• shareIcon

चलते-चलते जाएगी दिल की बीमारी

लेटेस्ट By ओन्लीमाईहैल्थ लेखक , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 10, 2012
चलते-चलते जाएगी दिल की बीमारी

एक नए शोध में सामने आया है कि तेज कदमों से टहलना आपको हृदय रोग से बचा सकता है। 

chalte chalte jayegi dil ki beemari

यह तो हम जानते ही हैं कि मधुमेह, हृदयरोग, पीठ और कमर दर्द, मोटापा जैसी अनेक बीमारियां हमें आधुनिक जीवनशैली की देन हैं। और इनसे बचने का रास्‍ता यही है कि हम थोड़ी शारीरिक कसरत की जाए या फिर पैदल चला जाए। कई वैज्ञानिक अनुसंधान इस बात की पुष्टि कर चुके हैं कि पैदल चलना सेहत के लिए बहुत अच्‍छा रहता है। व्यस्त जीवनशैली व अनुचित खानपान के इस दौर में व्यायाम करना बहुत जरूरी है। इससे ना सिर्फ आपका वजन कम होता है बल्कि आप गंभीर बीमारियों से भी बचे रहते हैं।

 

[इसे भी पढ़े: मोटापा कम करने वाले व्यायाम]

 

तनाव,अनिद्रा व जंक फूड के सेवन से हृदय संबंधी रोगों का खतरा बढ़ जाता है। अगर सही समय पर अपने सेहत पर ध्यान नहीं दिया गया तो बाद में इन रोगों पर काबू पाना मुश्किल हो सकता है। ऐसे में जरूरी है कि अपनी दिनचर्या में से थोड़ा समय व्यायाम को भी दें। सुबह शाम का तेज कदमों से टहलना आपके लिए आसान व अच्छा विकल्प है।

 


[इसे भी पढ़े: फास्ट फूड खाने से भी कम हो सकता है वजन]

 

लंदन में हाल ही में हुए शोध में सामने आया है कि तेज गति से टहलने से दिल के दौरे की आशंका 50 फीसदी कम हो जाती है। और यह ज्यादा मुश्किल भी नहीं है आपके लिए। घर से कहीं पास जाने के लिए आप रिक्शे या किसी वाहन का इस्तेमाल करना बंद कर दे और पैदल ही चलें। 10,000 लोगों पर दस साल तक चले अध्ययन के बाद शोधकर्ताओं ने यह निष्कर्ष निकाला।

 

[इसे भी पढ़े: यूं रखें दिल की सेहत का ख़याल]

 

उन्होंने बताया कि तेज गति से टहलने या जॉगिंग करने से हृदय संबंधी बीमारियों व स्ट्रोक का खतरा काफी कम हो जाता है। साथ ही एक्सरसाइज करने से व्यक्ति में टाबोलिक सिंड्रोम कई तरह के हृदय संबंधी रोगों के लिए जिम्मेदार है। पैदल चलने के और भी कई गुण सामने आ चुके हैं, जैसे पैदल चलने से स्‍मरण शक्ति पर सकारात्‍मक असर पड़ता है। शोधों में साबित हुआ है कि सप्‍ताह में आठ किलोमीटर या उससे अधिक पैदल चलने से मस्तिष्क की कोशिकाओं का जीवनकाल लंबा होता है और याददाश्त भी लंबे समय तक बनी रहती है।

 

Read More Health News In Hindi.

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK