Covid-19 से उभर चुके लोग कर सकते हैं 'रक्तदान'? जानें ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब

Updated at: Jan 22, 2021
Covid-19 से उभर चुके लोग कर सकते हैं 'रक्तदान'? जानें ऐसे ही कुछ सवालों के जवाब

जो लोग कोरानावायरस से लड़ कर अब अपना सामान्य जीवन जी रहे हैं वे रक्तदान दे कर सकते हैं या नहीं? जानते हैं एक्सपर्ट से...

Garima Garg
विविधWritten by: Garima GargPublished at: Jan 22, 2021

रक्तदान जिसे महादान भी कहते हैं यह लोगों का जीवन बचाने में मदद कर सकता है। हालांकि महामारी के दौर में रक्तदान का प्रबंध करना थोड़ा सा मुश्किल हो गया है। ऐसे में देश भर के ब्लड बैंकों में ब्लड की कमी हो गई है। जब से कोरोना ने देश में हड़कप मचाया है लोग सोशल डिस्टेंसिंग के लिए घर पर हैं और वायरस को रोकने का काम कर रहे हैं। लेकिन जरूरत पड़ने पर सामाजिक कॉल का जवाब देना भी जरूरी है। महामारी के दौर में रक्तदान करने वालों के कई ऐसे सवाल हैं जिनके जवाब हमारे फॉर्टिस हॉस्पिटल कल्याण के एक्सपर्ट चीफ इंटेंसिविस्ट एंड फिजीशियन डॉ संदीप पाटिल दे रहे हैं। पढ़ते हैं आगे...

क्या रक्तदान करने से हम कोविड-19 के संपर्क में आ सकते हैं?

भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, रक्तदान करने से कोविड-19 के संपर्क में नहीं आते हैं क्योंकि यह वायरस सांस से संबंधित है और रक्तदान के माध्यम से इसका प्रचार-प्रसार नहीं हो सकता।

कोविड-19 से उभरे लोग रक्तदान कर सकते हैं?

कोरोना वायरस से संक्रमण हो जाने के बाद कुछ लोगों में खांसी, सांस लेने में तकलीफ, गंध ना आना आदि समस्या देखने को मिलती हैं लेकिन इका मतलब ये नहीं कि वे लोग दान नहीं कर सकते बिना किसी डर के आसानी से रक्तदान कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- आपकी बेड शीट भी बन सकती है कई बीमारियों का कारण, जानें बेडशीट को धोने का सही तरीका और सही समय

 कोविड-19 से उभरे हुए मरीज कब रक्तदान कर सकते हैं? 

1- अगर किसी व्यक्ति को कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं और उसका टेस्ट सकारात्मक है तो वह व्यक्ति कम से कम 28 दिन तक रक्तदान नहीं कर सकता। 28 दिन बाद लक्षण खत्म हो जाएंगे तब व्यक्ति रक्तदान कर सकता है।

2- यदि किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण पाए गए हैं लेकिन उसका टेस्ट नकारात्मक है तो वह व्यक्ति 14 दिन बाद रक्तदान कर सकता है। 14 दिन बाद शरीर में देखे गए लक्षण खत्म हो जाते हैं।

3- यदि कोई व्यक्ति कोरोना के लक्षण देखे गए हैं पर उसका परीक्षण नहीं हो पाया या परीक्षण तो हुआ लेकिन उस परीक्षा का परिणाम नजर नहीं आया तब भी वह व्यक्ति लक्षणों के 28 दिन बाद तक रक्तदान नहीं कर सकता। 28 दिन के खत्म हो जाने के बाद वे व्यक्ति रक्तदान कर सकता है।

4- यदि व्यक्ति का टेस्ट पॉजिटिव आया है लेकिन उसमें कोरोनावायरस के लक्षण नहीं पाए गए हैं तब भी व्यक्ति परीक्षण के 28 दिन तक रक्तदान नहीं कर सकता।

इसे भी पढ़ें- बैड कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है चीज़, एक्सपर्ट से जानें शुगर के मरीज के लिए चीज़ (Cheese) के फायदे

नोट-

ऊपर बताए गए सुझाव संयुक्त यूनाइटेड किंग्डम यूके रक्तदान ऊतक प्रत्यारोपण सेवा पेशेवर सलाहकार समिति द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार हैं। भारत की बात की जाए तो कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव 28 दिन के बाद ही रक्तदान कर सकता है। ऐसे में वे एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 

इस समय रक्त दान करने की इच्छा रखने वाले लोगों के मन में अनेक सवाल हैं, जिनमें से कुछ सवालों के जवाब उपर दिए गए हैं। ऐसे में जो लोग सीओवीआईडी -19 से लड़ चुके हैं वे अपनी डॉक्टर की सलाह पर भी रक्तदान कर सकते हैं।

डॉ. संदीप पाटिल, चीफ इंटेंसिविस्ट एंड फिजिशियन, फोर्टिस हॉस्पिटल, कल्याण से बातचीत पर आधारित है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK