क्‍या आपको भी होती है पेशाब में जलन? तो इलायची और लौंग का तेल कर सकता है आपकी इस समस्‍या को आसानी से दूर

Updated at: Aug 17, 2020
क्‍या आपको भी होती है पेशाब में जलन? तो इलायची और लौंग का तेल कर सकता है आपकी इस समस्‍या को आसानी से दूर

क्‍या आपको भी बार-बार पेशाब जलन होती है? अगर हां, तो आपको जानकर हैरानी होगी कि इलायची और लौंग का तेल आपको पेशाब जलन से राहत दिला सकता है। 

Sheetal Bisht
घरेलू नुस्‍खWritten by: Sheetal BishtPublished at: Aug 14, 2020

क्या आपको कभी पेशाब करते समय तेज दर्द महसूस हुआ है? यह आम नहीं है, खासकर अगर यह अक्सर होता है। दर्दनाक पेशाब, पेशाब जलन डिस्यूरिया के बार-बार होने वाले लक्षण या तो किडनी या फिर आंत से संबंधित अंतर्निहित स्वास्थ्य समस्या की ओर संकेत है। जबकि पेशाब करते समय मामूली असुविधा आम है, लेकिन इसमें दर्द को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। यदि दर्द सहने योग्य है, तो आपको डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं है। लेकिन हां, अगर आपको पेशाब करते समय जलन और दर्द अधिक है, तो डॉक्‍टर की सलाह ले। यहां सामान्‍य रूप से पेशाब जलन के कुछ घरेलू उपचार हैं, जो आपको राहत पहुंचा सकते हैं। शायद ही किसी को पता हो कि इलायची और लौंग दो ऐसी चीजें हैं, जो दिखने में छोटी लेकिन काफी असरदार हैं। यह दोनों चीजें आपको पेशाब जलन में राहत दिला सकती हैं।

Dysuria Problem

डिस्यूरिया क्या है?

पेशाब करते समय दर्द या पेशाब जलन को मेडिकल भाषा में डिस्यूरिया कहा जाता है। यह अधिकतर एक संक्रमण के कारण होता है और महिलाएं इससे पुरुषों की तुलना में अधिक प्रभावित होती हैं। डिस्यूरिया या पेशाब जलन को अक्सर एसटीडी और यूटीआई के साथ जोड़ा जाता है, लेकिन इस स्थिति के लिए अन्य छिपे हुए कारण हो सकते हैं ,जो केवल एक डॉक्‍टर मेडिकल चेकअप के बाद ही बता सकता है। आइए यहां हम आपको कुछ घरेलू उपाय बता रहे हैं, जिन्‍हें आप डिस्यूरिया या पेशाब जलन होने पर अपना सकते हैं। लेकिन ध्‍यान दें ये घरेलू उपाय हैं कोई डॉक्‍टर की दवा नहीं, जो आप इनके भरोसे ही बैठे रह जाएं। मतलब यदि स्थिति गंभीर हो, तो तुरंत डॉक्‍टर से सलाह लें। 

इसे भी पढ़ें: देर तक पेशाब रोकने के हो सकते हैं कई नुकसान, जानें दिन में कितनी बार जरूरी है पेशाब करना  

पेशाब जलन से निपटने में मदद करेगी इलायची 

इलायची सिर्फ एक स्वाद बढ़ाने वाला एजेंट या माउथ फ्रेशनर ही नहीं है, बल्कि यह डिस्‍यूरिया या यूटीआई के लक्षणों को कम कर सकती है। जी हां, इलायची में प्राकृतिक मूत्रवर्धक गुण होते हैं, जिसकी जानकारी बहुत कम लोगों को ही है। इलायची का सेवन किडनी के कार्यों को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है और पेशाब जलन को शांत और आसान कर सकता है। इसके अलावा, यह कई वायरस और बैक्टीरिया को भी मार सकता है। आप इलायची की चाय या इलायची का पानी या इलायची वाला दूध पी सकते हैं। इसके अलावा, आप बस कुछ इलायची चबा भी सकते हैं। वहीं इलायची की चाय डायबिटीज रोगियों के लिए भी फायेदमंद है। 

Cardamom (Elaichi) For Dysuria

इसे भी पढ़ें: यूटीआई को रोकने में मददगार है क्रैनबेरी जूस, जानें इस्‍तेमाल का तरीका

पेशाब जलन पर लौंग के तेल का करें प्रयोग 

लौंग एक नहीं कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को दूर करने में प्रभावी मानी जाती है। लौंग वजन घटाने में मददगार होती है। इसके अलावा, इसमें संक्रमण को दूर करने के लिए शरीर में बैक्टीरिया, वायरस और परजीवियों को मारने के लिए एंटी इंफ्लामेटरी और एंटी बैक्‍टीरियल गुण होते हैं। हालाँकि, यह सभी के लिए सुरक्षित नहीं हो सकती है। इसलिए आप डॉक्‍टर की सलाह ले लें तो बेहतर है। लौंग के तेल की एक मजबूत संरचना होती है, आप इसे दो सप्ताह से अधिक समय तक ले सकते हैं। 

अधिकांश मूत्र संबंधी समस्याओं के लिए का समाधान पानी हो सकता है। पानी, पेशाब के माध्यम से शरीर विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में मदद करता है। इसलिए आप बहुत सारा पानी पिएं, इससे आपको पेशाब जलन में आराम मिलेगा। आप यहां दी गई टिप्‍स के साथ दर्दनाक पेशाब या डिस्‍यूरिया से राहत पा सकते हैं। ये सामान्य डिस्‍यूरिया के घरेलू उपचार हैं, जो सुरक्षित और प्रभावी हैं लेकिन परिणाम तुरंत दिखाई नहीं दे सकते हैं। यदि समस्या बनी रहती है या गंभीर होती है, तो आप तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें।

Read More Article On Home Remedies In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK