आपके दर्द सहने की क्षमता को बढ़ा देती है भांग की 1 गोली, शोधकर्ताओं ने गिनाए भांग खाने के फायदे

Updated at: Oct 05, 2019
आपके दर्द सहने की क्षमता को बढ़ा देती है भांग की 1 गोली, शोधकर्ताओं ने गिनाए भांग खाने के फायदे

अक्सर दर्द से होने वाली तकलीफ को सहना लोगों के लिए बेहद मुश्किल और चिंता का सबब बन जाता है। कई जगह दर्द को कम करने के लिए मरीजों को भांग की गोली भी दी जाती है, जिससे मरीज को होने वाले दर्द में कमी हो जाती है। 

Jitendra Gupta
विविधWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Apr 23, 2015

अक्सर दर्द से होने वाली तकलीफ को सहना लोगों के लिए बेहद मुश्किल और चिंता का सबब बन जाता है। कई जगह दर्द को कम करने के लिए मरीजों को भांग की गोली भी दी जाती है। अभी तक ऐसा माना जाता रहा है कि इससे मरीज को होने वाले दर्द में कमी हो जाती है। लेकिन, ऐसा नहीं है। दरअसल भांग की गोली खाने से दर्द कम नहीं होता, बल्कि दर्द सहने की क्षमता बढ़ जाती है। भांग की गोली हमारे शरीर में जाकर दर्द को सहने की क्षमता बढ़ा देती है, जिस कारण हमें दर्द कम महसूस होता है। अगर आप भी सोच रहे हैं कि ऐसा कैसे हो सकता है तो ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने  इसके पीछे की वजह बताई है, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे।

क्या कहता है शोध

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने शोध में यह पाया  कि भांग में मौजूद 'टीएचसी' नामक तत्व मस्तिष्क के उन हिस्सों की सक्रियता को कम कर देता है, जो दर्द महसूस करने के लिए जिम्मेदार होते हैं। इससे मरीजों में दर्द से लड़ने और उसे बर्दाश्त करने की क्षमता में इजाफा होता है।

इसे भी पढ़ेंः बेड पर खाने की है आदत तो हो जाइए सावधान, हो सकती हैं ये 4 परेशानियां

शोधकर्ताओं ने इस तकनीक का किया प्रयोग

'ब्रेन इमेजिंग' तकनीक का इस्तेमाल करके शोधकर्ताओं ने पाया कि भांग में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो दिमाग के एक खास हिस्से की सक्रियता को कम कर देते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि ये मस्तिष्क का वह हिस्सा होता है जिसका संबंध दर्द के भावनात्मक पहलू से है।ये शोध 'पैन' नामक एक जर्नल में प्रकाशित हुआ है।

क्या कहते हैं शोधकर्ता

मुख्य शोधकर्ता डॉक्टर माइकल ली कहते हैं, ''हमने पाया कि डेल्टा 9 टेट्राहाइड्रोकेनाबिनॉल के इस्तेमाल के बाद लोगों को दर्द का अहसास कम हो रहा था।'' डॉक्टर माइकल ली का कहना है कि एमआरआई स्कैन से पता चला कि दिमाग के एक खास हिस्से की सक्रियता कम हो गई जिससे इन लोगों को दर्द का बहुत ज्यादा अहसास नहीं हुआ।

भांग से होने वाले स्वास्थ्य लाभ

चिकित्सा भाषा में कैनाबिस सटाइवा कही जानेवाली भांग का आयुर्वेदिक उपचार में बहुत इस्तेमाल होता है। "रोग के लक्षणों और कारणों के आधार पर आयुर्वेद में भांग का अलग-अलग इस्तेमाल होता है।" कई प्रकार के रोगों जैसे दर्द, मतली और उल्टी के इलाज में इसका उपयोग किया जाता है। मधुमेह के कारण वजन में होनेवाली कमी और तंत्रिकातंत्र संबंधी रोगों के इलाज में भी इसका इस्तेमाल होता है। यदि सही मात्रा में लिया जाए तो इससे बुखार और पेचिश के इलाज, तुरंत पाचन और भूख बढ़ाने में मदद मिल सकती है।

इसे भी पढ़ेंः आपकी दवा के असर को धीमा कर देती हैं ये 5 चीजें, ठीक होने में लग सकता है दोगुना समय

गठिया में भी फायदेमंद है भांग

गठिया, अवसाद और चिंता के इलाज के लिए भी इसका उपयोग किया जा सकता है, जबकि त्वचा रोगों के उपचार में भी यह लाभदायक है। "कई लोग त्वचा के रूखी और खुरदुरी होने की शिकायत लेकर आते हैं और यह पाया गया है कि भांग की ताजा पत्तियों का लेप लगाने से त्वचा ठीक हो जाती है।''

वेदों में बताया गया जड़ी-बूटी

भांग सेहत के लिए लाभदायक भी होती है बहुत कम लोग ही स्वास्थ्य के लिए भांग के फायदों को जानते हैं।‘अथर्ववेद’ में इसे चिंता दूर करनेवाली एक जड़ी-बूटी बताया गया है।

Read More Articles On Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK