इन 5 फूलों से घर पर बनाएं बेहतरीन नैचुरल फेसपैक, चेहरा बनेगा फूल जैसा खूबसूरत और मखमली

Updated at: May 05, 2021
इन 5 फूलों से घर पर बनाएं बेहतरीन नैचुरल फेसपैक, चेहरा बनेगा फूल जैसा खूबसूरत और मखमली

फूलों जैसी खूबसूरत और कोमल त्वचा चाहिए तो चेहरे पर बाजार में मिलने वाले केमिकल के बजाय घर पर बने ये फूलों के फेस पैक यूज करें।

 
Kunal Mishra
त्‍वचा की देखभालWritten by: Kunal MishraPublished at: May 05, 2021

आजकल के इस प्रदूषण के माहौल में चेहरे का खास ध्यान रखना पड़ता है। चेहरा ही सबसे ज़्यादा एक्सपोज्ड होने वाला बॉडी पार्ट होता है। सारी धूल मिट्टी तेज़ धूप आदि सीधा चेहरे पर वार करती है। ऐसे में चेहरे के प्राकृतिक निखार को बरकरार रखने के लिए ज़रूरी है कि समय समय पर चेहरे को ज़रूरी देखभाल दि जाए। खूबसूरत चेहरे की चाह रखने वाले अपने चेहरे पर कई प्रकार के फेसपैक और ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन की बार इतना कुछ करने के बाद भी चेहरे पर निखार नहीं ता है। अपने चेहरे पर प्रिजर्वेटिव और कैमिकल युक्त ब्यूटी प्रोडक्ट्स लगाने की बजाय क्यों न फूलों से बना फेसमास्क लगाया जाए। फूल प्राकृतिक तौर पर हमारी त्वचा को निखारते है। हमारे आसपास ऐसे तमाम फूल मौजूद हैं, जो हमारी त्वचा में निखार लाते हैं। क्या आपने कभी फेसमास्क के तौर पर फूलों का इस्तेमाल किया है। अगर नहीं तो इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे फूलों की मदद से फेसपैक बनाने का तरीका और इससे होने वाले फायदों के बारे में। आइये जानते है इसके बारे में। 

jasmine

1. जैस्मीन फेसपैक (Jasmine Face pack)

आप खुद महसूस करेंगे कि आपका चेहरा अब पहले से बहुत कोमल हो गया है। जैस्मीन फेसपैक की यही खासियत है कि यह आपकी त्वचा को कोमल और मखमली बनाने के लिए फायदेमंद साबित होता है। सन डैमेज से स्किन को बचाने में यह फेसपैक बहुत कारगर है। चेहरे पर होने वाले छोटे छोटे पिंपल्स को भी ये ठीक करता है। साथ ही इसमें मिलाया गया शहद त्वचा को सुपर सॉफ्ट बनाता है। जैस्मीन न केवल आपके चेहरे को हाइड्रेट रखता है बल्कि आपकी स्किन इलास्टिसिटी बढ़ाने (Increases Skin Elasticity) में भी काफी कारगर माना जाता है। 

इसे भी पढ़ें - गर्मियों में तरोताजा फील कराए ये 3 तरह के बाथ, स्किन की कोमलता भी रहेगी बरकरार

बनाने की विधि (How to Make)

  • सामग्री
  • जैस्मीन पेटल्स 
  • शहद

जैस्मिन फेसपैक बनाने के लिए जैस्मीन की के फूलों को सबसे पहले पानी में उबालें। अब इस पानी को छानकर जैस्मीन के फूलों को अलग करें। जैस्मीन के इन फूलों को अच्छी तरह से मिक्सर में पीसकर इसमें शहद मिलाएं। आपका जैस्मीन फेसपैक तैयार है। इस फेसपैक को अपने चेहरे पर अधे घंटे के लिए लगाकर छोड़ दे। पानी से मुंह धोए और अपनी पसंद का कोई भी मॉइश्चराइजर लगा लें।

2. गेंदे का फेसपैक (Marigold Face pack)

गेंदे के फूल को तो प्राचीन काल से ही आयुर्वेद में एक औषधि के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। गेंदे के फूल में एंटीबैक्टीरियल (Antibacterial) और एंटी इन्फ्लामेटरी गुण (Anti inflammatory Properties) पाए जाते हैं। यह चर्म रोग में बहुत काम आता है। यह फेसपैक  आपके चेहरे को डिटेन करने में बहुत कारगर है। तेज़ धूप से होने वाले सांवलेपन से छुटकारा पाने के लिए यह एक बहुत अच्छा तरीका है। साथ ही इसमें मिली हल्दी चेहरे को एक गोल्डन निखार देती है। दूध की मलाई प्राकृतिक रूप से चेहरे को एक्सफोलिएट करती है और त्वचा को हाइड्रेट भी रखती है।

बनाने की विधि (How to Make)

  • गेंदे का फूल 
  • हल्दी
  • दूध मलाई
  • शहद

सबसे पहले मैरीगोल्ड यानि कि गेंदे के फूलों को अच्छे से धोएं और इसे पीसकर एक थिक पेस्ट बनाएं। अब इसमें आधा चम्मच हल्दी आधा चम्मच शहद और दूध की मलाई मिलाएं। सभी चीज़ों को आपस में मिला लें। इस फेसपैक  को अपने चेहरे पर कम से कम 20 से 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर धो लें। 

rose

3. गुलाब फेसपैक (Rose Facepack)

चेहरा धोने के बाद आपको फर्क नजर आने लगेगा। आपको ठंडक महसूस होगी। गुलाब के इस फेसपैक से आपके चेहरे की झुर्रियों दूर होंगी। साथ ही ड्राय स्किन वाले लोगों के लिए यह फेसमास्क बहुत फायदेमंद होता है। शहद से चेहरे को कोमल निखार मिलता है। दूध स्किन के अंदर तक जाकर रोम छिद्रों यानि पॉर्स से धूल मिट्टी निकालकर त्वचा को रिपेयर करता है। वहीं गुलाब तो एंटीऑक्सिडेंट्स सें भरपुर होता है साथ ही इसमें विटामिन सी, विटामिन बी और विटामिन के पाए जाते हैं जो त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। 

इसे भी पढ़ें - ब्लैकहेड्स हटाने के लिए करते हैं ब्लैकहेड रिमूवर का इस्तेमाल तो ध्यान रखें ये बातें, वर्ना हो सकता है नुकसान

बनानि की विधि (How to make)

  • सामग्री
  • गुलाब की पंखुड़ियां
  • दूध
  • शहद

गुलाब की पंखुड़ियों को भिगोकर पीसलें। अब इसमें एक चम्मच दूध और एक चम्मच शहद मिलाएं। सभी चीज़ों को आपस में अच्छे से मिक्स करें। आपका गुलाब फेसपैक तैयार है। अब इसे चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दे। इसके बाद अपने चेहरे को साफ करें।

4. कमल फेसमक्स (Lotus Face pack)

कमल विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होता है। चेहरे पर कमल का फेसपैक लगाने से चेहरे की इलास्टिसिटी बढ़ती है। इसके उपयोग से चेहरे पर झुर्रियां नहीं आती हैं। ये चेहरे को प्राकृतिक रूप से मॉइश्चराइज करने का भी कार्य करता है। चेहरे पर कमल से बना फेसपैक लगाने से चेहरे का रूखापन दूर होता है और आपको एक मॉस्चुराइज स्किन मिलती है। न सिर्फ यही बल्कि यह आपकी त्वचा में मौजूद ऑयल को भी निकालने और संतुलित करने में मदद करता है। 

बनाने कि विधि (How to Make)

  • कमल के फूल की पंखुड़ियां
  • दूध
  • बादाम का तेल

कमल के फूल को धोकर उन्हें एक मिक्सर में डालें। इसमें दूध डालकर एक अच्छा पेस्ट बनाएं। अब इस पेस्ट में बादाम के तेल की कुछ बूंदे डालें। सभी चीजों को आपस में अच्छे से मिक्स करें। लीजिए आपका कमल फेसपैक तैयार है। अब इसे चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाकर छोड़े दें। 

hibihious

5. हिबिस्कस फेसपैक (Hibiscus Face pack)

गुड़हल एक एंटी एजिंग फूल है। यह चेहरे को उम्र से पहले बूढ़ा होने से बचाता है। गुड़हल में ऑर्गेनिक एसिड्स होने के कारण ये एक प्राकृतिक एकसफोलिएटर के तौर पर काम करता है। तेज़ धूप से होने वाले नुकसान और डार्क स्पॉट्स को भी इस फेसपैक से ठीक किया जा सकता है। ओट्स मिलने से इसकी क्षमता और बढ़ जाती है क्योंकि ओट्स एक नेचुरल क्लींजर होता है। 

बनाने की विधि (How to make)

  • हिबिस्क्स पाउडर
  • ओटमील पाउडर
  • गुलाब जल

हीबिस्क्स यानि गुड़हल का फेसपैक बनाने के लिए एक चम्मच गुड़हल पाउडर और एक चम्मच ओटमील पाउडर को एक कटोरी में डालें। अब इसमें गुलाब जल मिलाकर एक पेस्ट बनाएं। आपका गड़हल से बना फेसपैक बिना किसी मेहनत के तैयार है। अब इस मास्क को चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें।

कई ब्यूटी प्रोक्ट्स अपनाकर भी अगर आप खुद को खूबसूरत बनाने में असमर्थ हैं तो इस लेख में दी गई टिप्स को अपनाकर फेसपैक बनाएं। इससे निश्चित तौर पर आपकी त्वचा निखरेगी। अगर आपको किसी फूल से एलर्जी है तो इसका प्रयोग न करें। 

Read more Articles on Skin Care in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK