• shareIcon

गुणों की खान है नीबू

घरेलू नुस्‍ख By Rahul Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Feb 04, 2011
गुणों की खान है नीबू

विटामिन सी की भरपूर मात्रा वाला नींबू शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है और सेहत और सुंदरता दोनों के लिए ही लाभदायक भी होता है।

नीबू का नियमित सेवन सेहत के लिहाज से बेहद लाभकारी है। विटामिन सी से भरपूर नीबू शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ ही एंटी आक्सीडेंट का काम भी करता है। नींबू एक ऐसा फल है जिसकी केवल खुशबू से खुशबू ही ताजगी का अहसास होने लगता है। नींबू किसी भी रूप में गुणकारी ही होता है, फिर चाहे आप इसे सेहत के लिए उपयोग करें या सुंदरता के लिए। तो चलिये जानते हैं क्या हैं नींबू के फायदे।

 

आहार विशेषज्ञ बताते हैं कि किसी भी अन्य फल के मुकाबले नीबू में विटामिन सी की मात्रा सबसे ज्यादा होती है। यह एंटी आक्सीडेंट की तरह काम करता है और कोलेस्ट्राल भी कम करता है। साक्षी ने कहा कि नीबू में मौजूद विटामिन सी और पोटेशियम घुलनशील होते हैं, जिसके चलते ज्यादा मात्रा में इसका सेवन भी नुकसानदायक नहीं होता। रक्ताल्पता से पीडि़त मरीजों को भी नीबू के रस के सेवन से फायदा होता है। यही नहीं, नीबू का सेवन करने वाले लोग जुकाम से भी दूर रहते हैं।

 

 

नींबू के फायदे

 

 

औषधि के रूप में

 

  • बदहजमी होने पर नींबू काटकर उसमें काला नमक लगाकर चूसने से बदहज़मी से आराम मिलता है।
  • जिन लोगों को भूख कम लगती है व पेट दर्द की शिकायत रहती है उन्हें नींबू की फांक में काला या सेंधा नमक लगाकर उसको तवे पर गर्म करके चूसने से न दर्द में आराम होता है और भूख भी खुलकर लगती है।
  • चक्कर या उल्टी आने पर नींबू के टुकडे पर काला नमक, काली मिर्च लगाकर खाने से चक्कर आने बंद हो जाते हैं और उल्टी भी बंद हो जाती है।
  • एक गिलास पानी में एक नींबू का रस निचोडकर उसमें एक चम्मच चीनी मिलाकर पीने से हैज़ा रोग भी ठीक हो जाता है।
  • नींबू के पत्तों के रस और शहद की बरीबर मात्रा मिलाकर पीने से 10-15 दिनों में पेट के कीड़े मर जाते हैं। नींबू के बीजों के चूर्ण की फंकी लेने से पेट के कीड़े नहीं रहते।
  • नींबू के पत्तों के रस को नाक से सूंघने से हमेशा सिरदर्द रहने की शिकायद से आराम मिलता है।
  • नींबू का रस निकालकर नाक में पिचकारी देने से नाक से खून गिरने (नकसीर) की समस्या बंद हो जाती है।
  • चुटकी भर हींग को नींबू में मिलाकर चूसने से मिर्गी रोग में भी लाभ होता है।
  • नींबू का रस व शहद मिलाकर मसूड़ों पर मलते रहने से उनसे रक्त आना बंद हो जाता है और पीपपन भी दूर होता है।
  • नींबू में फिटकरी का चूर्ण भरकर खुजली वाली जहग पर धीरे से रगड़ने पर खुजली बंद हो जाती है।
  • यदि गर्भधारण के चौथे महिने से प्रसवकाल तक महिला रोज़ एक नींबू की शिकंजी पीए तो प्रसव में कष्ट कम होता है।

 

 

 

निंबू के फायदे

 

 

सौंदर्य के लिए

 

  • नारियल के तेल में नींबू का रस मिलाकर रात में सिर में हल्के हाथ से रोजाना मालिश करने और सुबह सिर धोने से बालों की खुश्की की समस्या दूर होती है।
  • सिर धोने के पानी में दो नींबू निचोडकर एक सप्ताह तक लगातार प्रयोग करने से बाल मुलायम बनते हैं और उनका झडना कम होता है। साथ ही बालों की खुश्की या रूसी भी कम होती है।
  • नारियल के तेल में नींबू का रस और कपूर लगाकर सिर की मालिश करने से बालों के समस्याएं कम होती हैं।
  • सुबह नहाने से पहले नींबू के छिलकों को चेहरे पर धीरे-धीरे मलकर चेहरा पानी से धोने से चेहरे का रंग साफ होता है। यह बाजार में मिलने वाले किसी भी ब्लीचिंग क्रीम या ब्यूटी ब्लीच से बेहतर काम करता है। 
  • नींबू का रस और गुलाबजल बराबर मात्रा में मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरा बेदाग और इसकी त्वचा कोमल व स्वच्छ होती है।

 

 

एक नीबू दिन भर की विटामिन सी की जरूरत पूरी कर देता है। शायद इसके स्वास्थ्य रक्षक गुणों के चलते ही पश्चिमी देशों में इसके सेवन को बढ़ावा देने के लिए 29 अगस्त को 'लेमन जूस डे' मनाया जाता है। खाने में नीबू का इस्तेमाल कब से हो रहा है इसके निश्चित प्रमाण तो नहीं हैं लेकिन यूरोप और अरब देशों में लिखे गए दसवीं सदी के साहित्य में इसका जिक्र मिलता है। मुगल काल में नीबू को शाही फल माना जाता था। कहा जाता है कि भारत में पहली बार असम में नीबू की पैदावार हुई।

 

 

Read More Articles On Beauty & Personal Care in Hindi.

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK