• shareIcon

साइकिल चलाना है कंप्लीट एक्सरसाइज, जानें रोजाना साइक्लिंग करने वालों की डाइट कैसी होनी चाहिए

स्वस्थ आहार By शीतल बिष्‍ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Dec 12, 2012
साइकिल चलाना है कंप्लीट एक्सरसाइज, जानें रोजाना साइक्लिंग करने वालों की डाइट कैसी होनी चाहिए

साइकिल चलाना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। साइकिल चलाने से आप फिट और हेल्‍दी रहते हैं क्‍योंकि साइक्‍लिंग करने से आदमी का शरीर चुस्त और फुर्तिला होता है। इतना ही नहीं इससे रक्‍त संचार सुचारू रूप से होता है और आप

आजकल कई प्रकार की मोटर गाडि़यों के चलते साइकिल का प्रयोग लगभग समाप्‍त ही हो चुका है। लेकिन आज भी गांव व शहरों में कुछ लोग साइकिल चलाते हैं। साइक्लिंग करने का एक अलग ही मजा होता है। लगभग सभी ने बचपन में साइकिल तो चलाई ही होगी। वैसे साइकिल को बहुत से लोग मध्‍यम वर्ग की सवारी मानते हैं, परन्‍तु क्‍या आप जानते हैं कि साइकिल चलाने हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए कितना लाभदायक है। साइकिल चलाने से मांसपेशियां मजबूत रहती हैं और रक्‍त का संचार सुचारू रूप से होता है। जिससे दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है।

साइकिल चलाना अपने आप में एक‍ एक्‍सरसाइज है, जो आपकी मांसपेशियों को मजबूत करने के साथ वजन को कम करने में भी मददगार है। अगर आपके घर में भी साइकिल है, तो उसे किसी कोने में पड़े र‍हने के बजाय रोजाना चलाएं, अपने छोटे-छोटे कामों के लिए साइकिल को इस्‍तेमाल में लाएं। इसके अलावा यदि आप साइकिल चलाते हैं, तो आइए आपको बताते हैं साइकिल चलाने वालों की आहार योजना कैसी हो। 

साइक्लिंग

साइकिल चलाने वालों के लिए आहार योजना: 

साइकिल चलाने वालों को एनर्जी देने वाले आहार ही खाने चाहिए। यह ध्यान रखना चाहिए कि आप जो आहार ले रहे हैं उसमें विटामिन, कैल्शियम और प्रोटीन की भरपूर मात्रा है या नही। साइकिल चलाने वाले अपने डाइट प्लान कुछ इस तरह से बना सकते हैं - 

ब्रेकफास्ट: 

  • 100 ग्राम जई का दलिया, अलसी का कुछ हिस्सा, गेहूं की दो रोटी, 300 मिलीग्राम मलाईरहित दूध।
  • 250 मिलीलीटर ताजा फलों का जूस।

ब्रेकफास्टू करके, कुछ समय के अंतराल के बाद सीजनल फल और एक कप ग्रीन टी पीने से शरीर को ऊर्जा मिलती है।

लंच: 

  • गेहूं की दो रोटियां, उसमें जैतून के तेल को लगाकर खाएं।
  • 100 ग्राम सूखे फल।
  • खीरा, ककडी, चुकंदर और अन्य फलों से बना हुआ एक प्लेट सलाद।
  • कम वसायुक्त एक प्लेट दही।


लंच करने के बाद, शाम के वक्त नाश्ते में 100 ग्राम सूखे फल खाने चाहिए। एक केले को 200 ग्राम दही में मिलाकर खाइए। इसके अलावा एक कप ग्रीन टी भी पी सकते हैं। 

इसे भी पढें: रोजाना एक ग्‍लास दूध बुढ़ापे तक दांतों को रखेगा मजबूत, पाचन होगा दुरूस्‍त

डिनर: 

  • डिनर में बासमती चावल, गेहूं का पास्ता, भुना हुआ या उबला हुआ आलू खाना चाहिए।
  • यह ध्यान रखिए कि आपके डिनर में हरी और सीजनल सब्जियों की भरपूर मात्रा हो।
  • कम वसायुक्त और बिना चीनी मिलाए हुए 200 ग्राम दही भी डिनर के साथ लेना चाहिए।
  • डिनर करने के बाद, 250 मिग्रा या एक ग्लास मलाई रहित दूध पीजिए।

साइकिल चलाने वाले के लिए यह साधारण डाइट प्लान है। आदमी अपनी आवश्यकता के अनुसार इस डाइट प्लान में परिवर्तन भी कर सकता है। साइकिल चलाने से पहले ज्यादा गरिष्ठ खाना नहीं खाना चाहिए। साइकिल चलाने के तुरंत बाद खाना खाने से बचें। भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए जिससे साइकिलिंग के वक्त निकले पसीने के रूप में निकलने वाले पानी की पूर्ति किया जा सके।

इसे भी पढें: ज्यादा खीरा खाना भी हो सकता है नुकसानदायक, जानें इसके 5 दुष्प्रभाव

साइक्‍लिंग करने से आदमी का शरीर चुस्त और फुर्तिला होता है। इसके अलावा आदमी कई सामान्य बीमारियों से छुटकारा भी पा सकता है। साइकिलिंग वातावरण को प्रदूषण मुक्त करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए बाइक या कार चलाने की अपेक्षा साइकिल चलाएं।

Read More Article on Diet-Plan in hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK