• shareIcon

    आंखों का ख्याल रखने के तरीके

    आंखों के विकार By Shabnam Khan , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Dec 12, 2014
    आंखों का ख्याल रखने के तरीके

    आंखें हमारे शरीर का सबसे महत्त्‍वपूर्ण हिस्‍सा होती हैं। आंखें हैं तो सारी दुनिया खूबसूरत है। इनको खूबसूरत बनाए रखने के लिए ओर रेटिना को मजबूती प्रदान करने में ल्‍युटेन आदि तत्त्‍वों की अहम भूमिका होती है।

    आंखें हमारे शरीर का सबसे महत्त्‍वपूर्ण हिस्‍सा होती हैं। आंखें हैं तो सारी दुनिया खूबसूरत है। इन आंखों को मजबूत और खूबसूरत बनाए रखने के लिए इसकी कोशिकाओं और रैटीना को मजबूती प्रदान करने में ल्‍युटेन आदि तत्वों की अहम भूमिका होती है। अपनी आँखों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए इनकी उचित देखभाल जरुरी है। मॉइस्चर, पोषण और नियमित व्यायाम आपकी आँखों का स्वास्थ्य और नजर बेहतर रखता है। हरी सब्जियों और फलों में ये तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। आंखों के स्वास्थ्य के लिए हरी सब्जियों के साथ ही डेयरी उत्‍पाद भी पर्याप्‍त मात्रा में लेने चाहिए।

     

    आंखों के स्वास्थ्य के लिए अपनाएं ये तरीके

    • आंखों में पर्याप्‍त नमी बनाए रखने के लिए पानी और जूस का सेवन अधिक करना चाहिए।
    • आंखों काजल और सुरमा आदि नहीं लगाना चाहिए। इनमें कार्बन कण होते हैं, जो कार्निया और कंजक्‍टाइवा को नुकसान पहुंचा सकते हैं। 
    • दिन में दो-तीन बार आंखों को साफ पानी से धोना चाहिए।

     

    Eyes in Hindi

     

    • आंखों को अधिक जोर लगाकर नहीं रगड़ना चाहिए। रोजाना आंखों की पलकों पर छोटे ब्रश से ब्रश करें।
    • देर रात तक कृत्रिम रोशनी में काम न करें।
    • ग्रीन टी का सेवन करें। इसमें केटिचिन्‍स नाम के एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं, जो आंखों की रक्षा करने में मदद करते हैं।
    • कंप्‍यूटर को आंखों से पर्याप्त दूरी पर रखकर ही काम करें। यह दूरी 20 से 30 इंच तक हो सकती है। जबकि टीवी देखते समय स्‍क्रीन से कम से कम 3.5 मीटर दूर रहें।
    • कंप्‍यूटर स्‍क्रीन को यूं रखें कि उसका टेक्‍स्‍ट आंखों के लेवल पर हो।
    • छह से आठ घंटे की आरामदायक नींद लें। इससे आपकी आंखें प्राकृतिक रूप से तरोताजा रहती हैं।

     

    Girl in Hindi

     

    इन लक्षणों को न करें नजरअंदाज

    • अगर आंखों या सिर में भारीपन या धुंधला दिखाई दे।
    • थकी-थकी रहें आंखें।
    • अगर आंखों में खुजली हो। 
    • आंखें लाल हों या उनसे पानी आए।
    • रंग पहचानने में हो परेशानी। 
    • लगातार हो सिर दर्द।

    आंखें वो जरिया है जिससे आप इस दुनिया को देख पाते हैं। इसलिए आंखों का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। उपर्युक्त में से कोई लक्षण दिखने पर देर न करें, तुरंत आई स्पेश्लिस्ट के पास जाएं। अपनी आंखों का उपयुक्त इलाज करवाएं।

     

    Image Source - Getty Images

    Read More Articles on Eye Disorders in Hindi

     

    Disclaimer

    इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

    This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK