• shareIcon

Diet for Anxiety and Depression: डिप्रेशन, तनाव और थकान को दूर करने के अलावा इन फूड्स से होते हैं और भी कई फायदे

स्वस्थ आहार By सम्‍पादकीय विभाग , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jul 24, 2019
Diet for Anxiety and Depression: डिप्रेशन, तनाव और थकान को दूर करने के अलावा इन फूड्स से होते हैं और भी कई फायदे

WHO के अनुसार पूरे विश्व में 300 मिलियन से अधिक लोग डिप्रेशन से पीड़ित हैं। डिप्रेशन और चिंता के वजह से लोगों में हृदय रोग का खतरा भी बढ़ता जा रहा है। तनाव, डिप्रेशन, थकावट  के अलावा और भी कई समस्याएं हैं जो इन फू

शरीर को फिट और हेल्दी रखने के लिए जितनी जरूरत शारीरिक गतिविधि बनाएं रखने की होती है उतनी ही जरूरत हेल्दी डाइट की भी होती है। प्रोटीन, विटामिन्स के अलावा और भी बहुत सारे फूड्स हैं जो शरीर की कई समस्याओं जैसे  तनाव, डिप्रेशन और थकावट को कम करने में मदद करते हैं। इन फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करने से इनसे जुड़ी सभी समस्याओं में निजात दिलाने में मदद मिलती हैं। डिप्रेशन या अवसाद एक मानसिक रोग है इससे पीड़ित लोग उदासी, अस्थिरता, अकेलापन और निराशा महसूस करता है। डिप्रेशन से पीड़ित लोगों का मूड भी अकसर काफी खराब रहता है। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के मेडिकल स्कूल के सह-लेखक क्रिस्टोफर सेलेनो का मानना है कि अवसाद से हार्ट फेल और अन्य हृदय रोगों के विकास में काफी मदद मिलता है। आइए जानते हैं कुछ फूड्स के बारे में जो डिप्रेशन और तनाव जैसी समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं।

ब्लूबैरी

blueberries

ब्लूबेरी में पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंटस विटामिन सी और फ्लेवोनोइड दोनों ही तनाव और चिंता को दूर करने में मददगार हैं। एक कप ब्लूबेरी रोजाना हमें 24 प्रतिशत विटामिन सी प्रदान करता है। इसलिए विटामिन सी से भरपूर आहार तनाव और चिंता के इलाज के लिए मददगार होता है। ब्लूबेरी में पाये जाने वाले पोषक तत्व फ्लेवोनोइड्स युवा और बच्चों दोनों का मूड ठीक करने में मदद करता है।

दही

वर्जीनिया यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिसिन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं का मानना है कि दही में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया और लैक्टोबैसिलस पाए जाते हैं जिसे खाने से शरीर तनाव मुक्त होता है। जिसके माध्यम से बैक्टीरिया मूड को प्रभावित करते हैं उसका सीधा संबंध आपके आंत स्वास्थ्य और मानसिक स्वास्थ्य के बीच पाया गया है। इसलिए दही, केफिर, सॉकरक्राट और किमची जैसे प्रोबायोटिक्स वाले भोजन का सेवन से तनाव कम करने में मदद मिल सकती है।

सालमन फिश

fish

सालमन फिश ओमेगा-3 फैटी एसिड और प्रोटीन का बेहतर स्‍त्रोत है। ओमेगा-3 फैटी एसिड आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करता है। ये मछली खाने में तो स्‍वादिष्‍ट होती ही है, इसके कई सारे स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं। पोषक तत्‍वों से भरपूर ये मछली हड्डियों और दिमाग के लिए फायदेमंद है। इसके अलावा ओमेगा-3 एसिड से भरपूर फूड्स को खाने से हृदय भी स्वस्थ रहता है।

इसे भी पढ़ें: गलत तरीके से खाएं तो जहरीले हो सकते हैं कटहल के बीज, जानें इन्हें खाने के फायदे और नुकसान

एवोकैडो

एवोकैडो विटामिन बी और फॉलेट का एक अच्छा स्त्रोत है। विटामिन-बी आपके मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करने में मदद करता है जिससे आपकी शरीर को एनर्जी मिलती है और थकावट दूर होती है। इसके अलावा यह आपकी कॉग्नीटिव फंक्शन को बूस्ट करता है जिससे तनाव, चिंता और डिप्रेशन जैसी परेशानी दूर होती है। इसके अलावा फॉलेट बीन्स, दाल, पालक और शतावरी में भी पाये जाते हैं।

अंगूर

angur

अंगूर में ग्लूकोज, मैग्नीशियम और साइट्रिक एसिड जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। रोजाना एक मुट्ठी अंगूर खाने से आपकी मानसिक सेहत में सुधार हो सकता है। एक हाल में ही हुए शोध के अनुसार अंगूर में ऐसे यौगिक पाए जाते हैं जो डिप्रेशन से लड़ने में आपकी मदद कर सकते हैं। इस शोध के परिणाम ऑनलाइन जर्नल नेचर कम्युनिकेशंस में प्रकाशित किए गए थे और इसमें कहा गया था कि अंगूर में मौजूद यौगिक मानसिक बीमारीयों को दूर करने में मददगार हैं। साथ ही इसका सेवन करने से दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी कम होता है।

लेखक: धीरज सिंह राणा

Read more articles on Diet & Nutrition in Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।