Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

छोटे बच्चों को मच्छरों से बचाना है तो अपनाएं ये 5 आसान उपाय, दूर रहेंगे डेंगू-मलेरिया

नवजात की देखभाल
By शीतल बिष्ट , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Apr 17, 2019
छोटे बच्चों को मच्छरों से बचाना है तो अपनाएं ये 5 आसान उपाय, दूर रहेंगे डेंगू-मलेरिया

आप अपने घर में भले ही कितनी ही सफाई क्‍यों न रखें, लेकिन गर्मियों और बरसात के मौसम में मच्‍छर होना तो आम बात है। वैसे तो हर समय ही मच्‍छर होते हैं, लेकिन गंदगी और जगह-जगह पानी इकट्ठा रहने की वजह से इस मौसम में मच्‍छर ज्‍यादा हो

Quick Bites
  • मच्‍छर के काटने से आपके बच्‍चे को मलेरिया, चिकनगुनियां, पीलिया व डेंगू जैसी बीमारियां हो सकती हैं। 
  • छोटे बच्‍चों का इम्‍यून सिस्‍टम कमजोर होता है, जिससे वह जल्‍दी बीमारी की चपेट में आते हैं।
  • तुलसी का पौधा मच्‍छर के लार्वा को नष्‍ट करने का प्रभावी माध्‍यम है।

आप अपने घर में भले ही कितनी ही सफाई क्‍यों न रखें, लेकिन गर्मियों और बरसात के मौसम में मच्‍छर होना तो आम बात है। वैसे तो हर समय ही मच्‍छर होते हैं, लेकिन गंदगी और जगह-जगह पानी इकट्ठा रहने की वजह से इस मौसम में मच्‍छर ज्‍यादा होते हैं। जिससे आपको व आपके छोटे बच्‍चे को कई बीमारियां हो सकती हैं। क्‍योंकि छोटे बच्‍चों का इम्‍यून सिस्‍टम कमजोर होता है और उन्‍हें बीमारी होने की आशंका ज्‍यादा होती है। ऐसे में जरूरी है, कि आप अपने छोटे बच्‍चे की सेहत का विशेष ध्‍यान दें और मच्‍छरों से बचने के लिए कुछ उपाय अपनाएं। क्‍योंकि मच्‍छरों के काटने से आपके बच्‍चे को मलेरिया, चिकनगुनियां, पीलिया व डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियों का खतरा बढ़ता है। आप अपने घर में केमिकल वाले मॉस्‍क्‍यूटो रेपलेंट की जगह नॅचुरल रेपलेंट का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं, जिससे कि मच्‍छर आपके व आपके बच्‍चे के पास तक नहीं आ पाएंगे। तो आइए जानते हैं, कौन सी हैं वो पांच चीजों की महक जो मच्‍छरों को आप से से दूर रखेंगी। 

लहसुन और पुदीना 

लहसुन की गंध मच्‍छरों को दूर रखने का अच्‍छा तरीका है। लहसुन की एक कली या लौंग खाने से खून चूसने वाले इन मच्‍छरों से बचा जा सकता है। लहसुन की गंध मच्‍छरों को घर के अंदर आने से रोक सकती है। इसके लिए आप लहसुन की कुछ कलियों को पीसकर पानी में उबाल लें और फिर इसका छिड़काव आप पूरे घर या कमरे में कर लें। ऐसा करने से मच्‍छर आपके घर में प्रवेश नहीं कर पायेंगे और आप अपने बच्‍चों को मच्‍छरों के काटने से बचा सकेंगे। इसके अलावा पुदीना से भी मच्‍छरों को दूर रखा जा सकता है। पुदीने का तेल किसी भी कीटनाशक के जितना प्रभावी है। आप कइर् तरीके से पुदीने के पत्‍तों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। आप पुदीने का तेल अपने अपने बच्‍चे के या खुद के शरीर पर लगा सकते हैं, यह मच्‍छरों को बच्‍चे से दूर रखेगा। इसके अलावा आप अपने कमरे की खिड़की या दरवाजे के पास पुदीने का पौधा रख सकते हैं या पुदीने के पत्‍तों के रस का छिड़काव कर भी आप मच्‍छरों को दूर भगा सकते हैं। 

तुलसी 

तुलसी का पौधा मच्‍छर के लार्वा को नष्‍ट करने का प्रभावी माध्‍यम है। आर्युवेद के अनुसार भी तुलसी इतनी फायदेमंद है, कि इसका पौधा खिड़की या दरवाजे के पास रखने से मच्‍छरों को दूर भगाया जा सकता है। यह मच्‍छरों को आपके बच्‍चों से दूर रखने का बेहतर उपाय है। आप अपने या बच्‍चे के शरीर पर तुलसी का रस लगा सकते है या फिर कमरे में चारों तरफ इसका स्‍प्रे कर सकते हैं। 

लेमनग्रास, नींबू व नीलगिरी 

कई बार बीमारियों का उपचार और बचाव के विकल्‍प आपके आस-पास होता है, लेकिन जानकारी न होने के कारण आप उनका इस्‍तेमाल नहीं कर पाते। इन्‍हीं विकल्‍पों में से एक है लेमनग्रास, जिसके इस्‍तेमाल से मच्‍छरों को दूर भगाया जा सकता है। लेमनग्रास का इस्‍तेमाल लेमन टी के तौर पर किया जाता है। एक्‍सपर्ट के अनुसार यदि आपके घर के गमले या लान में लेमन ग्रास का पौधा है, तो उसकी महक से मच्‍छर आपके आस-पास नहीं फटकते। यह पौधा मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों से बचाने में भी सहायक है। इसके अलावा आप मच्‍छर भगाने के लिए नींबू का रस और नीलगिरी तेल का स्‍प्रे कर सकते हैं। आप इसे हाथ पैरों में लगाने के साथ मच्‍छर भगाने वाली रिफिल में भी भर सकते हैं। 

नीम

नीम स्‍वास्‍थ्‍य व शरीर के लिए बहुत गुणकारी है। स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक होने के साथ यह आपको व आपके बच्‍चे को मच्‍छरों के आंतक से भी बचाने में मदद करमी है। यह एक मच्‍छर नाशक है। नीम के तेल को शरीर पर लगाने से मच्‍छर आपसे कोसों दूर रहते हैं। नीम के साथ नारियल तेल का मिश्रण करने से भी मच्‍छरों को घर के अंदर प्रवेश करने से रोका जा सकता है, यह एक प्रभावी तरीका है।

आप नारियल के तेल में नीम का तेल मिलाकर दीया जलाएं, इसकी महक से मच्‍छर आपके बच्‍चे से दूर रखेंगे। यह एक जीवाणुरोधी, एंटी फंगल, एंटी वायरस एजेंट होले के साथ आपकी त्‍वचा पर एक विशेष महक छोड़ता है, जो मच्‍छरों को रखती है। इन दोनों तेल के मिश्रण को शरीर पर लगाने से यह कम से कम यह कम आठ घंटे के लिए आपके शरीर को मच्‍छरों से सुरक्षित करता है। 

इसे भी पढ़ें: क्यों खराब होता है बच्चों का पाचन तंत्र? जानें इसे तुरंत सही करने के तरीके

लवेंडर फूल व टी ट्री ऑयल 

लवेंडर के फूल खुशबूदार होने के साथ-साथ आपको मच्‍छरों से बचाने का भी एक अच्‍छा तरीका है। आप इस फूल की महक से मच्‍छरों को असमर्थ बना सकते हैं। इसके लिए आपको लवेंडर के तेल को कमरे में रूम फ्रेशनर की तरह छिड़कें, इससे मच्‍छर कमरे में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। आप चाहें तो इसे अपनी क्रीम के साथ मिलाकर भी त्‍वचा पर लगा सकते हैं। इसके अलावा ट्री टी ऑयल बालों व स्किन के अलावा मच्‍छरों से बचाव के लिए भी फायदेमंद है। इसकी महक और जीवाणुरोधी गुणों के कारण यह आपको मच्‍छरों से बचाता है। आप बच्‍चे या अपनी त्‍वचा पर इस तेल को मलें या इसका स्‍प्रे आप कमरे के चारों ओर कर लें, यह महक मच्‍छरों को आप से दूर रखती है। 

इसे भी पढ़ें: माता-पिता की लावरवाही से बढ़ सकता है बच्‍चों में टीबी का खतरा

Read More Article On Children Health

Written by
शीतल बिष्ट
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागApr 17, 2019

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK