• shareIcon

Book Lovers Day: ई-बुक्स के बजाय पेपर बुक्स पढ़ना है सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद, जानें 5 फायदे

तन मन By शीतल बिष्ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Aug 09, 2019
Book Lovers Day: ई-बुक्स के बजाय पेपर बुक्स पढ़ना है सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद, जानें 5 फायदे

किताब पढ़ने का भी अपना एक अलग ही मजा होता है। आप में से बहुत से लोगों को किताब पढ़ने का शौक होगा। आपकी यह आदत जानें अनजाने आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती है।

किताब पढ़ने का भी अपना एक अलग ही मजा होता है। आप में से बहुत से लोगों को किताब पढ़ने का शौक होगा। आपकी यह आदत जानें अनजाने आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती है। किताब पढ़ने में एक अलग ही आनंद है, आप किताब पढ़ते-पढ़ते उसके पात्रों के साथ एक काल्‍पनिक दुनिया में पहुंच जाते हैं और कई बार तो आप अपने आप को उससे जुड़ा हुआ महसूस करने लगते हैं। किताब पढ़ने से आपके मन को शांति और कई अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य लाभ होते हैं। विज्ञान ने भी साबित कर दिया है कि एक अच्छी किताब को पढ़ना व्‍यक्ति को कई फायदे होते हैं, तो आइए हम आपको बताते हैं कि किताब पढ़ने के आपके स्‍वास्‍थ्‍य को क्‍या-क्‍या लाभ होते हैं। 

तनाव दूर करे 

यदि आप रोजाना किताब पढ़ते हैं, तो यह आपके तनाव को दूर करने में मददगार है। मेडिटेशन के साथ-साथ एक अच्‍छी किताब पढ़ने से भी तनाव को दूर करने में मदद मिलती है। आजकल तनाव हर किसी के जीवन का एक हिस्सा बन चुका है, इसलिए तनावमुक्‍त रहने के लिए रोजाना रात को सोने से पहले 1 घंटे किताब पढ़ना आपके लिए फायदेमंद होता है। यूनिवर्सिटी ऑफ ससेक्स द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, एक किताब पढ़ने से तनाव में 68 प्रतिशत की कमी पाई जाती है। इसलिए एक अच्छी किताब के साथ खुद जोडें।

डिमेंशिया के खतरे को कम करे 

किताब पढ़ने से आपके मस्तिष्क का व्यायाम होता है और तंत्रिका मार्गों को खोलता है। किताब पढ़ने से आपकी याददाश्‍त तेज होती है। इसलिए, यदि आपको किताब पढ़ने की आदत है, तो इससे आपकी उम्र बढ़ने के साथ याददाश्‍त कमजोर नहीं होती। किताब पढ़ने की आदत की वजह से आपको चीजों को याद रखने के लिए संघर्ष नहीं करना पड़ेगा। 

इसे भी पढें: थकी हुई आंखों और दिमाग को तुरंत ठीक करेंगे ये 4 योगासन, मिलेंगे कई फायदे

अच्‍छी नींद पाने के लिए पढ़े किताब 

जी हां आपकी किताब पढ़ने की आदत आपको अनिद्रा से निपटने में भी मदद करती है। बहुत से लोग नींद न आने की वजह से देर रात तक जगते हैं, ऐसे में यदि आप रोजाना रात को सोन से पहले 1 घंटे किताब पढ़ते हैं, तो इससे आपको अच्‍छी नींद आती है और मन में अच्‍छे-अच्‍छे व नये विचार आते हैं। लेकिन हमेशा ध्‍यान रखें कि आप इस समय अपने मोबाइल फोन का उपयोग न करें क्योंकि मोबाइल फोन की रौशनी आपकी नींद व स्‍वास्‍थ्‍य दोनों को प्रभावित कर सकती है। 

शब्दावली बढ़ती है

यदि आपको किताब पढ़ने की आदत है, तो इससे आपकी शब्‍दावली बढ़ती है और आपके पास नए शब्‍द के साथ नए-नए विचार आते हैं। किताब पढ़ने से आपका शब्‍दकोष मजबूत होता है और आप कई नई चीजें जानते व सीखते हैं। किताब पढ़ने से विशेष रूप से बच्चों के शब्‍दकोष में 15 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

इसे भी पढें: 5 हेल्‍थ ट्रेंड्स जो आपके स्‍वास्‍थ्‍य को पहुंचा सकते हैं नुकसान, कहीं आप तो नहीं इनके शिकार?

दीर्घायु और क्रिएटिविटी बढ़ाती है किताब 

आप जितना अधिक आप पढ़ते हैं, उतने ही रचनात्मक बनते हैं। जी हां टोरंटो विश्वविद्यालय द्वारा किए गए शोध के अनुसार, काल्पनिक किताबें पढ़ने से दिमाग खुल जाता है और जिससे कि किताब पढ़ने वाले व्‍यक्ति को नए दृष्टिकोण सीखने में मदद मिलती है। इस प्रकार यह आपको अधिक रचनात्मक यानि क्रिएटिव बनाता है। एक अध्ययन के अनुसार, जो लोग नियमित रूप से किताब पढ़ते हैं, वे उन लोगों की तुलना में अधिक समय तक स्वस्थ और स्वस्थ रहते हैं, जो किताबें नहीं पढ़ते हैं।

Read More Article On Mind and Body In Hindi 

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।