Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

छोटी-छोटी तकरार से बिगड़ सकते हैं दिल के रिश्ते, इन 5 तरीकों से सुलझाएं ऐसे मामले

मैरिज
By Anurag Gupta , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 14, 2019
छोटी-छोटी तकरार से बिगड़ सकते हैं दिल के रिश्ते, इन 5 तरीकों से सुलझाएं ऐसे मामले

हर रिश्ते में छोटी-मोटी अनबन, नाराजगी या तकरार तो चलती ही रहती है। ये बातें आपके रिश्तों की डोर को मजबूत बनाती हैं। कहते हैं न कि जहां भी दो बर्तन होते हैं, थोड़ा शोर तो होता ही है। मगर यदि यही तकरार जल्दी-जल्दी होने लगे और ज्यादा होने लगे, तो आपक

Quick Bites
  • झगड़े के बाद अकसर लोग बातचीत करना बंद कर देते हैं।
  • अपने पार्ट्नर के मूड को जानें और उसके बाद ही कोई बात शुरू करें।
  • आपको सामने वाले की गलती माफ कर देनी चाहिए।

हर रिश्ते में छोटी-मोटी अनबन, नाराजगी या तकरार तो चलती ही रहती है। ये बातें आपके रिश्तों की डोर को मजबूत बनाती हैं। कहते हैं न कि जहां भी दो बर्तन होते हैं, थोड़ा शोर तो होता ही है। मगर यदि यही तकरार जल्दी-जल्दी होने लगे और ज्यादा होने लगे, तो आपके रिश्ते को खराब भी कर सकती है। कई बार नाराजगी और मतभेद इतने बढ़ जाते हैं कि रिश्ता टूटने की भी नौबत आ जाती है। ऐसा खासकर तब होता है जब 2 में से 1 साथी किसी गलती को बार-बार दोहराता है। कुछ ऐसी बातें हैं, जिन्हें ध्यान में रखें तो आपके रिश्तों में ऐसी बातें पैदा नहीं होंगी।

झगड़े के बाद बातचीत न बंद करें

झगड़े के बाद अकसर लोग बातचीत करना बंद कर देते हैं, जिससे गलतफहमियां दूर ही नहीं हो पाती। चुप रहकर वे एक-दूसरे के बारे में नकारात्मक सोच को बढ़ाते हैं और रिश्ते में कड़वाहट बढ़ती ही चली जाती है। संबंधों में सहजता के लिए आवश्यक है कि आप दोनों की बातचीत हमेशा जारी रहे। क्योंकि जिस रिश्ते में बातचीत कितनी भी विषम परिस्थितियों आने पर भी बंद नहीं होती है, वहां न केवल एक-दूसरे के लिए हमेशा प्यार बना रहता है बल्कि सम्मान भी बढ़ जाता है।

इसे भी पढ़ें:- इन 5 कारणों से हंसी-मजाक करने वाले फनी लड़कों को ज्यादा पसंद करती हैं लड़कियां

खूबसूरत दिनों को याद करें

झगड़े के समय बहुत अधिक गुस्सा आता है और कई लोगों को एक-दूसरे से बातचीत करने का और शक्ल देखने का भी मन नहीं करता। लेकिन ऐसे में एक-दूसरे से बातचीत बंद करने के बजाए अपने गुस्से को कम करने के लिए साथ बिताए उन खूबसूरत दिनों को याद करें, जो आपको खुश करते हैं। आपकी जिंदगी में कई ऐसे यादगार लम्हे होंगे, जिन्हें याद कर आप अपना गुस्सा कम कर सकते हैं।

पार्टनर का मूड देखें

किसी बात पर तकरार हो जाने के बाद हमेशा अपने पार्ट्नर के मूड को जानें और उसके बाद ही कोई बात शुरू करें। क्योंकि मूड खराब होने पर गुस्सा और बढ़ जाता हैं और बनती बात भी बिगड़ सकती है। इसलिए ध्यान रखें जब किसी का मूड खराब हो तो उस वक्त किसी भी बात पर बहस न करें और फिर सही मूड देखकर बात करें।

इसे भी पढ़ें:- रिश्तों में ध्यान रखें छोटी-छोटी ये 5 बातें, लंबे समय तक बना रहेगा आपका साथ

बहस करके बात न बढ़ाएं

घमंड और अहम को जरा एक तरफ कर दें। बहस में व्‍यक्ति की कोशिश स्‍वयं को सही ठहराने की होती है। वह जोर जबरदस्‍ती से भी अपनी बात को सच साबित करना चा‍हता है। यही परिस्थिति असंतोष को जन्‍म देती है। इसमें किसी का लाभ नहीं होता। ठंडे दिमाग से दूसरे पक्ष की बात सुनें। चीजों को दूसरे कोण से देखने की भी कोशिश करें। आप पाएंगे कि अधिकतर झगड़े बेकार की पुरानी बातों पर ही होते हैं।

माफी जरूर मांगें

माफ करने के लिए बड़ा दिल चाहिए। आपको सामने वाले की गलती माफ कर देनी चाहिए। आपको समझौता करने का भी प्रयास कर लेना चाहिए। लेकिन, अपनी ईमान से समझौता न करें। इसके अलावा अगर आपको लगे कि आपसे कोई गलती हो गई है, तो उसे स्‍वीकार करें और दिल से उसके लिए माफी मांगें। याद रखिये माफी मांगने से कोई छोटा नहीं हो जाता। अपनी गलती को दिल से स्‍वीकार कर लेना दरअसल आपकी सज्‍जनता को ही दर्शाता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Relationship Advice In Hindi

Written by
Anurag Gupta
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागJan 14, 2019

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK