डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद है ये 5 पेय पदार्थ, जानिए 2 हानिकारक पेय के बारे में भी

Updated at: Oct 16, 2020
डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद है ये 5 पेय पदार्थ, जानिए 2 हानिकारक पेय के बारे में भी

किन-किन पेय पदार्थों से आपकी डायबिटीज बढ़ सकती है क्या आप जानते हैं? यदि नहीं! तो यह लेख आपके लिए है।

Monika Agarwal
डायबिटीज़Written by: Monika AgarwalPublished at: Sep 07, 2020

यदि आप डायबिटीज से पीड़ित हैं तो सबसे पहला काम भोजन और शारीरिक गतिविधियों को मैनेज करना है। एक सामान्य व्यक्ति और डायबिटीज से ग्रस्त व्यक्ति दोनों के शरीर की जरूरतें एकसी होती हैं। लेकिन पोषक तत्वों का सेवन लिंग और उम्र के हिसाब से अलग होता है।

डायबिटीज होने पर अपने आहार और पेय पदार्थों के सेवन के तरीके में बदलाव कर आप अपनी शुगर नियंत्रित कर सकते हैं। देखा गया है कि डायबिटीज का रोगी पेय पदार्थों के सेवन के प्रति लापरवाह होता है। आप को अपने पीने की चीज़ों पर भी उतना ही ध्यान रखना चाहिए, जितना कि आप अपनी खाने की चीजों का रखते हैं।

कुछ पेय आप के ब्लड शुगर को बहुत अधिक बढ़ा सकते हैं, जैसे कई प्रकार की कोल्ड ड्रिंक एवं सोडा आदि। ऐसे में आपको कौन सा पेय पीना चाहिए या नहीं, इस बात की पूरी जानकारी जरूरी है। जानते हैं विस्तार से।

drinks

डायबिटीज में क्या पियें

1. लो फैट ड्रिंक (Low fat drink)

अपने आहार में लो फैट ड्रिंक या डेयरी उत्पादों को शामिल करना शुरू कर दें। लेकिन ध्यान रखिए कि वह विटामिन और खनिज से तो भरपूर हूं लेकिन उन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम हो। इसलिए दूध लो फैट वाला ही चुनें, जैसे कि गाय या बकरी का दूध। कोशिश करें कि सारे दिन में एक या डेढ़ क्लास से ज्यादा डेरी मिल्क न लें। यदि आप कोई बेहतर ऑप्शन ढूंढ रहे हैं तो आप अखरोट या नारियल का दूध भी चुन सकते हैं।

2. सादा या नींबू का पानी (Drink Lime water)

ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए पानी सबसे अच्छा साधन है इससे बॉडी हाइड्रेटेड भी रहती है लेकिन यदि आप सादा पानी नहीं पी पा रहे हैं तो आप नींबू संतरा पुदीना आदि डालकर भी फ्लेवर्ड वॉटर पी सकते हैं। इस तरह से आप की शुगर भी नियंत्रित रहेगी। एक्सपर्ट्स के अनुसार यदि आप शुगर वाली कॉफी या चाय पीते हैं तो उसके फौरन बाद एक गिलास पानी अवश्य पिएं। इस तरह से आप के ब्लड में शुगर की मात्रा संतुलित रहेगी।

3. ग्रीन टी (Green Tea)

कई शोधों से पता चला है कि ग्रीन टी आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक है। सारे दिन में 4 से 5 कब ग्रीन टी का सेवन रक्तचाप और (एलडीएल) हानिकारक कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करता है। यही नहीं टाइप 2 मधुमेह का खतरा कम होता है। यदि आप सादी चाय भी चुनते हैं, तो आपको उसमें शक्कर के प्रयोग से बचना चाहिए। वरना आपकी रक्त शर्करा एकदम से बढ़ जाएगी।

4. डिकैफ़ कॉफी (Decaff coffee)

कुछ शोधों से यह बात सामने आई है कि कॉफी पीने से भी डायबिटीज नियंत्रित रहती है। लेकिन कॉफी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है और कैफीन का अधिक सेवन आपको चिड़चिड़ा बना सकता है। इसलिए अच्छा होगा यदि आप डिकैफ़ कॉफी का सेवन करें। कॉफी में कम से कम दूध,या क्रीम या फिर शक्कर का प्रयोग करें। क्योंकि यह तीनों चीजें आपके  शुगर लेवल को बढ़ा देती हैं।

5. वेजिटेबल जूस पिएं (Drink vegetables Juice)

शायद आपको मालूम नहीं होगी अधिकांश फलों का जूस पूरी तरह से मीठा पानी ही होता है अगर फलों के जूस की जगह फल का सेवन करें और इसकी वजह टमाटर या सब्जियों का जूस या सूप बनाकर पियें। वेजिटेबल जूस विटामिन और एंटी आक्सिडेंट्स से भरपूर होते हैं व आप की सेहत व डायबिटीज के लिए बहुत अच्छे रहते हैं। आप चाहें तो इनमें जामुन भी मिला सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: डायबिटिक के लिए हेल्दी कार्बः डाइट में इन 5 हेल्दी कार्ब को शामिल कर रोगी कंट्रोल रख सकते हैं अपना ब्लड शुगर

डायबिटीज में क्या न पियें

1. शक्ति वर्धक पेय  (Energy Drinks)

आपको किसी भी प्रकार के एनर्जी ट्रेन का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इनके सेवन से घबराहट उच्च रक्तचाप अनिद्रा और अन्य स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां हो सकती हैं। एक्सपर्ट के अनुसार इस तरह के पेय पदार्थ शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा को अनियंत्रित कर देते हैं। व इंसुलिन प्रतिरोध का कारण भी बनते हैं। 

इसे भी पढ़ें: दोपहर के भोजन (लंच) में शामिल करें ये 5 फूड, ब्‍लड शुगर लेवल हमेशा रहेगा कंट्रोल

2. अल्कोहल युक्त पेय (Alcohol)

यदि आप को शराब पीना पसंद है तो आप कम मात्रा में रेड वाइन का प्रयोग कर सकते हैं लेकिन अधिक अल्कोहल का सेवन आपके शरीर के लिए हानिकारक है ज्यादा अल्कोहल शरीर में डिहाइड्रेशन का कारण बनती है और डिहाइड्रेशन की अवस्था में ब्लड शुगर बढ़ जाता है। रेड वाइन में एंटीऑक्सीडेंट्स और कुछ कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं जो नुकसान नहीं करते।

Read More Article On Diabetes In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK