• shareIcon

डायट के ये 5 नियम अपनाकर अपने पेट को रखें फिट!

स्वस्थ आहार By अतुल मोदी , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 03, 2017
डायट के ये 5 नियम अपनाकर अपने पेट को रखें फिट!

अगर आप भी अपनी सेहत को लेकर गंभीर हैं और फिट रहना चाहते हैं तो अपना पाचन तंत्र ठीक करिए और पेट को हेल्‍दी बनाइए, क्‍योंकि अगर आपका पेट खुश है तो आप भी खुश रहेंगे और बीमारियां कोसो दूर रहेंगी।

शरीर का खाना पचना बहुत जरूरी होता है। यह शरीर की एक जटिल प्रक्रिया है, इसे सरल बनाकर हम खुद को फिट रख सकते हैं। कुछ तरीके हैं जिनके माध्‍यम से हम अपने भोजन को असानी से पचा सकते हैं। हालांकि पेट को फिट रखने के लिए हमारी जीवनशैली का सही होना बहुत जरूरी है। अगर आप भी अपनी सेहत को लेकर गंभीर हैं और फिट रहना चाहते हैं तो अपना पाचन तंत्र ठीक करिए और पेट को हेल्‍दी बनाइए, क्‍योंकि अगर आपका पेट खुश है तो आप भी खुश रहेंगे और बीमारियां कोसो दूर रहेंगी।

इसे भी पढ़ें : आंखों को स्वस्थ रखने के लिए करें ये एक्सरसाइज

healthy-eating

पाचन क्रिया

भोजन सभी जीव-जंतुओं की मूलभूत आवश्यकताओं में से एक है। हमारे भोजन के मुख्य अवयव कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन एवं वसा हैं। अल्प मात्रा में विटामिन एवं खनिज लवणों की भी आवश्यकता होती है। भोजन से उ…र्जा एवं कई कच्चे कायिक पदार्थ प्राप्त होते हैं जो वृद्धि एवं ऊ…तकों के मरम्मत के काम आते हैं। जो जल हम ग्रहण करते हैं, वह उपापचयी प्रक्रियाओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है एवं शरीर के निर्जलीकरण को भी रोकता है। हमारा शरीर भोजन में उपलब्ध जैव-रसायनों को उनके मूल रूप में उपयोग नहीं कर सकता। अत: पाचन तंत्र में छोटे अणुओं में विभाजित कर साधारण पदार्थों में परिवर्तित किया जाता है। जटिल पोषक पदार्थों को अवशोषण योग्य सरल रूप में परिवर्तित करने की इसी क्रिया को पाचन कहते हैं और हमारा पाचन तंत्र इसे यांत्रिक एवं रासायनिक विधियों द्वारा संपन्न करता है।

इसे भी पढ़ें : महिलाओं में फाइब्रायड की शिकायत

ऐसे रखें अपने पेट का ख्‍याल  

1. पाचन का मतलब होता है कार्बोहाइटड्रेट जैसे स्टार्च और शुगर का पाचन, जो मुंह में स्लाइवा और एंजाइम के जरिए होता है। ये एंजाइम खाने को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ते बल्कि बैक्टेरिया से भी लड़ते हैं। इसलिए भोजन को हमेशा चबा-चबा कर खाना चाहिए। इससे पाचन आसानी से हो जाता है।

2. प्रतिदिन अपनी डाइट में मौसमी फल और सब्जियों को जरूर शामिल करें। कोशिश करें कि ऐसी फल और सब्जियां खाएं जिनमें फाइबर की मात्रा अधिक हो। फैट वाला खाना खाना और अधिक तला-भुना और मसालेदार खाना काने से बचें।

3. दिनभर में पानी की मात्रा ज्यादा से ज्यादा लें और फाइबर युक्त चीजों को रोज के खाने में शामिल करें। खानें में लहसुन जरूर खाएं और फलों में केला अमरूद, अंगूर और पपीता खाएं। धूम्रपान न करें इससे पाचन तंत्र में समस्या आ सकती हैं।

4. रोज सुबह उठकर एक गिलास गुनगुना पानी पीना चाहिए। इसके साथ ब्रेकफास्ट और खाने के बीच गैप भी नहीं रखना चाहिए। गैस की समस्या में रहती है तो तंग कपड़े पहनने से बचें। कोशिश करें कि अपने खाने में हरी सब्जियां जैसे लौकी, फलियां, गाजर को शामिल करें।

5. सब्जियों में पेट के लिए फलियां, कद्दू, गोभी, गाजर और लौकी को शामिल करें। तरबूज का रस एसिडिटी दूर करता है इसलिए दिन में तरबूज भी खाएं, इन सभी तरकीबों से आपका पाचन तंत्र यानी पेट सही रहेगा और आप हमेशा स्‍वस्‍थ्‍य रहेंगे।  

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source:Getty
Read More Articles On Healthy Eating In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK