डायबिटीज के मरीजों को जरूर खानी चाहिए ये 5 हेल्दी सब्जियां, लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण घटाती हैं ब्लड शुगर

Updated at: Jul 13, 2020
डायबिटीज के मरीजों को जरूर खानी चाहिए ये 5 हेल्दी सब्जियां, लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण घटाती हैं ब्लड शुगर

जिन्हें डायबिटीज है उन लोगों को ये 5 सब्जियां जरूर खानी चाहिए, क्योंकि ये सब्जियां लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली होती हैं और ब्लड शुगर घटाती हैं।

Anurag Anubhav
स्वस्थ आहारWritten by: Anurag AnubhavPublished at: Jul 13, 2020

सब्जियां (Vegetables) हमारे खानपान का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं, लेकिन डायबिटीज के मरीज के लिए सब्जियां (Vegetables for Diabetes) और भी ज्यादा जरूरी मानी जाती हैं। डायबिटीज एक ऐसा रोग है, जिसमें खानपान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है, क्योंकि हेल्दी लगने वाली चीजें भी कई बार ब्लड शुगर (Blood Sugar) को खतरनाक स्तर तक बढ़ा सकती हैं। सब्जियों में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैं और फाइबर होता है, इसलिए इसे टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) के मरीजों के लिए फायदेमंद माना जाता है। डायबिटीज के मरीज अगर सही सब्जियों का सेवन करें और जीवनशैली में बदलाव लाने के साथ-साथ रोजाना थोड़ी एक्सरसाइज करें, तो बिल्कुल स्वस्थ और सामान्य जीवन जी सकते हैं। आइए हम आपको बताते हैं ऐसी ही 5 सब्जियां जो लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स (Low Glycemic Index Vegetables) वाली मानी जाती हैं, यानी इन सब्जियों के सेवन से ब्लड शुगर नहीं बढ़ता है और डायबिटीज रोगी के शरीर को फायदा मिलता है।

ब्रोकली (Broccoli)

healthy vegetables for diabetics

ब्रोकली एक ऐसी सब्जी है, जिसे दुनिया की 10 सबसे हेल्दी सब्जियों में गिना जाता है। इसका कारण यह है कि ब्रोकली ढेर सारे न्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है। ब्रोकली में कार्ब्स कम होते हैं और फाइबर बहुत ज्यादा होता है, यही कारण है कि ब्रोकली की सब्जी खाने से न तो व्यक्ति के शरीर में ब्लड शुगर अचानक से बढ़ता है और न ही उसका वजन बढ़ता है। ब्रोकली को पकाना और बनाना भी आसान है। इसका इस्तेमाल आप कई तरह की डिशेज में कच्चा या पकाकर कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: डायबिटीज रोगी फलों को चुनते समय बरतें ये 10 सावधानियां, जानें कौन से फल नहीं बढ़ाते ब्लड शुगर

बैंगन (Eggplant)

healthy vegetables for diabetes patients

बैंगन भी लो-ग्लाइसेमिक सब्जी है, जो बड़ी फायदमंद होती है। डायबिटीज के मरीजों को बैंगन का सेवन भी करना चाहिए। बैंगन की खास बात ये है कि इसमें फेनॉल्स, होता है, जो कि ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए जाना जाता है। फेनॉल्स शरीर के कार्बोहाइड्रेट मेटाबॉलिज्म को रेगुलेट करता है। इससे इंसुलिन को कार्बोहाइड्रेट को तोड़ने के लिए ज्यादा समय मिल जाता है। कई रिसर्च में भी ये बात साबित हो चुकी है कि बैंगन खाना डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है।

पालक (Spinach)

foods to eat in diabetes

पालक भी सबसे हेल्दी सब्जियों में शामिल है। पालक की सबसे खास बात है इसमें मौजूद आयरन, क्लोरोफिल और फाइबर। पालक में विटामिन ए की मात्रा अच्छी होती है, जो कि आंखों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा विटामिन सी होता है, जो इम्यूनिटी बढ़ाता है। साथ ही पालक को लो-ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली सब्जी माना जाता है इसलिए इसके सेवन से ब्लड शुगर नहीं बढ़ता है। डायबिटीज के मरीजों के साथ-साथ पालक का सेवन अन्य लोगों के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

टमाटर (Tomatoes)

low glycemic index foods for diabetes

टमाटर एक सस्ता और बेहतरीन फल है, जिसका इस्तेमाल सब्जी की तरह किया जाता है। टमाटर का GI Index (Glycemic Index) बहुत कम होता है, इसलिए इसे डायबिटीज के मरीजों के लिए विशेष फायदेमंद माना जाता है। टमाटर में एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा बहुत अच्छी होती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट आपको हार्ट की बीमारियों से बचाते हैं और शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाते हैं। टमाटर को आप कच्चा और पकाकर दोनों तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: प्री-डायबिटीज का पता चलने पर लाइफस्टाइल में कौन से बदलाव जरूरी हैं ताकि न रहे टाइप 2 डायबिटीज का खतरा?

हरी बीन्स (Green Beans)

foods to lower blood sugar

ग्रीन बीन्स का सेवन भी डायबिटीज रोगियों  के लिए फायदेमंद है। हरी बीन्स में विटामिन A, विटामिन C     और विटामिन K पाया जाता है। इसके अलावा फॉलिक एसिड और फाइबर भी पाया जाता है। इसलिए हरी बीन्स का सेवन डायबिटीज के मरीजों को जरूर करना चाहिए। हरी बीन्स में कैलोरीज बहुत कम होती हैं, जबकि न्यूट्रीशन्स ज्यादा होते हैं। इसलिए बीन्स का सेवन करने से वजन भी घटता है।

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK