सेहत की इन 5 समस्याओं को दूर करने में शतावरी है मददगार, जानें इसे लेने का तरीका और नुकसान

Updated at: Jan 15, 2021
सेहत की इन 5 समस्याओं को दूर करने में शतावरी है मददगार, जानें इसे लेने का तरीका और नुकसान

शतावरी एक ऐसी जड़ी-बूटी है, जिसका उपयोग सेहत को अनेक समस्याओं से दूर रख सकता है। लेकिन साथ ही शतावरी के नुकसान जानने भी जरूरी हैं।

Garima Garg
आयुर्वेदWritten by: Garima GargPublished at: Jan 15, 2021

हमारे आस-पास ऐसी जड़ी-बूटी मौजूद हैं जिनके फायदों के बारे में शायद हम भी पूरी तरह नहीं जानते। आज हम इस लेख के माध्यम से ऐसी ही एक जड़ी बूटी के बारे में बताएंगे। इस जड़ी-बूटी का नाम है शतावरी। बता दें कि यह जड़ी बूटी हिमालय और हिमालयी क्षेत्रों में मिलती है। इस शतावरी के अंदर एंटीऑक्सीडेंट गुण और तनाव दूर करने के गुण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। उम्र से संबंधित समस्याओं के इलाज और तनाव को दूर करने में भी ये बेहद उपयोगी है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि शतावरी किस तरीके से सेहत को फायदा पहुंचा सकती है। साथ ही हम इसके नुकसान और इसे लेने का तरीका भी जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

asparagus_benefits

शतावरी के फायदे (Asparagus Benefits)

1- ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल (Asparagus for Blood Pressure)

अगर आपको हाई बीपी की परेशानी है तो बता दें कि हाई बीपी से दिल की समस्या और स्ट्रोक का खतरा भी रहता है। ऐसे में पोटेशियम की मात्रा बढ़ाने और नमक को कम करने से हाई बीपी को कम किया जा सकता है। बता दे शतावरी के अंदर भरपूर मात्रा में पोटेशियम पाया जाता है ऐसे में यदि आप शतावरी का सेवन करते हैं तो यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है। साथ ही इसके अंदर ऐसा पदार्थ पाया जाता है जिससे रक्त वाहिकाओं को फैलने में मदद मिलती है।

2- हड्डियों को बनाएं मजबूत (Asparagus for Bones)

बता दें कि शतावरी के अंदर भरपूर मात्रा में 'विटामिन के' पाया जाता है, जिससे ना केवल हड्डियों की कमजोरी दूर होती है बल्कि यह शरीर में विटामिन के की कमी को भी पूरा करता है। इसके सेवन से मूत्र में निकलने वाले कैल्शियम की मात्रा को कम किया जा सकता है। इससे भी हड्डियां स्वस्थ बनती हैं और उसके संक्रमण की समस्या दूर हो जाती है। विटामिन के की मात्रा अगर शरीर में पूरी होगी तो हड्डियों में मिनरल्स की कमी नहीं होगी।

3- त्वचा को बनाएं चमकदार (Asparagus for good skin)

जो आप त्वचा की समस्या के साथ-साथ झुर्रियों, लटकी त्वचा आदि से परेशान रहते हैं उन्हें बता दें कि शतावरी आपकी इस समस्या को दूर करने में बेहद उपयोगी है। इसके उपयोग से आप चमकती त्वचा पा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- जानें सिंहपर्णी सेहत के लिए कैसे है फायदेमंद? घर पर ऐसे बनाएं इसकी चाय

4- डायबिटीज के लोगों के लिए शतावरी है अच्छी (Asparagus for Diabetes)

शतावरी के अंदर ब्लड में ग्लूकोज के स्तर को कम करने के गुण पाए जाते हैं, जिससे मधुमेह में राहत मिलती है। बता दें कि यह सूजन घटाने का काम भी करता है। इसके अंदर क्रोमियम मिनरल भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जिसके कारण शरीर में ब्लड शुगर संतुलित रहता है।

5- अनिद्रा की समस्या हो दूर (Asparagus for Sleeping Problem)

बता दें कि जो लोग तनाव में रहते हैं उन लोगों को नींद कम आती है या वे अनिद्रा के शिकार हो जाते हैं। यदि आप भी उन लोगों में से एक हैं तो शतावरी आपके तनाव को दूर रखती है। साथ ही अनिद्रा की समस्या से भी छुटकारा दिलाती है।

इसे भी पढ़ें- मेथी के तेल को लगाने या सेवन करने से ये 10 समस्याएं हो जाती हैं दूर, जानें इसके नुकसान भी

शतावरी के नुकसान (Asparagus Side Effects)

1- जिन लोगों को प्याज से एलर्जी होती है उन लोगों को शतावरी से एलर्जी होने का खतरा रहता है।

2- वैसे तो गर्भावस्था में शतावरी खाना अच्छा माना जाता है लेकिन इसका सेवन महिलाएं डॉक्टर की सलाह पर ही करें। 

3- जिन लोगों को किडनी में पथरी या यूरिन की समस्याएं होती है वह शतावरी का सेवन ना करें।

शतावरी खाने का तरीका

1- शतावरी को गर्म तवे पर ऑलिव ऑयल लगाकर डालें और उसके ऊपर थोड़ा नमक और काली मिर्च लगाएं। थोड़ी देर पकाने के बाद इसका सेवन कर सकते हैं।

2- इसके अलावा आप लहसुन और शतावरी को नारियल तेल के साथ गर्म करें और इसे 10 मिनट तक पकाएं। जब तक यह पूरी तरह ना पक जाए इसे पकाते रहे। पकने के बाद इसका सेवन करें।

ये लेख महर्षि आयुर्वेद के अध्यक्ष और आयुर्वेदाचार्य आनंद श्रीवास्तव द्वारा दिए गए इनपुट्स पर बना है।

Read More Articles on Ayurveda in hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK