• shareIcon

    घुटनों के दर्द को दूर करने के 4 जरूरी एक्सरसाइज

    दर्द का प्रबंधन By Rahul Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Feb 10, 2015
    घुटनों के दर्द को दूर करने के 4 जरूरी एक्सरसाइज

    कई बार घुटने की अस्थिरज्जु में टूट-फूट हो जाती है, जिससे जोड़ों का दर्द हो सकता है। इसलिये घुटनों के लिये कुछ नियमित व्यायाम जरूरी होता है। ताकी वे मजबूत रहें और इस प्रकार की समस्याओं से बचे रहें।

    जोड़ों में दर्द का एक आम समस्या है, जिसका प्रमुख कारण अकसर आर्थराइटिस, जिसे गठिया भी कहा जाता है, होता है। विशेषकर 60 की उम्र के बाद यह ज्यादा परेशान करता है। इसमें रोगी के हड्डियों में सूजन, अकड़न और जोड़ों में दर्द होता है। ऐसा जोड़ों में यूरिक एसिड जमने की वजह से होता है। यूरिक एसिड के जमने से मरीज के जोड़ों में गाठें भी बन जाती हैं। अधिकतर मामलों में यह समस्या अधिक उम्र के लोगों में ही होता है। इसके अलावा सर्दियों में लोगों की जीवनशैली बदलती है। गर्मियों के मौसम के मुकाबले इस मौसम में खान-पान बढ़ जाता है, और सुबह की एक्सरसाइज या वाकिंग नहीं हो पाती, सुबह लेट उठना, धूप न होना आदि कारणों से आर्थराइटिस की समस्या बढ़ने लगती है। लेकिन घुटनों के दर्द की इस समस्या से कुछ एक्सरासइज आपको आराम दिला सकते हैं।


    इसके अलावा आमतौर पर घुटने का दर्द या तो किसी दुर्घटना में लगी चोट या फिर घुटने पर बहुत ज्यादा दबाव पड़ने से होता है। अस्थिरज्जु के फटने से भी घुटने का दर्द हो सकता है। कई बार हमारी रोजमर्रा की गतिविधियां जैसे वॉकिंग, रनिंग, जंपिंग या सीढ़ियां चढ़ने से घुटने पर बहुत ज्यादा दबाव पड़ सकता है। और घुटने की अस्थिरज्जु में टूट-फूट हो जाती है, जिससे जोड़ों का दर्द हो सकता है। इसलिये घुटनों के लिये कुछ नियमित व्यायाम जरूरी होता है। ताकी वे मजबूत रहें और इस प्रकार की समस्याओं से बचे रहें।

     

    Knee Pain in Hindi

     

    स्ट्रेचिंग करें  

    घुटनों के दर्द से आराम पाने के लिए मसल स्ट्रेचिंग एक कारगर एक्सरसाइज है। ऐसी कई स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज हैं जिन्हें करना घुटने के लिए काफी लाभदायक होता हैं। ऐसी ही एक एक्सरसाइज हैम्स्ट्रिंग स्ट्रेचिंग भी हैस जिससे घुटनों के मसल ढीले होते हैं। इस एक्सरसाइज को करने के लिए आप एक पैर आगे करें और दूसरे पैर के घुटने को इतना मोड़ें कि दबाव महसूस होने लगें। आप ऐसे ही कुछ और स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज भी कर सकते हैं।

    योगासन करें

    अगर आपका घुटना किसी वजह से चोटिल हो गया है तो आप योगा कर सकते हैं। योग करने से मसल्स रीलैक्स होते हैं और घुटने पर से दबाव व तनाव भी कम होता है। ऐसे कई योगआसन हैं जो खासतौर पर घुटने को आराम पहुंचाने के लिए होते है। अन्य एक्सरसाइज की तुलना में योगा का असर अधिक समय तक रहता है। यदि आप नियमित रूप से सूर्यनमस्कार करें तो भी घुटने का दर्द काफी कम होता है।

     

    Knee Pain in Hindi

     

    स्टेप अप

    स्टेपिंग या स्टेप अप्स एक प्रकार की कार्डियो एक्सरसाइज होती है। यह एक्सरसाइज दिल की धड़कन को बढ़ाती है, शरीर में गर्मी पैदा करती है और पूरे शरीर को ऊर्जावान भी बनाती है। स्टेप अप करते समय अपने घुटने को न मोड़ें, बल्कि उसे पूरी तरह सीधा रखें। साथ ही एक समान गति से एक मिनट तक लगातार स्टेप अप करने से घुटने को काफी फायदा होता है। यदि आप किसी प्रकार की घुटने की चोट से जूझ रहें हैं तो इस एक्सरसाइज को कर सकते हैं।

    मैट एक्सरसाइज करें

    कुछ मैट एक्सरसाइज जैसे लेग लिफ्ट व नी लिफ्ट आदि में घुटने के मसल्स स्ट्रेच होते हैं, जिससे घुटने के दर्द को कम करने में सहायता होती है। मैट एक्सरसाइज को घर पर भी किया जा सकता है। ध्यान रहेकि इसे करतेसमय अपने पैर को ऊपर की ओर उठाते वक्त घुटने को न मोड़ें और कुछ देर पैर को उठा हुआ रहने दें। घुटने की चोट के​ लिए यह एक्सरसाइज काफी फादेमंद होती है।

    लेकिन किसी भी प्रकार की एक्सरसाइज को शुरू करने से पहले एक बार डॉक्टर से जांच घुटनों की जांच अवश्य करा लें, और इस विषय में सलाह लें कि आप ये एक्सरसाइज शुरू कर सकते हैं या नहीं।

    Disclaimer

    इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK