इन 5 कारणों से आपको रोज बहाना चाहिए थोड़ा पसीना, जानें सेहत के लिए कितना फायदेमंद है पसीना निकलना?

Updated at: May 20, 2020
इन 5 कारणों से आपको रोज बहाना चाहिए थोड़ा पसीना, जानें सेहत के लिए कितना फायदेमंद है पसीना निकलना?

रोजाना थोड़ी देर पसीना बहाकर आप किडनी की पथरी, जुकाम, बुखार जैसे रोगों से बच सकते हैं और खुश रह सकते हैं। जानें पसीना बहाने के 5 सेहतमंद कारण।

Anurag Anubhav
विविधWritten by: Anurag AnubhavPublished at: May 20, 2020

Benefits of Sweating: गर्मी के मौसम में हर कोई चाहता है कि वो ठंडा रहे ताकि पसीना न निकले। इसके लिए पंखा, कूलर, एसी, हवा दार कमरा आदि की व्यवस्था की जाती है। मगर क्या आप जानते हैं कि पसीना निकलना आपको भले थोड़ा असहज बनाता हो, लेकिन ये आपकी सेहत के लिए एक बहुत अच्छी प्रक्रिया है? जी हां, अगर आपके शरीर से पसीना निकलता है, तो उससे आपको कई फायदे मिलते हैं (Sweating Out Good For Health)। इसलिए कई हेल्थ एक्सपर्ट्स और वैज्ञानिक सुझाते हैं कि आपको हर दिन थोड़ा पसीना जरूर बहाना चाहिए। इसके लिए चाहे तो आप गर्म कमरे में थोड़े समय बैठें या फिर एक्सरसाइज करके और मेहनत वाला काम करके पसीना बहाएं। आइए आपको बताते हैं ऐसे 5 कारण, जिनकी वजह से रोजाना थोड़ा पसीना बहाने की आदत आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकती है (Health Benefits of Sweating Out)।

sweating in summer

फील गुड हार्मोन्स का होता है स्राव

पसीना निकलने से शरीर में अच्छा महसूस कराने वाले हार्मोन्स का स्राव होता है। इसलिए अगर आप थोड़ा मेहनत वाला काम करते हैं या फिर एक्सरसाइज करते हैं, तो इसके बाद आपको अच्छा महसूस होता है। इस खास हार्मोन का नाम है 'एंडॉर्फिन'- ये एक ऐसा हार्मोन है, जो हमारे खुश होने पर रिलीज होता है। फिजिकल एक्टिविटी के द्वारा ज्यादा पसीना निकालने से आपका मस्तिष्क इस एंडॉर्फिन हार्मोन का उत्सर्जन ज्यादा करता है। कुल मिलाकर पसीना बहाकर आप खुश रह सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: सामान्य गर्मी में भी आता है बहुत ज्यादा पसीना, तो हो सकते हैं ये 5 कारण

दर्द में आती है कमी

पसीना बहाने से निकलने वाला एंडॉर्फिन हार्मोन सिर्फ आपको खुश ही नहीं बनाता है, बल्कि ये शरीर में होने वाले दर्द को भी कम करता है। अगर आपको दवाओं की जानकारी होगी, तो आपने पेनकिलर दवाओं में मॉर्फिन का नाम जरूर सुना होगा। ये समझ लीजिए कि एंडॉर्फिन हार्मोन इसी मॉर्फिन का प्राकृतिक रूप है। इसलिए अगर आपको शरीर में दर्द है या किसी तरह का दुख है, तो थोड़ा एक्सरसाइज कीजिए और पसीना बहाइये, जिससे कि आपको अच्छा महसूस हो और दर्द में राहत मिले।

निकल जाते हैं शरीर और त्वचा के टॉक्सिन्स

हमारा शरीर एक तरह की मशीन है। अगर आप इसकी रेगुलर सफाई नहीं करेंगे, तो ये मशीन जल्दी खराब हो जाएगी। इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आपका शरीर अच्छी तरह काम करता रहे और आप स्वस्थ रहें, तो आपको अपने शरीर को डिटॉक्सिफाई करना चाहिए। इसका सबसे आसान तरीका है, पसीना बहाना। पसीना बहाने से आपके शरीर के अंदर के टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते हैं। चूंकि पसीना आपकी त्वचा के रोम छिद्रों से बाहर निकलता है, इसलिए आपके रोमछिद्र भी साफ हो जाते हैं और त्वचा लंबे समय तक खूबसूरत और जवान बनी रहती है।

इसे भी पढ़ें: पैरों में आता है ज्यादा पसीना? इन 4 घरेलू उपायों से दूर हो जाएगी आपकी पसीने और बदबू की समस्या

sweating benefits in hindi

जुकाम, बुखार जैसी बीमारियों से मिलता है छुटकारा

क्या आपने भी देखा है कि अक्सर जुकाम और सामान्य बुखार होने पर लोग कंबल ओढ़कर लेट जाते हैं, ताकि शरीर ज्यादा से ज्यादा पसीना निकाले और कुछ घंटे में ही उनका बुखार ठीक हो जाता है? जी हां, ये ट्रिक गांवों में खूब अपनाई जाती है। वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार भी देखें, तो हमारे पसीने में डर्मसिडिन (Dermcidin) नाम का एक पेप्टिसाइड होता है, जो निगेटिव एनर्जी चार्ज बैक्टीरिया, फंगी और वायरस को अपनी तरफ आकर्षित तकरता है और खत्म कर देता है। यही कारण है कि पसीना निकलने से सामान्य जुकाम, बुखार में राहत मिलती है।

किडनी की पथरी का खतरा होता है कम

एक अन्य अध्ययन के मुताबिक अगर आप एक्सरसाइज या दूसरी फिजिकल एक्टिविटी के द्वारा रोजाना थोड़ा पसीना बहाते हैं, तो इससे आपको किडनी की पथरी होने का खतरा कम हो जाता है। इसका कारण यह है कि पसीने के साथ शरीर में मौजूद सॉल्ट यानी नमक बाहर निकल जाता है। यही सॉल्ट अगर बॉडी में होता है, तो हड्डियों से निकलने वाले कैल्शियम के पार्टिकल्स के साथ मिलकर पथरी के रूप में किडनी के रास्ते में जमा हो जाता है। इसलिए आपको रोजाना थोड़ा पसीना बहाना चाहिए।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK