जाती है। छठ पूजा साल में दो बार मनाई जाती है। 'चैती छठ' और कार्तिक छट। जिसमें 'चैती छट' गर्मियों में और 'कार्तिक छट' नवंबर में मनाया जाता है। छट पूजा में व्रत करना, पवित्र नदी या गंगा में डुबकी लगाना और उगते और डूबते सूर्य की प्रार्थना की जाती है। 

Chhath_puja_Recipe

अन्य त्योहारों की तरह छठ पूजा में भी कुछ ढेर सारे पारंपरिक पकवान बनाए जाते हैं। जिन्‍हें छठ प्रसाद में शामिल कर सूर्य भगवान को चढ़ाया जाता है। छठ प्रसाद में मिठाई जैसे कि ठेकुआ, खीर, चावल के लड्डू और फल का चढ़ावा किया जाता है। इस त्‍योहार में भी नवरात्र के समान बिना प्याज - लहसुन के बनाया जाता है और व्रत तोड़ने से पहले गरीबों में खाना बांटा जाता है। आइए यहां हम आपको छठ पूजा के मौके पर ठेकुआ के साथ इन 2 स्‍वादिष्‍ट व्‍यंजनों को बनाने की रेसेपी बता रहे हैं, जिनके बिना आपकी थाली अधूरी लगती है। 

छठ पूजा में बनाएं ये 3 पारंपरिक पकवान (Traditional Dishes Recipes For Chhath Puja)

1. ठकुआ (Thekua)

ठेेकुआ (खजूरिया या थिकारी) यह एक छठ प्रसाद में शामिल होने वाली मिठाई है। इसे गेहूं के आटे से तैयार किया जाता है, जो देखने और खाने दोनों में लाजववाब है। ठेकुआ सूर्य देव को अर्पित किए जाने वाले छठ पूजा के दूसरे दिन ज्यादातर तैयार किया जाता है।

इसे भी पढें: त्योहार में और भी मिठास घुलेगी, जब घर में बनेंगी ये 2 टेस्टी और हेल्दी स्वीट डिशेज

  • इसे बनाने के लिए आपको गेहूं का आटा लें। 
  • अब आप इसमें नारियल का बूरा यानि कसा हुआ नारियल, सौंप, सूखे मेवे डालें और अच्‍छे से आटे के साथ मिला लें। इसके बाद आप चीनी या गुड के पानी से आटा गुंथें। ध्‍यान रखें आटा थोड़ा टाइट गुंथें। 
  • अब आप तैयार आटे को टिक्‍की जैसे आकार में बनाकर रखें और अब आप इन्‍हें तेल या घी में डीप फ्राई कर सकते हैं। 

2. हरा चना (Green Chana)

हरा चना एक स्‍वादिष्‍ट और सेहत के लिए अच्‍छा व्यंजन है, जो आपकी छठ-पूजा की विशेष थाली में होना जरूरी माना जाता है। इसे कद्दू की सब्‍जी और मिठाइर् के साथ परोसा जाता है। 

  • हरा चना बनाने के लिए आपको हरे चने को रात भर पानी में भिगोना होगा। 
  • अब आप अगली सुबह अब आप इसमें हल्‍का नमक डाल कर उबाल लें। 
  • अब आप इसके बाद गैस पर एक पैन रखें और उसमें 2 चम्‍मच घी डालें। 
  • घी गर्म होने पर आप इसमें 1 चम्‍मच जीरा डालें और इसके बाद कुद कटी हुई हरी मिर्च और जीरा डाल लें। आप चाहें, तो इसे मसालेदार भी बना सकते हैं। 

Chhath_puja_Recipe

3. रसिया (Rasiyaw)

रसिया एक तरह से चावल की खीर है। इसके अलावा, इसमें चीनी की जगह गुड़ का इस्‍तेमाल किया जाता है। रसिया को छठ  पूजा का खास व्‍यंजन माना जाता है। यह मीठी डिश छठ पूजा का भोजन पूरा करती है और इसे सेवन करने से पहले सूर्य देवता को अर्पित किया जाता है। 

इसे भी पढें: खजूर और काजू से बने ये लड्डू हैं डायबिटीज के मरीजों के लिए बेस्ट स्नैक्स, नहीं बढ़ाते ब्लड शुगर

  • छट पूजा पर रसिया बनाने के लिए सबसे पहले आप 1 कप चावल लेकर धो कर रख लें। 
  • अब आप गैसे में एक पैन रखें और उसमें 1-2 लीटर दूध डालकर उसे गर्म करें और 5.10 मिनट तक उबालें। 
  • अब आप इसमें धोये हुए चावल डाल लें और गैस की आंच कम कर लें और इसे धीमी आंच में उबलने दें।
  • जब आपके चावल मुलायम हो जाएं यानि पक जाएं, तो आप इसमें गुड़ को एकदम छोटा-छोटा करके डालें। 
  • धीरे आंच में पकने दें और 5-10 मिनट बाद आप इसमें ड्राई फूट्स जैसे बादाम, किशमिश, काजू और इलायची पाउडर डालें। इसके बाद अच्‍छे से 2-3 मिनट के लिए इसे मिलाएं और गैस बंद कर दें। आपकी गर्मागर्म रसिया तैयार है। 

Read More Article On Healthy Diet In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK