सिर्फ ज्यादा खाने से नहीं, इन 8 बीमारियों के कारण भी बढ़ने लगता है वजन और मोटापा, जानें कैसे पहचानें लक्षण

Updated at: Dec 04, 2020
सिर्फ ज्यादा खाने से नहीं, इन 8 बीमारियों के कारण भी बढ़ने लगता है वजन और मोटापा, जानें कैसे पहचानें लक्षण

खानपान ही नहीं, बल्कि शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव के कारण भी वजन बढ़ता है। आइए जानते हैं उन शारीरिक बदलाव और बीमारियों के बारे में-

Kishori Mishra
वज़न प्रबंधनWritten by: Kishori MishraPublished at: Dec 04, 2020

आधुनिक लाइफस्टाइल में बदलाव की वजह से आज के समय में लोगों का वजन काफी तेजी (Weight Gain) से बढ़ रहा है। कई बार हम इसे एक सामान्य समस्या समझकर इग्नोर कर देते हैं। लेकिन ऐसा करना हमारे लिए खतरनाक भी हो सकता है। जी हां, अगर आप अधिक फैटी चीजें (Fatty Foods) खाना पसंद करते हैं। एक्सरसाइज बिल्कुल भी नहीं करते हैं और अपने वजन पर ध्यान नहीं देते हैं और पहले की तुलना में आपका लाइफस्टाइल खराब हो गया है, तो वजन बढ़ना कोई बड़ी बात नहीं है। लेकिन एक स्वस्थ रुटीन फॉलो करने के बावजूद भी आपका वजन बढ़ रहा है, तो यह कुछ गंभीर बीमारियों की ओर इशारा भी कर सकता है। कई बार वजन बढ़ने का कारण कब्ज, स्ट्रेस, किसी विशेष दवा का सेवन, कोई बीमारी इत्यादि कारण होते हैं।  

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

एक्सपर्ट बताते हैं कि वजन बढ़ने का  सबसे बड़ा काराण लाइफस्टाइल में खराबी है। इसके बाद शरीर में कुछ ऐसी समस्याएं भी हो जाती हैं, जिसके कारण तेजी से वजन बढ़ता है। इंदिरापुरम के आनायाज क्लीनिक की डॉक्टर नीरा बताती हैं कि शरीर में दो तरह से वजन बढ़ता है। एक है पीरियॉडिक और दूसरा है रैपिड। पीरियॉडिक में वजन कुछ समय के लिए तेजी से बढता है, लेकिन बाद में वजन कम हो जाता है। उदाहरण के लिए गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन बढ़ जाता है, लेकिन बाद में सही दिनचर्या फॉलो करने के बाद वजन कंट्रोल में रहता है। वहीं, रैपिड में कुछ दवाईयों के कारण साइड-इफेक्ट्स की वजह से वजन तेजी से बढ़ता है। कभी-कभी ऐसा होना शरीर के लिए हानिकारण हो सकता है। इसके अवाला शरीर में कई हार्मोनल बदलाव के कारण भी शरीर का वजन काफी तेजी से बढ़ने लगता है।

हाइपोथायरायडिज्म की वजह से बढ़ता है वजन (Weight gain due to hypothyroidism)

थायराइड की वजह से भी हमारा वजन तेजी से बढ़ता है। जब गले में मौजूद तितली आकार का थायराइड ग्लैंड किसी कारणवश: थायराइड हार्मोंन का निर्माण सही से नहीं कर पाता है, तो इस वजह से हमारे ब्लड में थायराइड हार्मोन की कमी हो जाती है। इसे ही मेडिकल की भाषा में हाइपोथायराइडिज्म कहते हैं। हाइपोथायराइडिज्म की वजह से हमारे शरीर का वजन काफी तेजी से बढ़ता है। इसकी वजह से शरीर में थकान, कमजोरी, सांस फूलना इत्यादि की भी परेशेनी होती है। अगर आपको इस तरह के लक्षण दिखे, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। हाइपोथायराइडिज्म से ग्रसित व्यक्तियों को नियमित रूप से एक्ससाइज की जरूरत होती है। इसके साथ ही ऐसे मरीजों को अपने डाइट का भी विशेष ख्याल रखना होता है, वरना वजन काफी तेजी से बढ़ सकता है।

इसे भी पढ़ें - बढ़ते वजन का कारण हो सकता है हाइपोथायरायडिज्म, एक्सपर्ट के बताए डाइट चार्ट से वजन को करें कम 

अनिद्रा की शिकायत (Insomnia)

डॉक्टर बताते हैं कि नींद की कमी के कारण भी व्यक्ति का वजन तेजी से बढ़ सकता है। स्पील साइकल सही ना होने के कारण हमारे शरीर में कई तरह के बदलाव होते हैं। अनिद्रा की वजह से ना सिर्फ व्यक्ति का मोटापा बढ़ता है, बल्कि इसके कारण उनके मूड में भी काफी परिवर्तन आता है। दरअसल, नींद की कमी के कारण शरीर को अतिरिक्त उर्जा की जरूरत होती है। ऐसे में व्यक्ति काफी ज्यादा कार्बोहाइड्रेड का सेवन करता है। जिसकी वजह से उनका वजन तेजी से बढ़ जाता है।  

पीसीओडी (पॉलिस्टिक ओवरी सिंड्रोम) के कारण भी बढ़ता है वजन (Polystic ovary syndrome)

पीसीओडी से ग्रसित महिलाओं का भी वजन काफी तेजी से बढ़ता है। पीसीओडी से ग्रसित महिलाओं में असमान्य रूप से पुरुष सेक्स हार्मोंन का स्त्राव काफी ज्यादा होने लगता है। इस वजह से महिलाओं का वजन काफी तेजी से बढ़ता है। पीसीओडी से ग्रसित महिलाओं का वजन तेजी से बढ़ने लगता है। इसके साथ ही अनियमित रूप से मासिक धर्म, पेट दर्द, ब्रेस्ट साइज में बदलाव, शरीर पर अत्यधिक बाल इत्यादि लक्षण दिखने लगते हैं। इसके कारण महिलाओं इंसुलिन बनने में भी परेशानी होने लगती है। अगर आपके अंदर कुछ इस तरह के बदलाव दिखे, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इस समस्या की वजह से हार्ट अटैक का खतरा भी काफी ज्यादा बढ़ जाता है। 

कुशिंग सिंड्रोम के कारण भी बढ़ सकता है मोटापा (Cushing's syndrome)

कुशिंग सिंड्रोम एक दुर्लभ बीमारी है। यह एक ऐसी हार्मोनल बीमारी है, जिसमें व्यक्ति के शरीर में कोर्टिसोल (cortisol) हार्मोन का स्तर काफी ज्यादा बढ़ जाता है। इस हार्मोन का असर पूरे शरीर पर दिखने लगता है। यह एक बहुत ही घातक बीमारी है, जिसमें चेहरा, ऊपरी पीठ, गर्दन और कमर के आसपास चर्बी काफी ज्यादा बढ़ी हुई दिखती है। अस्थमा, गठिया और लुपस जैसी गंभीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति को कुशिंग सिंड्रोम हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें - खतरनाक हो सकता है लिवर की इन 7 बीमारियों को नजरअंदाज करना, जानें इनके लक्षण, कारण और बचाव के लिए टिप्स

किडनी कैंसर से भी बढ़ता है मोटापा (Kidney Cancer)

अचानक शरीर में सूजन किडनी से जुड़ी बीमारी की ओर इशारा कर सकता है। उदाहरण के लिए किडनी फेलियर या नेफ्रोटिक सिंड्रोम की वजह से भी व्यक्ति का मोटापा काफी ज्यादा बढ़ता है। इस समस्या से ग्रसित व्यक्ति के किडनी पर काफी बुरा असर पड़ता है। किडनी सही से काम ना करने के कारण शरीर में अतिरिक्त तरल पदार्थ जमा होने लगता है, जिसकी वजह से शरीर का वजन बहुत ही तेजी से बढ़ता है। 

ओवेरियन कैंसर भी है मोटापे का कारण (Ovarian cancer cause of obesity)

डॉ. नीरा बताती हैं कि अचनाक से आपका पेट फूलना और वजन बढ़ना ओवेरियन कैंसर की ओर इशारा कर सकता ह ै। ओवेरियन कैंसर से ग्रसित महिलाओं को पेट में दर्द, तेजी से वजन बढ़ना, पेल्विक में दर्द, नींद में परेशानी, भूख ना लगना, बार-बार पेशाब होना इत्यादि लक्षण दिखते हैं। अधिकतर मामलों में ओवेरियन कैंसर का पता लास्ट स्टेज में ही पलता है। ऐसे में महिलाओं को अगर पेल्विक में दर्द होता है, तो तुरंत उन्हें डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें - हाइपरथायरायडिज्म के कारण अचानक घटने लगता है व्यक्ति का वजन, जानें इस रोग के सभी लक्षण, कारण और बचाव के टिप्स

तनाव से भी बढ़ता है वजन (Stress increases weight)

कई लोगों को आपने देखा होगा कि तनाव महसूस होने पर वह काफी ज्यादा खाने लगते हैं। ऐसे लोगों का वजन काफी तेजी से बढ़ सकता है। दरअसल, शरीर में स्ट्रेस हार्मोन रिलीज होने पर हमें  काफी ज्यादा भूख लगने लगती है। ऐसे में व्यक्ति का अधिक फैटी चीजों के सेवन से वजन काफी तेजी से बढ़ने लगता है। 

लिवर सिरोसिस (Liver cirrhosis)

वजन बढ़ने का बड़ा कारण लिवर सिरोसिस भी हो सकता है। जब व्यक्ति का लिवर किसी कारणवश: सही से कार्य नहीं कर पाता है, तो स्कार ऊत्तकों में चोट पहुंचने लगती है। लिवर के इन खराब ऊतकों के कारण शरीर में अतिरिक्त तरह पदार्थ जमा होने लगता है, जिससे लिवर के कार्य करने की क्षमता धीरे-धीरे समाप्त होने लगती है। इन कारणों की वजह से भी हमारे शरीर का वजन तेजी से बढ़ता है। 

 

Read More Articles on Weight Management in Hindi

 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK