टॉयलेट सीट पर बैठने से लेकर पानी पीते वक्त हर कोई करता है ये 5 गलतियां, बार-बार गलती पहुंचाती है हमें नुकसान

Updated at: May 11, 2020
टॉयलेट सीट पर बैठने से लेकर पानी पीते वक्त हर कोई करता है ये 5 गलतियां, बार-बार गलती पहुंचाती है हमें नुकसान

 हम आपको ऐसी 5 गलतियों के बारे में बता रहें हैं, जो आप अनजाने में तो करते हैं लेकिन अपने स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंचाते हैं।

 

Jitendra Gupta
तन मनWritten by: Jitendra GuptaPublished at: May 11, 2020

जब भी हम सुबह सोकर उठते है तो अपने मन में सोचते हैं कि आज गलतियां नहीं करेंगे लेकिन होता उलट है। अनजाने में हम ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाती हैं। आपके टॉयलेट जाने से लेकर पानी पीने का तरीका आपको नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आप इस  बात को सुनकर हैरान हैं तो इस लेख में हम आपको ऐसी 5 गलतियों के बारे में बता रहें हैं, जो आप अनजाने में तो करते हैं लेकिन अपने स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंचाते हैं। तो आइए जानते हैं इन गलतियों के बारे में ।   

mistakes

वेस्टर्न टॉयलेट का इस्तेमाल करते वक्त 

मौजूदा वक्त में ऑफिसों, बड़े-बड़े मॉल और यहां तक की घरों में भी अब वेस्टर्न टॉयलेट का इस्तेमाल बखूबी हो रही है लेकिन बहुत से लोग वेस्टर्न सीट पर एकदम सीधे बैठते हैं जबकि इस पर बैठने का तरीका अलग है। वेस्टर्न टॉयलेट का प्रयोग करते वक्त लोगों को सीधा बैठने की आदत होती है जबकि इस पर बैठने का तरीका ये है कि शौच करते वक्त आप थोड़ा सा आगे की ओर झुक जाएं। अगर आपकी सीट की हाइट ज्यादा है तो आपको पैर के नीचे स्टूल लगाने की जरूरत है। सीधा बैठने से आपका पेट सही से साफ नहीं होगा और आपको बेहतर महसूस भी नहीं होगा। वेस्टर्न टॉयलेट पर बार-बार सीधा बैठने की आदत आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाती हैं। 

इसे भी पढ़ेंः दिन में किसी भी वक्त चटाई पर बैठकर लगाने लगते हैं ध्यान? ठहरिए, जानें ध्यान लगाने का सही वक्त, मिलेगें फायदे

एस्किलेटर पर चढ़ते वक्त

एस्किलेटर यानी की मॉल और मेट्रो जैसे सार्वजनिक स्थानों पर लगी स्वचलित सीढ़ियों पर आपने अगर गौर किया हो तो देखा होगा कि सीढ़ियों के बीच में एक पीली रेखा होती है। लेकिन हम लोगों सोचने के बजाए कि ऐसा क्यों है बस अपनी मनमानी करते हैं। जरा रुकिए और सोचिए कि ऐसा क्यों है। दरअसल ये रेखा इसलिए होती है कि जिसे जल्दी हो वह आगे निकल सके और बाएं तरफ वे व्यक्ति  खड़े हों, जिन्हें आराम से जाना हो। हालांकि ज्यादातर लोग इसके बारे में जानते ही नहीं हैं। इन सीढ़ियों पर जल्दबाजी आपके लिए चोट का कारण बन सकती है। इसलिए इस बात का ध्यान जरूर रखें। 

water

खड़े होकर पानी न पीएं

ये गलती ज्यादातर लोग करते हैं फिर चाहे वे बाहर हो या घर में। अक्सर जल्दबाजी में हम खड़े होकर पानी पीने लगते हैं लेकिन शायद आप इस बात को नहीं जानते होंगे कि खड़े होकर पानी पीने से सीधा आपकी किडनी को नुकसान पहुंचता है। इसलिए हमेशा बैठ कर ही पानी पीना चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः क्या सुबह 7 बजे के बाद उठने की है आपकी आदत? आयुर्वेद से जानें सुबह उठने का सही वक्त और उसका फायदा

गाड़ियों में लगी हाई बीम लाइट 

सड़कों पर आपने कई दुर्घटनाएं देखी होंगी लेकिन ऐसा या तो आपकी गलती या सामने वाली की अनचाही गलती के कारण होता है। आपने अक्सर देखा होगा कि बहुत से लोगों को अपनी गाड़ियों में हाई बीम लाइट लगाने की आदत या फिर शौक होता है। लेकिन य आदत कभी-कभी जानलेवा भी साबित हो सकती है क्योंकि जब भी आप  सड़क पर गाड़ी लेकर निकलते हैं, विशेषकर रात में तो ये सामने से आ रहे वाहन चालक की आंखों पर पड़ती है। इन लाइट का प्रयोग हाईवे पर चलने की सुविधा के लिए है। लेकिन गाड़ियों में इसके इस्तेमाल से दुर्घटनाएं होने की संभावना होती है।

एलीवेटर या लिफ्ट को बुलाने पर पैनिक होना

आपने अक्सर गौर किया होगा कि लिफ्ट का इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति जल्दी-जल्दी लिफ्ट को बुलाने के लिए बार-बार बैटन प्रेस करता रहता है। कभी-कभार तो उसे पता ही नहीं होता है कि सही दिशा में जाने के लिए कौन सा बटन है, जिसके कारण वे बार-बार बटन दबाने लगता है। ऐसा करने से न केवल मानसिक तनाव बढ़ने लगता है बल्कि उसे गुस्सा भी बहुत आने लगता है। ज्यादा गुस्सा किसी के लिए भी खतरनाक साबित हो सकता है। इसलिए अगली बार जब भी लिफ्ट बुलाएं तो पैनिक न हों। 

Read More Articles On Mind and Body in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK