Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

आम खाये मोटापा घटाएं

वज़न प्रबंधन
By Nachiketa Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / May 22, 2012
आम खाये मोटापा घटाएं

आम का सिर्फ स्‍वाद ही उसे फलों का राजा नहीं बनाता, बल्कि उसमें कई औ‍षधीय गुण होते हैं। यह वजन घटाने में तो मदद करता ही है साथ ही कैंसर और हृदय रोगों से भी बचाता है।

Quick Bites
  • आम के जरिए वजन घटाना है आसान।
  • आम में कोलेस्ट्रोल की मात्रा काफी कम होती है।
  • आम खाने के बाद भूख कम लगती है।
  • आम में मौजूद रेशे से चर्बी कम होती है।

आप खाने के शौकीन हैं और मोटापे से भी ग्रस्त हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। आप आम खाकर अपना वजन घटा सकते हैं। आम को फलों का राजा कहा जाता है और इसमें मौजूद पोषक तत्व और फाइबर शरीर से अतिरिक्त चर्बी हटाकर मोटापा कम करते है।

Aam khaye motapa ghataye
आम खाये मोटापा घटाएं
आप खाने के शौकीन हैं और मोटापे से भी ग्रस्त हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। आप आम खाकर अपना वजन घटा सकते हैं। आम को फलों का राजा कहा जाता है और इसमें मौजूद पोषक तत्व और फाइबर शरीर से अतिरिक्त चर्बी हटाकर मोटापा कम करते है। आम गर्मियों के मौसम का फल है। आम में बीटा कैरोटीन प्रचूर मात्रा में पाया जाता है जिसे विटामिन ए भी कहा जाता है। आमतौर पर यह स्तन और गर्भाशय कैंसर, हृदय संबंधी बीमारियों, मोतियाबिंद, तनाव और अर्थराइटिस जैसी बीमारियों के उपचार के लिए भी सहायक होता है। 

आम खाने के फायदे – 

कई साल पहले से आम का प्रयोग वजन घटाने के लिए किया जाता रहा है। 

मोटापा कम करने के लिए लोग बडी मेहनत करते हैं, फिर भी उनका वजन नहीं घटता है। लेकिन, आम खाकर मोटापे को आसानी से कम किया जा सकता है। 

कई आहारविशेषज्ञों ने भी आम को वजन कम करने की दवा बताया है, क्योंकि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। 

आम का राज इसकी गुठली में छिपा हुआ है। आम की गुठली में घुलनशील रेशा और वसा मौजूद होता है। 

आम की गुठली में मौजूद रेशा और फैट शरीर से एक्ट्रा     पाउंड को कम करने में बहुत सहायक होता है। 

आम खाने से भूख कम लगती है और शरीर से अतिरिक्त  कैलोरी भी बर्न हो जाती है। आम में लेप्टिन नामक केमिकल होता है जिससे भूख कम लगती है। 

आम में लो कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है। इसमें पाया जाने वाला एडिपोनेक्टिन, कोलेस्ट्राइल को कम करता है और इंसुलिन के निर्माण को बढाता है जिसके कारण अतिरिक्त वसा अपने-आप ऊर्जा में बदल जाता है। 

आम खाने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढती है। 



वज़न घटाने के लिए आम का प्रयोग कैसे करें – 
अगर आप केवल आम खाकर बोर हो जाते हैं तो आम का प्रयोग कई अन्य तरीके से भी कर सकते हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि आम को कितने प्रकार से आप खा सकते हैं : 

मैंगों आइसक्रीम : गर्मी में आइसक्रीम के रूप में आप कई आम एक साथ खाये जा सकते हैं। 

आम की बर्फी :आम की बर्फी में खट्टे और मीठे दोनों प्रकार के स्वाद एक साथ मिलते है। खट्टा और मीठा एक साथ खाने वालों के लिए यह अच्छा विकल्प है। 

मैंगो शेक बनाकर आम को पीया जा सकता है। मैंगो शेक में कई प्रकार के ड्राई फ्रूट्स मिलाकर इसका जूस पीजिए। 

आम का मुरब्बा : आम के मुरब्बे में चीनी का प्रयोग होता है। इसलिए आप एक साथ खट्टे और मीठे दो स्वादों का मजा ले सकते हैं। 

आम की लस्सी : आम में दही, केसर और इलायची मिलाकर आम की लस्सी का मजा लीजिए। बच्चों को आम की लस्सी बहुत पसंद आती है। 

कस्टर्ड या डेजर्ट : आम में दूध और दही मिलाकर मैंगो कस्टर्ड बना सकते हैं। लंच और डिनर के बाद यह एक अच्छा डिजर्ट हो सकता है। 


आम विटामिन सी का अच्छा स्रोत होता है जो हड्डियों को मजबूत करता है। आम न केवल वजन घटाने में सहायक है बल्कि त्व्चा का रंग भी गोरा करता है। इसलिए नाश्ते में फास्ट फूड और स्लाइस की जगह आम खाइए। 

गुणकारी है आम आम गर्मियों के मौसम का फल है। आम में बीटा कैरोटीन प्रचूर मात्रा में पाया जाता है जिसे विटामिन ए भी कहा जाता है। आमतौर पर यह स्तन और गर्भाशय कैंसर, हृदय संबंधी बीमारियों, मोतियाबिंद, तनाव और अर्थराइटिस जैसी बीमारियों के उपचार के लिए भी सहायक होता है। 

 

आम खाने के फायदे – 

  • मोटापा कम करने के लिए लोग बडी मेहनत करते हैं, फिर भी उनका वजन नहीं घटता है। लेकिन, आम खाकर मोटापे को आसानी से कम किया जा सकता है। 
  • कई आहार-विशेषज्ञों ने भी आम को वजन कम करने की दवा बताया है, क्योंकि इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। 
  • आम का राज इसकी गुठली में छिपा हुआ है। आम की गुठली में घुलनशील रेशा और वसा मौजूद होता है। 
  • आम की गुठली में मौजूद रेशा और फैट शरीर से अतिरिक्‍त चर्बी को कम करने में बहुत सहायक होता है। 
  • आम खाने से भूख कम लगती है और शरीर से अतिरिक्त कैलोरी भी बर्न हो जाती है। आम में लेप्टिन नामक केमिकल होता है जिससे भूख कम लगती है। 
  • आम में लो कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है। इसमें पाया जाने वाला एडिपोनेक्टिन, कोलेस्ट्राइल को कम करता है और इंसुलिन के निर्माण को बढाता है जिसके कारण अतिरिक्त वसा अपने-आप ऊर्जा में बदल जाता है। 
  • आम खाने से शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढती है। 

 

वजन घटाने के लिए आम का प्रयोग कैसे करें – 

अगर आप केवल आम खाकर बोर हो जाते हैं तो आम का प्रयोग कई अन्य तरीके से भी कर सकते हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि आम को कितने प्रकार से आप खा सकते हैं : 

 

मैंगों आइसक्रीम

गर्मी में आइसक्रीम के रूप में आप कई आम एक साथ खाये जा सकते हैं। 

 

आम की बर्फी

आम की बर्फी में खट्टे और मीठे दोनों प्रकार के स्वाद एक साथ मिलते है। खट्टा और मीठा एक साथ खाने वालों के लिए यह अच्छा विकल्प है। 

 

मैंगो शेक

मैंगो शेक बनाकर आम को पीया जा सकता है। मैंगो शेक में कई प्रकार के ड्राई फ्रूट्स मिलाकर इसका जूस पीजिए। 

 

आम का मुरब्बा

आम के मुरब्बे में चीनी का प्रयोग होता है। इसलिए आप एक साथ खट्टे और मीठे दो स्वादों का मजा ले सकते हैं। 

 

आम की लस्सी

आम में दही, केसर और इलायची मिलाकर आम की लस्सी का मजा लीजिए। बच्चों को आम की लस्सी बहुत पसंद आती है। 

 

कस्टर्ड या डेजर्ट

आम में दूध और दही मिलाकर मैंगो कस्टर्ड बना सकते हैं। लंच और डिनर के बाद यह एक अच्छा डिजर्ट हो सकता है। 

 

 

आम विटामिन सी का अच्छा स्रोत होता है जो हड्डियों को मजबूत करता है। आम न केवल वजन घटाने में सहायक है बल्कि त्व्चा का रंग भी गोरा करता है। इसलिए नाश्ते में फास्ट फूड और स्लाइस की जगह आम खाइए। 

 

Written by
Nachiketa Sharma
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागMay 22, 2012

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK