सुबह खाली पेट पिएं 1 चम्मच शहद, आपके मस्तिष्क के लिए इससे बेहतर ब्रेकफास्ट दूसरा कोई नहीं, जानें कारण

Updated at: Jun 17, 2020
सुबह खाली पेट पिएं 1 चम्मच शहद, आपके मस्तिष्क के लिए इससे बेहतर ब्रेकफास्ट दूसरा कोई नहीं, जानें कारण

सुबह उठने के बाद खाली पेट एक 1 चम्मच शहद आपके मस्तिष्क शरीर और मस्तिष्क की सेल्स को नष्ट होने से बचाता है और जीवनभर आपका ब्रेन अच्छी तरह काम करता है।

Anurag Anubhav
स्वस्थ आहारWritten by: Anurag AnubhavPublished at: Jun 17, 2020

अगर आपसे पूछें कि आपके शरीर के सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा कौन सा है? तो संभवतः सभी का जवाब एक ही होगा- मस्तिष्क। मस्तिष्क हमारे शरीर का संचालक है, जिसके इशारे पर हमारे शरीर का हर एक फंक्शन काम करता है। हमारे शरीर में सबसे ज्यादा काम मस्तिष्क करता है इसलिए शरीर जो भी एनर्जी बनाता है, उसका एक बड़ा हिस्सा मस्तिष्क इस्तेमाल करता है। इसी तरह शरीर में सबसे ज्यादा ऑक्सीजन की जरूरत भी हमारे मस्तिष्क को ही होती है। लेकिन यह भी एक तथ्य है कि मस्तिष्क में पॉलीसैचुरेटेड फैटी एसिड्स और लिपिड्स की मात्रा अधिक होने के कारण शरीर में ऑक्सिडेशन की क्रिया से जो फ्री-रेडिकल्स निकलते हैं, वो सबसे ज्यादा नुकसान भी मस्तिष्क को ही पहुंचाते हैं। फ्री रेडिकल्स मस्तिष्क की कोशिकाओं को नष्ट करते रहते हैं, जिसके कारण अल्जाइमर, डिमेंशिया जैसी बीमारियां लोगों को होती हैं।

honey and water in empty stomach

हमारे मस्तिष्क के लिए बहुत जरूरी हैं एंटीऑक्सीडेंट्स

शरीर में होने वाले इस ऑक्सिडेशन को रोकने के लिए हमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स की जरूरत पड़ती है। ये एंटीऑक्सीडेंट्स हमें खाने-पीने की चीजों से मिलते हैं। इसीलिए कहा जाता है कि जो लोग नैचुरल चीजें ज्यादा खाते हैं, उन्हें बुढ़ापा और याददाश्त की कमी जैसी समस्याएं कम होती हैं। मस्तिष्क को नुकसान पहुंचाने से रोकने के लिए कई तरह के पोषक तत्वों की जरूरत होती है, जैसे- विटामिन C, विटामिन E, जिंक, बीटा कैरोटीन, सेलेनियम आदि।

इसलिए अगर आप रोजाना सुबह खाली पेट कोई ऐसी चीज खाएं जो पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर हो, तो आपका मस्तिष्क और शरीर दोनों लंबे समय तक स्वस्थ रहेंगे। ऐसी एक चीज हम सभी के घरों में बहुत आसानी से उपलब्ध होती है, जो कि शहद है।

इसे भी पढ़ें: मस्तिष्क की क्षमता को बढ़ाते हैं ये 6 विटामिन ई से भरपूर आहार, डाइट में करें शामिल

एंटीऑक्सीडेंट्स का भंडार है शहद

शहद का महत्व आयुर्वेद में भी बहुत अधिक है और आज के विज्ञान ने भी शहद को बहुत पावरफुल औषधि माना है। अगर आप शहद बनाने वाली मक्खियों को देखें और इनके छत्ते को देखें, तो आपको शहद कुदरत के किसी नायाब चमत्कार से कम नहीं लगेगा। और इसके फायदे जानने के बाद तो आपको और अधिक हैरानी होगी।
अच्छी क्वालिटी के शहद में कई तरह के ऑर्गेनिक एसिड्स और फ्लैवोनॉइड्स जैसे फेनॉलिक कंपाउंड्स होते हैं, जो खून में घुलकर बीमारियों से लड़ने में और फ्री रेडिकल्स से लड़ने में शरीर की मदद करते हैं।

शरीर के सभी अंगों की रक्षा करता है शहद

शहद में एंटी-वायरल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं, जिसके कारण ये आपके इम्यून सिस्टम को मजबूती देता है और लिवर, हार्ट, किडनी, फेफड़ों आदि की रक्षा करता है। लेकिन शहद सबसे ज्यादा फायदेमंद आपके मस्तिष्क के लिए होता है। मस्तिष्क कोशिकाओं (Brain Cells) को होने वाले डैमेज से रोकने में शहद बड़ी भूमिका निभा सकता है। यहां तक कि यह भी देखा गया है कि बूढ़े लोग अगर रोजाना एक चम्मच शहद लें, तो उनकी याददाश्त, एकाग्रता और देखने की क्षमता लंबे समय तक बनी रहती है।

इसे भी पढ़ें: इन 5 तरीकों से बूस्ट करें अपनी ब्रेन पावर, याददाश्त होगी तेज

honey for brain

रोजाना सुबह 1 चम्मच शहद रखेगा आपको हेल्दी और एक्टिव

रोजाना सुबह उठने के बाद 1 ग्लास गुनगुने पानी में 1 चम्मच ऑर्गेनिक अच्छी क्वालिटी वाला शहद घोलें और पिएं। इसके बाद कम से कम 30 मिनट तक कुछ और न खाएं। इससे आपके शरीर को एनर्जी मिलेगी, एंटीऑक्सीडेंट्स मिलेंगे और शरीर और मस्तिष्क दोनों लंबे समय तक स्वस्थ रहेंगे। बस इतना ध्यान दें कि अगर आपको डायबिटीज या पीसीओडी (PCOD) की समस्या है, तो अपने डॉक्टर से पूछकर ही शहद का सेवन करें।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi




Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK