दांतों के दर्द से जल्‍द राहत दिलाएंगे ये 5 होमियोपैथी नुस्खे, तुरंत मिलेगा आराम

Updated at: Aug 26, 2019
दांतों के दर्द से जल्‍द राहत दिलाएंगे ये 5 होमियोपैथी नुस्खे, तुरंत मिलेगा आराम

दांत दर्द एक ऐसी समस्‍या है, जो काफी तकलीफदायक होती है। दांत दर्द को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। दांत में उठने वाला दर्द कुछ हद तक ही सहन किया जा सकता है, क्‍योंकि दांत का असहनीय दर्द आपको शांति से नहीं जीने देता। इस स्थिति से निपटने के

Sheetal Bisht
घरेलू नुस्‍खWritten by: Sheetal BishtPublished at: Aug 26, 2019

दांत दर्द एक ऐसी समस्‍या है, जो काफी तकलीफदायक होती है। दांत दर्द को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। दांत में उठने वाला दर्द कुछ हद तक ही सहन किया जा सकता है, क्‍योंकि दांत का असहनीय दर्द आपको शांति से नहीं जीने देता। दांतों का दर्द न केवल आपको तकलीफ देता है, बल्कि आपका खाना खाना भी मुश्किल कर देता है। इसके अलावा, बात करने या अन्‍य किसी काम करने पर भी ध्‍यान केंद्रित करना बेहद मुश्किल भरा होता है। दांत दर्द एक आम समस्या है, जिससे लगभग हर व्यक्ति अपने जीवन के किसी न किसी मोड़ पर पीड़ित होता है। हालाँकि, दांतों में दर्द होने के कारण अलग-अलग हो सकते हैं, जैसे - दांतों की सड़न, सूजे हुए मसूड़ों या दांत निकालने के कारण हो सकता है। 

यदि आपके भी दांतों में अचानक से होने वाला दर्द आपको परेशान करता है या आप भी इस असहनीय दर्द से जूझ रहे हैं, तो आइए यहाँ हम आपके लिए 5 प्राकृतिक होम्योपैथिक उपचार बता रहे हैं। जिनकी मदद से आप अचानक दांतों में उठने वाले दर्द से आसानी से राहत पा सकते हैं। 

प्लांटैगो (Plantago)

प्लांटैगो (Plantago) यह एक झाड़ीनुमा पौधा है, जिसके बीज का छिलका कब्ज, अतिसार जैसे अनेक प्रकार के रोगों के उपचार के लिए आयुर्वेदिक औषधि है। प्लांटैगो आपके दांत दर्द और कमजोर दांतों व मसूड़ों दोनों के लिए दवा के रूप में काम करता है। यह दांत दर्द के साथ उन लोगों को भी दिया जाता है, जिनके मुंह में अधिक लार होती है। प्लांटैगो यह दवा दांत दर्द में हाने वाली गालों पर सूजन को कम करने और दर्द से राहत दिलाने में मददगार है। इसका इस्‍तेमाल दांत व मसूड़ों पर, जहां दर्द है या फिर दांत खोखला है, वहां बाहरी तौर पर लगाया जाता है। 

सिलिका (Silicea)

सिलिका आपके पाचन तंत्र को दुरूस्‍त रखने के साथ-साथ आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य और हड्डियों में मजबूती लाने के लिए फायदेमद होता है। सिलिका दांतों की जड़ में फोड़ा या पस भरने (मवाद का संग्रह) के कारण होने वाले दांत दर्द के लिए सबसे अच्छा होम्योपैथिक उपाय है। सिलिका सूजन आपके मसूड़ों व गालों की सूजन को कम करने और दांत दर्द में राहत देता है। 

इसे भी पढें: ब्‍लड शुगर और कोलेस्‍ट्रॉल घटाएगी सेब की चाय, डायबिटीज और हार्ट के मरीजों के लिए है वरदान

स्टैफिसैग्रिया (Delphinium Staphisagria)

स्टैफिसैग्रिया यह एक होम्‍योपैथिक दवा के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है। दांत दर्द से राहत पाने के लिए स्टैफिसैग्रिया एक असरदार तरीका है, मीठा खाने या ठंडा पीने पर दांतों में होने वाले दर्द और झंझनाहट व संवेदनशील दांतों का इलाज करने के लिए यह प्राकृतिक होम्योपैथिक दवा है। यदि आपके दांत दर्द के पीछे का कारण कोई भोजन या पेय पदार्थ जैसे ज्यादातर बार, कोल्ड ड्रिंक्स के सेवन से दर्द बदतर हो जाता है, तो आप इसका लेप व इसे अपने दांतों के बीच रख सकते हैं। 

मर्क सोल (Merc Sol)

इसका इस्‍तेमाल मुंह में छाले, दानें, खाने पीने में जीभ पर जलन, मुंह से अतिरिक्त लार और मुंह की दुर्गंध के साथ-साथ दांत दर्द के लिए मर्क सोल सबसे अच्छा विकल्‍प है। यह मुंह में लार, मसूड़ों में छाले व दर्द के लिए दवा के रूप में काम करता है। जब गर्म और ठंडे दोनों तरह के भोजन के सेवन से दांत में दर्द की समस्‍या बनती है, इसकी वजह से दांतों में दर्द के साथ मसूड़ों से खून आने लगता है। इस समस्‍या से निपटने और राहत पाने के लिए मर्क सोल का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। 

इसे भी पढें: किडनी की पथरी का आयुर्वेदिक इलाज है पत्थरचट्टा, ऐसे करें सेवन पेशाब के रास्ते निकल जाएगी पथरी

अर्निका (Arnica)

अर्निका यह भी एक तरह का पौधा है, जो कि आपके दांतो के दर्द में राहत पाने के लिए काफी फायदेमंद है। इसका उपयोग दांतों में खाली जगह या गढ्ढ़ा होने के बाद दांतों और मसूड़ों में दर्द के इलाज के लिए किया जाता है। अर्निका एक सटीक दर्द निवारक दवा के रूप में कार्य करती है और विभिन्न स्वास्थ्य स्थितियों के इलाज के लिए होमियोपैथी में इसका उपयोग किया जाता है।

Read More Article On Home Remedies In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK