• shareIcon

सात आदतें जो बनायें आपको सेहतमंद

एक्सरसाइज और फिटनेस By Bharat Malhotra , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Mar 21, 2014
सात आदतें जो बनायें आपको सेहतमंद

सेहतमंद रहना चाहते हैं, तो आपको अपनी आदतें भी बदलनी होंगी। वे आदतें जिन्‍होंने आपको परेशानी में डाला है उन्हें बदले बिना आपका जीवन नहीं बदल सकता। तो, जानिये ऐसी सात आदतों के बारे में जो आपको स्‍वस्‍थ जीवन जीने में मदद करेंगी।


स्‍वस्‍थ रहने के लिए आपको अपनी जीवनशैली में जरूरी बदलाव करने चाहिए। कुछ अच्‍छी आदतों को आपको अपने जीवन का हिस्‍सा बनाना चाहिए। इससे आप तन और मन दोनों रूप से स्‍वस्‍थ रहेंगे। इन आदतों को अपनाना बहुत मुश्किल भी नहीं है। लेकिन, इनके फायदे बहुत ज्‍यादा हैं। 

 

सकारात्‍मक हो दिन की शुरुआत

आपके दिन की शुरुआत सकारात्‍मक होनी चाहिए। जिस अंदाज में आप अपने सुबह की शुरुआत करते हैं, उसी अंदाज में आपका पूरा दिन गुजरता है। रोज सुबह अपने बारे में अच्‍छा सोचें। सोचें कि आप अपनी जिंदगी से बहुत खुश हैं और आपके पास कामयाबी के तमाम मौके मौजूद हैं। आप उन मौकों का फायदा उठायेंगे और कामयाबी हासिल करेंगे। यदि आप मुश्किलों से भी जूझ रहे हैं, तो भी सुबह की सकारात्‍मकता आपको पूरे दिन ऊर्जावान बनाये रखेगी और आप एक दिन जरूर कामयाब होंगे। स्‍वयं से सकारात्‍मक संवाद स्‍थापित करना आपको जीवन की चुनौतियों को बेहतर सामना करने की शक्ति और सामर्थ्‍य देता है।

happiness

खुद को करें महसूस

अपने शरीर को नियमित रूप से छूना बेहद जरूरी है। खासतौर पर यदि आपको अपने शरीर से प्‍यार नहीं है, तो आपको जरूर ऐसा करना चाहिए। तो, नहाने के बाद फौरन बाहर निकलने से पहले एक-दो मिनट तक अपने शरीर पर थोड़ा जोर लगाते हुए लोशन लगाएं। आपकी गति धीमी होनी चाहिए। इस समय अपने मोटापे की ओर ध्‍यान न दें। यह अपनी ही त्‍वचा को महसूस करने की प्रक्रिया है।

शांत करने वाला संगीत सुनें

शहरी जीवन में शांति कहां मिलती है। सारा दिन चिल्‍लम पौं के कारण दिमाग भन्‍ना जाता है। तो जब भी वक्‍त मिले, मानसिक शांति पहुंचाने वाला संगीत सुनें। यदि आप ट्रैफिक में फंसे हैं, तो मद्धम संगीत की स्‍वर‍लहरियां आपके मन को शांति पहुंचाती हैं। यकीन जानिये यह तरकीब काफी फायदेमंद साबित होगी।


कॉफी नहीं चाय पियें

कॉफी का स्‍वाद और उसका अंदाज आपको काफी पसंद है। घर आते ही सारे दिन की थकान उतारने के लिए आपको बस एक कप कॉफी की दरकार होती है। लेकिन, क्‍या आपको यह मालूम है कि कॉफी की चुस्कियां आपकी आंखों से नींद चुरा सकती हैं। नींद की कमी से तनाव और चिंता भी हो सकती है। तो, सुबह एक कप कॉफी पीने के बाद दिन भर उसके विकल्‍पों की तलाश करें। आप चाहें तो कहवा अथवा हर्बल टी पी सकते हैं। इससे थकान तो दूर होगी ही साथ ही आपको अनिद्रा की शिकायत नहीं होगी।

धीरे-धीरे खायें

कुछ लोगों को पता नहीं क्‍यों अपना भोजन जल्‍दी खत्‍म की लगी रहती है। अपने भोजन को धीरे-धीरे चबाकर खायें। भोजन को धीरे-धीरे चबाकर खाना पाचन-क्रिया का अहम हिस्‍सा है। साल्विया में भोजन को पचाने में मदद करने वाले तत्‍व होते हैं। चबाने से भोजन छोटे-छोटे हिस्‍सों में टूट जाता है। इससे शरीर के लिए उसमें से पोषक तत्‍व अवशोषित करने में आसानी होती है। धीरे-धीरे खाने से आप ओवरइटिंग से बचते हैं। यानी इससे आपको वजन काबू में रखने में मदद मिलती है।

herbal tea

लिफ्ट नहीं सीढि़यों का करें इस्‍तेमाल

अच्‍छी सेहत पाने का यह आसान और कारगर उपाय है। लिफ्ट और एक्‍सीलेटर के स्‍थान पर सीढि़यों का इस्‍तेमाल करें। इसके दो फायदे हैं- पहला, एक तो इससे आपकी सेहत अच्‍छी रहती है। दूसरा, इससे आपको अपने लिए कुछ और वक्‍त मिल जाता है। सीढि़यां चढ़ते समय आप कुछ जरूरी बातों के बारे में विचार भी कर सकते हैं। चार-पांच म‍ंजिल सीढि़यां चढ़ना ही ठीक है, इससे ज्‍यादा के लिए लिफ्ट ही उपयोग में लाएं। सीढि़यां चढ़ने का अधिक स्‍वास्‍थ्‍य लाभ पाने के लिए पूरा पैर रखने के स्‍थान पर पैर के अगले हिस्‍से से ही सीढि़यां चढ़ें।

स्‍ट्रेचिंग है जरूरी

हर समय ऐसा करने की जरूरत नहीं है। लेकिन, दिन भर में जब भी मौका मिले, ऐसा करते रहना चाहिए। इससे आपको शरीर में होने वाली बेकार की जकड़न और अकड़न से छुटकारा मिलता है। आप अपनी बाजुयें, सिर, कलाई और गर्दन आदि को स्‍ट्रेच कर सकते हैं। कुर्सी से उठकर थोड़ा आगे की ओर झुकना आपकी काफी मदद कर सकता है। इससे आपके शरीर में रक्‍त प्रवाह बढ़ता है और मांसपेशियों की अकड़न दूर होती है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK