नुकसानदायक हैं रोजाना सेवन किए जाने वाले ये 5 फूड, आप भी तो नहीं करते हैं इनका सेवन?

Updated at: Jul 31, 2020
नुकसानदायक हैं रोजाना सेवन किए जाने वाले ये 5 फूड, आप भी तो नहीं करते हैं इनका सेवन?

हेल्थ फूड’ आपकी सेहत के लिए बेहद नुकसान दायक हो सकते हैं? जी हां, यह सच है और चौंकाने वाला भी, तो आइए यहां इसके संभावित खतरों के बारे में जानते हैं। 

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 31, 2020

आजकल लगभग सभी लोग अपनी हेल्थ को लेकर अत्यधिक सचेत रहते हैं। शायद यही वजह है कि नियमित दिनचर्या से लेकर अच्छा खाना-पीना हमारी जीवनशैली का एक अहम हिस्सा बन गया है।  इसी में शामिल है हेल्थ फ़ूड का सेवन, जिसके बारे में आपने ना सिर्फ सुना होगा अपितु कभी ना कभी सेवन भी किया होगा। विशेषज्ञों का मानना है कि इस तरह के फूड हेल्दी नहीं होते क्योंकि उनमें अत्याधिक शुगर नमक और वसा होता है।

रिसर्च के अनुसार हेल्थ फूड को ज्यादा लंबे समय तक सुरक्षित रखने के लिए बहुतायत मात्रा में केमिकल्स का प्रयोग भी किया जाता है।  यह केमिकल हमारे शरीर के लिए हानिकारक होते हैं। इनके प्रयोग से हमें मोटापा, पेट की समस्याएं, त्वचा की समस्याएं और रोग प्रतिरोधक क्षमताएं भी कमजोर होती है।

1 -'प्रोसेस्ड लो फैट' और 'फैट फ्री' खाना (Processed ‘low-fat’ and ‘fat-free’ foods)

अक्सर लोग मोटापा घटाने के लिए 'प्रोसेस्ड लो फैट' और 'फैट फ्री' खाना खाते हैं। इसके पीछे लोगों की मंशा होती है कि इसके सेवन से कम से कम कैलोरी हमारे शरीर में जाए। जिससे पेट तो भरे लेकिन शरीर को अत्यधिक कैलोरी ना मिले और मोटापे से बचा जा सके। लेकिन यहीं गड़बड़ हो  जाती है।  

Unhealthy Food

इसे भी पढ़ें: गोलगप्पे के खट्टे-चटपटे पानी में कहीं आप तो नहीं पी रहे धीमा जहर? ऐसे पहचानें एसिड वाले मिलावटी पानी-पूरी को

अक्सर 'प्रोसेस्ड लो फैट' और 'फैट फ्री' खाने में फैट को निकाल लिया जाता है जिससे फ़ूड आइटम्स के स्वाद पर इसका विपरीत असर पड़ता है, इससे बचने के लिए 'प्रोसेस्ड लौ फैट' और 'फैट फ्री' खाने में आर्टिफिशियल फ्लेवर और शक्कर मिलाई जाती है, जो आपके शरीर के लिए बेहद हानिकारक होती है।

2 -फ्रूट जूस (Fruit juices)

यदि आप अक्सर डिब्बा बंद फ्रूट जूस पीते हैं तो सतर्क हो जाइए। डिब्बा बंद जूस में कई कैमिकल्स और अन्य प्रिजर्वेटिव मिलाए जाते हैं। ताकि इन्हें लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सके। यह सीधे तौर पर आपकी सेहत के लिए हानिकारक हैं। इसलिए बेहतर यही है कि आप डिब्बा बंद फ्रूट जूस की जगह फ्रेश जूस का सेवन करें। इससे भी बेहतर होगा कि आप जूस की जगह फलों का सेवन करें।

fruit juice

3 -स्पोर्ट्स ड्रिंक्स (Sports drinks)

स्पोर्ट्स ड्रिंक्स अक्सर एथलीट्स को ध्यान में रखकर बनाई जाती हैं। इसलिए इसमें शक्कर और प्रोटीन की मात्रा सामान्य से कहीं अधिक रहती है। चूँकि, एथलीट्स को काफी अधिक मात्रा में एनर्जी की ज़रुरत पड़ती है। ऐसे में उनके लिए यह स्पोर्ट्स ड्रिंक्स पचाना आसान होता है। वहीँ, यदि सामान्य व्यक्ति इनका सेवन करे तो यह शरीर को नुकसान पहुंचा सकते हैं।   

4 -लो कार्ब जंक फ़ूड (Low-carb junk foods)

लो कार्ब जंक फ़ूड वैसे तो लोगों के बीच खासे पॉपुलर हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह भी हमारी सेहत को काफी नुकसान पहुंचाते हैं। असल में लो कार्ब जंक फ़ूड को स्वादिष्ट बनाने के लिए इसमें कई  प्रकार के एडेड फ्लेवर सहित प्रिजर्वेटिव मिलाए जाते हैं। ताकि इन्हें लंबे समय तक सुरक्षित रखा जा सके। इसका सेवन हमें कुछ देर की संतुष्टि ज़रूर देता है, लेकिन नियमित सेवन नुकसान ही पहुंचाता है।

इसे भी पढ़ें: कुछ ऐसे रखें राखी का मेन्‍यू और बनाएं भाई बहन के प्‍यार का प्रतीक राखी को और भी खास 

 

5- वेजिटेबल आयल (Vegetable oils)

अक्सर आपने सुना होगा कि कोलेस्ट्रॉल की समस्या से बचने के लिए सही वेजिटेबल आयल का उपयोग करना चाहिए। हालांकि, हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो सिर्फ वेजिटेबल आयल मात्र बदल लेने से यह सुनिश्चित नहीं किया जा सकता कि आप कोलेस्ट्रॉल जनित रोगों जैसे दिल की समस्या से बच सकते हैं। इसलिए वेजिटेबल आयल के साथ ही कोकोनट आयल और  फ्रेश मक्खन का प्रयोग खाने में करना; आपके लिए लाभदायक हो सकता है।

Read More Article On Healthy Diet In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK