• shareIcon

डायबिटीज रोगियों में कैंसर का खतरा

डायबिटीज़ By लक्ष्मण सिंह , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Nov 10, 2011
डायबिटीज रोगियों में कैंसर का खतरा

डायबिटीज के अधिकांश मरीजों में आगे चलकर किसी न किसी प्रकार के कैंसर की सम्‍भावना होती है।

diabetes rogiyo me cancer ka khatraडायबिटीज और कैंसर में बहुत ही गहरा सम्बन्ध होता है। डायबिटीज के अधिकांश मरीज आगे चलकर किसी न किसी प्रकार के कैंसर के शिकार हो जाते हैं। डायबिटीज का सीधा सम्बन्ध मोटापे से है।

यानि कि मोटापा डायबिटीज और कैंसर दोनों के फैलने का कारण बनता है। इसलिए अगर कोई मोटा व्यक्ति डायबिटीज का शिकार है तो इस बात की काफी संभावना है कि वह व्यक्ति कैंसर का भी शिकार हो सकता है। कई अध्ययन यह बतलाते हैं कि डायबिटीज के जिन मरीजों का ब्लड शुगर लेवल बहुत ज्यादा रहता है उनमें से अधिकांश की मौत किसी न किसी प्रकार के कैंसर से होती है।

 

[इसे भी पढ़ें : डायबिटीज कैसे होता है]

 

डायबिटीज रोगियों में किस प्रकार का कैंसर होने का खतरा होता है  -

  • डायबिटीज के मरीजों में पैन्क्रिआज यानि अग्नाशय के कैंसर होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है क्योंकि डायबिटीज आमतौर पर तभी होता है जब मरीज के पैनक्रियाज सुचारू रूप से काम क्र पाने में असमर्थ हो जायें।
    इंसुलिन हार्मोन की गड़बड़ी से डायबिटीज  होता है और यह हार्मोन ऐसा हार्मोन है जिसकी गड़बड़ी के कारण कैंसर का भी जन्म होता है। शायद इसीलिए  डायबिटीज  का कैंसर से बहुत गहरा सम्बन्ध होता है।
  • डायबिटीज  के मरीजों में हाइपरग्लाईसीमिया की शिकायत देखी जाती है। और कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि
  • हाइपरग्लाईसीमिया से निपटने के लिए जिन दवाओं का इस्तेमाल किया जाता है उनके कुप्रभाव से कैंसर होने का जोखिम होता है। 
  • मधुमेह यानि डायबिटीज जिगर, अग्न्याशय, और एंडोमेट्रियल कैंसर के खतरे को दुगुना करता है। यह कोलोरेक्टल कैंसर, स्तन कैंसर,  और मूत्राशय के कैंसर का खतरा 20% से 50% तक  बढ़ाता   है। हालाँकि यह पुरुषों के प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करता है। 

 

[इसे भी पढ़ें : डायबिटीज में संक्रमण]

 

जांच करवाते रहें -
बेवजह  थकान जहाँ डायबिटीज  का लक्षण होता है वहीं यह कैंसर का भी लक्षण होता है। अतः इस लक्षण को महसूस करने पर अपनी उचित जांच करवाएं। अगर आपका वजन असामान्य रूप से कम होने लगा हो, जिसका उपयुक्त कारण आपकी समझ में न आ रहा हो तो अपनी जांच करवाएं।

बचाव -
अगर आप कैंसर से बचना चाहते हैं तो आपको इस बात का पूरा ख्याल रखना होगा कि आपको डायबिटीज  न हो। और आपको डायबिटीज  न हो इसके लिए आपको इस बात का पूरा ख्याल रखना होगा कि आप मोटापे के शिकार न हों यानि आपका वजन ज्यादा न हो। इन सबके लिए आपको नियमित रूप से व्यायाम करना होगा। अगर आप कठोर व्यायाम नहीं कर सकते तो रोजाना सुबह शाम 30 से 60 मिनट पैदल चला करें। ऐसा न समझें कि पैदल चलने से सिर्फ आपके पैरों का व्यायाम होता है बल्कि सच तो ये है कि  इससे आपके पूरे शरीर का व्यायाम हो जाता है। पैदल चलने से वजन कम होता है और आपके शरीर की रोग प्रतिरक्षण प्रणाली मजबूत होती है जो कैंसर के कारकों से लड़ता है और आपको कैंसर से बचाता है।

डायबिटीज  से बचने के लिए आपको अपने खान पान का भी ध्यान रखना होगा। अस्वाथ्यकर खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचें तथा स्वास्थ्यवर्धक खाद्य पदार्थों का सेवन किया करें। 


जिन महिलाओं को डायबिटीज  है, उन्हें कैंसर से बचने के लिए पुरुषों के मुकाबले ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है।

 

Read More Articles on Diabetes in Hindi.

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।