• shareIcon

ये 5 ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट्स त्‍वचा को पहुंचा सकते हैं नुकसान, प्रयोग करें तो जरूर बरतें सावधानी

फैशन और सौंदर्य By शीतल बिष्‍ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jul 13, 2019
ये 5 ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट्स त्‍वचा को पहुंचा सकते हैं नुकसान, प्रयोग करें तो जरूर बरतें सावधानी

क्‍या आप जानते हैं, आप जिन ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट्स को अपनी सुंदरता बढ़ाने के लिए कर रहे हैं वह आपकी त्‍वचा के लिए नुकसानदायक भी हो सकते हैं? जी हां, आप जिन ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट या स्किन केयर प्रॉडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल कर रहे

आजकल सभी लोग अपनी त्‍वचा की देखभाल को लेकर काफी सजग रहते हैं, जिसके लिए आप सैलून या फिर कई ब्‍यूटी व स्किन केयर प्रॉडक्‍ट्स का इस्‍तेमाल करते हैं। हालांकि यह ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट्स आपकी त्‍वचा को सुंदर बनाने में मदद करते हैं लेकिन इसके बावजूद यह आपके लिए सुरक्षित नहीं हैं। क्‍योंकि यह उत्‍पाद सिंथेटिक रसायनों से भरे होते हैं, जो आपकी त्‍वचा की खराब स्थिति के लिए जिम्‍मेदार हो सकते हैं। 

कई अध्ययनों में पता चलता है कि यह उत्‍पाद कार्सिनोजेनिक होते हैं। इसके अलावा, यह कॉस्‍मेटिक उत्‍पाद व मेकअप आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाते हैं और त्‍वचा संबंधी कई समस्‍याओं का कारण बनते हैं। आइए जानते हैं ऐसे कौन से ब्‍यूटी उत्‍पाद हैं, जो आपकी त्‍वचा के लिए नुकसानदाय‍क हो सकते हैं। 

लिपस्टिक 

रोजाना लिपस्टिक आपके होंठों की नमी को सोखती है। जबकि, इसके बजाय लिप बाम बेहतर हैं। इसके अलावा, अगर आप रोजाना लिपस्टिक लगाना पसंद करते हैं, तो आप होठों पर लिपस्टिक लगाने से पहले लिप-बाम का इस्तेमाल करें। कुछ लिपस्टिक और लिप- ग्लॉस तेल और केमिकलयुक्‍त होते हैं, जो आपके होठों को सुंदर दिखने तो मदद करते हैं, लेकिन यह आपके होंठों को नुकसान पहुंचाते हैं। इससे कई स्वास्थ्य समस्याएं जैसे मस्तिष्क क्षति और व्यवहार की असामान्यताएं जुड़ी हैं। लिपस्टिक में पाया जाने वाला मिनरल ऑइल एक दूसरी नॉन-स्किन की तरह काम करता है, जिससे असली स्किन के पोर्स बंद हो जाते हैं और स्किन सेल्‍स के डेवलपमेंट और फंक्शनिंग में रुकावट आ सकती है।

काजल 

आजकल आपने देखा होगा कि डार्क और काफी बड़ा काजल लगाना फैशन में है। काजल का उपयोग आंखों की सुंदरता के लिए किया जाता है। लेकिन यह भी सुरक्षित नहीं है, यह आपके आंखों पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है। इसमें मौजूद कैमिकल, विषाक्त पदार्थ, यूवाइटिस, ग्लूकोमा, सूखी आंख और आंखों में इंफेक्‍शन का कारण बनते हैं। इसलिए, काजल और सुरमा या आंख के अंदर जाने वाले किसी भी मेकअप के उपयोग से बचना सबसे बेहतर है। इसलिए किसी भी आंख के संक्रमण, चोट, सर्जरी आदि के दौरान आंखों के मेकअप का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। 

इसे भी पढें: Makeup Tips: मिनरल मेकअप क्‍यों है आपकी त्‍वचा के लिए बेस्‍ट, जानिए कैसे करें इस्‍तेमाल

पाउडर 

टैल्कम पाउडर में सिलिकेट टाल्‍क जैसे रासायनिक तत्व होते हैं। यह फेफड़ों में एलर्जी और संक्रमण का कारण भी बनता है। टाल्‍क नमी को अवशोषित करता है इसलिए आप पसीने से बचने के लिए टैल्कम पाउडर का उपयोग करते हैं। लेकिन इससे त्वचा को बहुत नुकसान होता है, टाल्‍क के कण अभ्रक जैसे होते हैं, जो कि प्रजनन प्रणाली से गुजरने में सक्षम होते हैं। यदि इसका अधिक उपयोग किया जाए, तो यह ओवेरियन कैंसर का कारण बन सकता है। 

नेल पॉलिश 

यदि आप रोजाना अपने ड्रेस के हिसाब से अपना नेल कलर बदलते हैं, तो इस आदत को छोड़ दें। हांलाकि नेल पॉलिश आपके हाथों को सुंदर और ग्लैमरस लुक को देता है लेकिन यह आपकी त्वचा और नाखूनों को बर्बाद कर सकता है। डार्क कलर के नेल पॉलिश आपके नाखूनों को दाग सकती हैं और नाखूनों के पीलेपन का कारण हो सकती हैं। क्‍योंकि आपके नेल पॉलिश में एसीटोन रसायन होता है, जो कि आपके नाखून की शक्ति को कमजोर और क्षतिग्रस्त करने की अधिक संभावना पैदा करता है।

इसे भी पढें: बिना पैसे खर्च किए घर पर बनाएं ये 5 ब्‍यूटी प्रॉडक्‍ट्स, चेहरा और आंखें रहेंगी सुरक्षित

हेयर कलर या हेयर डाई 

बहुत से लोग इसके परिणामों से अवगत होंगे। आजकल बालों में अलग-अलग तरह के कलर करवाना काफी ट्रेंड में है। हेयर कलर में मौजूद केमिकल के कारण बालों के झड़ने, जलन, रूसी, दो मुंहे बाल जैसी समस्‍याएं होंने हो सकती है। हेयर डाई में कई रसायन होते हैं जिन्हें मानव स्वास्थ्य के लिए खतरनाक माना जाता है। हेयर डाई में पाए जाने वाले सबसे बुरे रसायनों में से एक है पी-फेनिलिडेनमाइन। 

Read More Article On Fashion And Beauty In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK