क्या आपका बच्चा भी कपड़े पहनने में करता है नखरे? जानें जिद्दी बच्चों को कपड़े पहनाने के आसान टिप्स

Updated at: Dec 18, 2019
क्या आपका बच्चा भी कपड़े पहनने में करता है नखरे? जानें जिद्दी बच्चों को कपड़े पहनाने के आसान टिप्स

आपका बच्चा बेचैन हो सकता है और विरोध कर सकता है। ऐसे में आप अपने बच्चे को कपड़े पहनने में हड़बड़ी करने की कोशिश न करें। 

Pallavi Kumari
परवरिश के तरीकेWritten by: Pallavi KumariPublished at: Dec 18, 2019

बच्चों को कपड़े पहनना यूं तो किसी चुनौती से कम नहीं पर ये चुनौती सर्दियों में कुछ ज्यादा ही बढ़ जाती है। आपने अक्सर देखा होगा कि ज्यादातर घरों में बच्चों को कपड़े पहनाते वक्त खूब चिल्लम चिल्ली होती है। मां-बाप चिल्लाते हैं और बच्चे अपने जिद्द से बाज नहीं आते। बच्चों को कुछ और पहनना होता है और  मां-बाप को उम्हें कुछ और पहनाना होता है। ऐसे में बच्चे रोना शुरू कर देते हैं और खूब नखरे करते हैं। कितनी बार तो ऐसे में माता-पिता सख्ती से पेश आते हैं जो बात और बिगाड़ सकती है। इसलिए अगर आप का बच्चा भी कपड़े पहनने में जिद्द करता है तो उसके साथ सख्ती न करें, बल्कि उन्हें प्यार से समझाएं। साथ ही उन वजहों पर ध्यान दें और उनका उपाय निकाले जिसके कारण बच्चा कपड़े से मना कर रहा हो। ऐसे में हो सकता है कि वे ऐसा कर रहा हो क्योंकि वे जो कपड़े पहन रहे हैं वे असहज हैं या उनके शरीर को गर्म कर रहे हैं। ऐसी तमाम स्थितियों से निपटने के लिए, आज हम आपके लिए कुछ टिप्स लाए हैं। आइए जानते हैं इन टिप्स के बारे में।

inside_kidsweater

सर्दियों के दौरान अपने टॉडलर्स को तैयार करने के टिप्स

आरामदायक कपड़े चुनें

कुछ सर्दियों के कपड़े खरोंच और खुरदरे हो सकते हैं और इससे आपके बच्चे को असुविधा हो सकती है। ऐसे कपड़े चुनें जो ऊन या नरम सामग्री के साथ पंक्तिबद्ध हों। अपने बच्चे के आराम के लिए कॉलर या इनर लाइनिंग से टैग्स को काटना न भूलें। इसके अलावा उनके लिए सूती कपड़ों का इस्तेमाल करें। इसके लिए आपको आरामदायक कपड़ों को बच्चों को पहनाए। साथ ही कोशिश करें कि अंदर वाली लेयरिंग में किसी भी ऊनी कपड़े को न पहनाएं क्योंकि इससे उन्हें खुजली आदि भी हो सकती है।

इसे भी पढ़ें : क्या आपके बच्चे का भी है गुस्सैल व्यवहार? तो डांट कर नहीं प्यार से ऐसे समझाएं

त्वचा को मॉइस्चराइज करें

सर्दियों के दौरान सूखी त्वचा जलन और खुजली का कारण बन सकती है। सर्दियों के कपड़े पहनने से पहले, अपने बच्चे की त्वचा को अच्छी तरह से मॉइस्चराइज करें। हाइपो-एलर्जिक लोशन आपकी छोटी की त्वचा को लंबे समय तक हाइड्रेट रख सकता है। इसके लिए अपने बच्चे को नहाने के बाद पहने क्रीम लगाएं और फिर उन्हें कपड़े पहनाएं। 

अपने बच्चे को पतली परतों में पोशाक दें

अपने बच्चे को बहुत भारी कपड़े पहनाए जाने के बजाय, उन्हें कपड़ों की दो से तीन पतली परतों पर डाल दें, जो गर्मी फंस सकते हैं और बच्चों को गर्म रख सकते हैं। प्रत्येक परत आरामदायक होनी चाहिए और ऐसा न हो कि इससे उन्हें कोई रेशज और इंफेक्श न हो जाए। वहीं बच्चों को ऐसे में असहज महसूस हो सकता है। अगर कपड़े गर्दन के आसपास बहुत तंग हैं या बटन लगे हुए हैं तो बच्चे ऐसे कपड़ो को भी पहनने से बचते हैं। उन्हें ढीले कॉलर के साथ स्वेटर में पोशाक दें जिन्हें आसानी से खींच कर निकाला जा सके  या पहनाया जा सके।

inside_winter wears

ऐसी टोपी चुनें, जो आसानी से न गिरे

सिर को कवर करने के लिए, एक टोपी चुनें जो आपके बच्चे के कानों को कवर कर सके और ठोड़ी के नीचे बांधा जा सके। यह आपके बच्चे को इसे खींचने से रोकेगा, लेकिन सुनिश्चित करें कि यह उनके लिए बहुत तंग न हो। साथ ही ज्यादा भारी टोपी भी अपने बच्चे के लिए न चुनें। इसे वे नहीं पहनेंगे और खोलकर फेंक देंगे। ज्यादा भारी टोपी में उन्हें गर्मी भी लग सकती है और वो बीमार हो सकते हैं। याद रखें कि टोपी के अंदर का भाग मासूस और सहज हो। ऐसा होने पर ही बच्चा इसे देर तक पहना रहेगा।

इसे भी पढ़ें : भूलकर भी बच्‍चों के साथ बात करने समय न बोंलें ये 4 बातें, पड़ सकता है बच्‍चे पर गलत असर

बच्चे को कपड़ा खुद भी चुनने दें

अगर आपका बच्चा बहुत रो रहा है और चुप नहीं हो रहा है तो उसे अपने कपड़े खुद चुनने दें और इसे उन्हें चालाकी से पहनाएं। अगर आप उनके के लिए और सर्दियों के कपड़े पहनने के लिए चुनते हैं तो वो नखरे कर सकता है। सैथ ही ये मौका अगर आप उसे देंगे तो वो कम नखरे कर सकता है। फिर आप अरपनी चालाकी से विभिन्न रंगों के कपड़ों में इसे सेट करें ताकि उन्हें महसूस हो सके कि वे अच्छे लगेंगे और आप सही करेंगे। इस तरह इस प्रक्रिया पर परी तरह से अपने ही नियंत्रण की कोशिश न करें। दस्ताने के बजाय, गर्म कार्टुन वाले दस्ताने चुनें जो आसानी से स्लाइड हो सके, देखने में सुंदर हो और जिसे वे हमेशा पहने रख सकें।

Read more articles on Tips-For-Parent in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK