किसी भी व्यक्ति को हो सकती हैं त्वचा से जुड़ी ये 5 आम समस्याएं, जानें किस समस्या में क्या करना जरूरी

Updated at: Jul 02, 2020
किसी भी व्यक्ति को हो सकती हैं त्वचा से जुड़ी ये 5 आम समस्याएं, जानें किस समस्या में क्या करना जरूरी

आप को भी कोई  स्किन प्रोबलम है? तो तुरंत अपने स्किन डाॅक्टर से सलाह लेनी चाहिए। आइए जानते हैं पांच सबसे आम त्वचा समस्याओं के विषय में। 

सम्‍पादकीय विभाग
अन्य़ बीमारियांWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Jul 01, 2020

इस समय तापमान बेहद गर्म है। यह गर्म तापमान  म में से ज़्यादातर लोगों के लिए  कई समस्याएं लेकर आता है। धूप और पसीने के साथ कई स्वास्थ्य समस्याएं होने लगती हैं। जैसे कि त्वचा में जलन, खुज़ली, रैशेज़, स्किन का टैक्शचर बदलना या एलर्जी । यदि आप को इन में से कोई भी दिक्कत महसूस होती है तो क्या आप अपने डाॅक्टर से सलाह लेते हैं?  

skin

आप को कोई भी त्वचा संबंधी समस्या होते ही तुरंत अपने त्वचा विशेषज्ञ  से सलाह लेनी चाहिए। इन में से अधिकतर समस्याएं बहुत ही मामूली होती हैं । परंतु कुछ गंभीर भी हो सकतीं हैं।  जानते हैं वे कुछ आम समस्याएं  कौन-कौन सी हैं

1. दाद (Shingles) : इस तरह की समस्यायों में  स्किन पर छोटे छोटे लाल रंग के दाने हो जाते हैं। जिस से स्किन में जलन व खुजली होती है। इस से स्किन बहुत ज्यादा सैंसिटीव बन जाती है। दाद शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकती है।   यह मुख्यतः दो हफ्ते में ठीक हो जाती है ।पर जलन, खुजली व हल्का फुल्का दर्द महीनों तक रहता है। आप को इसे जल्द ही डाॅक्टर को दिखा लेना चाहिए। इस को ठीक करने के लिए आप को डॉक्टर की सलाह से कुछ क्रीम्स, एंटी वायरल ड्रग्स आदि का प्रयोग करना पड़ सकता है।     

इसे भी पढ़ेंः अगर आपके पैरों में सूजन रहती है तो इन 5 बीमारियों में से हो सकती है कोई एक वजह, तुरंत कराएं जांच

2. खाज (Hives): यह लाल रंग के निशान होते हैं और तवचा पर कहीं भी हो सकते हैं। इन में  खुजली व जलन हो सकती है। यह ठीक होने में कुछ सप्ताह से लेकर महीने भी लगा सकती है।   इस के कुछ परिणामों में गला सूखना, शरीर का तापमान बढ़ना व अन्य इंफेक्शन हैं। इन से बचने के लिए डॉक्टर   स्किन क्रीम्स , लोशन और दवा के प्रयोग की सलाह देते हैं।       

skinproblems    

3. सोरायसिस  (psoriasis) : सोरायसिस की परेशानी में  स्किन पर लाल रंग के पैच,  सफेद रंग के स्केल के साथ  होते  हैं।  जब आप का इम्मयुन सिस्टम ठीक ढंग से काम न करे और आप की नई स्किन सैल्स बहुत जल्दी से बनने लगें तब सोरायसिस जैसी प्रोब्लम होती है। यह   घुटने, कुहनी, खोपड़ी आदि जगह पर हो सकती है। यदि आप किसी स्किन क्रीम का प्रयोग करते हैं तो उससे यह ठीक तो हो जाती है।  परंतु क्रीम के प्रयोग के बंद करते ही थोड़े दिन बाद फिर से होने की संभावना रहती है। इसके ईलाज के लिए इंजेक्शन, लाइट थेरेपी आदि भी  दी जाती है।   

इसे भी पढ़ेंः घर आए मेहमान का वॉशरूम यूज करना आपके लिए कितना है सेफ, वायरस के खतरे को कम करने के लिए बरतें ये 5 सावधानियां

4. रोसेजिया  ( Rosacea) इस में  नाक, गाल, थोडी, या माथे पर लाली या लाल बारीक दाने  हो जाते है। इनकी लाली समय के साथ और अधिक बढ़ती है। यही नहीं पिम्पलस, बम्पस आदि अन्य लक्षण भी देखने को मिल सकते हैं। यह  आंखों को भी प्रभावित कर सकता है। इस का इलाज दवाई या स्किन पर लगने वाली क्रीम से हो सकता है। डाॅक्टरस इसे ठीक करने के लिए लेजर का प्रयोग भी करते हैं।  

5. पौधों द्वारा रैश( Rash from Plants) : कुछ पेड़ पौधे भी ऐसे होते हैं जिन से आप को त्वचा फर चकते हो सकते हैं जैसे ओक, ivy, somac आदि से। बहुत से लोगों की त्वचा काफी संवेदनशील होती है इसीलिए इन पौधों के संपर्क में आते ही उनको  रैशिज़ की प्रोब्लम हो सकती है। शुरूआत में इस से सूजन व लाली होती है। बाद में खुजली व जलन होना शुरू हो जाती है। पौधे के छूने के 12 से 72 घंटे में इस के परिणाम दिखने लगते हैं। यह दो हफ्तों में ठीक हो जाता है। डॉक्टर इस समस्या में  स्किन क्रीम का प्रयोग करते हैं।

ऐसी कोई सी भी त्वचा समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। 

Read more articles on Other Diseases In Hindi               

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK