• shareIcon

    माइग्रेन के हैंगओवर से हैं परेशान तो इन 4 आसान तरीकों से करें उपचार

    माइग्रेन By Atul Modi , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jun 07, 2018
    माइग्रेन के हैंगओवर से हैं परेशान तो इन 4 आसान तरीकों से करें उपचार

    माइग्रेन अल्‍कोहल के सेवन, मौसम में बदलाव, तनाव, आहार में परिवर्तन और कम सोने के कारण भी हो सकता है। इसमें होने वाले तेज दर्द का कोई समय निश्‍चित नहीं होता, सुबह और शाम के समय यह ज्‍यादा महसूस होता है। माइग्रेन के इस हैंगओवर से बचने

    माइग्रेन एक मस्तिष्क विकार है, जिसमें रोगी के सिर में भयानक दर्द होता है। पुरुषों के मुकाबले महिलाएं माइग्रेन से ज्‍यादा ग्रस्‍त होती हैं। यह दर्द कई बार अचानक शुरू हो जाता है और फिर ठीक भी हो जाता है। माइग्रेन अल्‍कोहल के सेवन, मौसम में बदलाव, तनाव, आहार में परिवर्तन और कम सोने के कारण भी हो सकता है। इसमें होने वाले तेज दर्द का कोई समय निश्‍चित नहीं होता, सुबह और शाम के समय यह ज्‍यादा महसूस होता है। माइग्रेन के इस हैंगओवर से बचने के लिए हम आपको 4 ऐसे आसान उपचार बता रहे हैं  

    आराम की है जरूरत

    माइग्रेन में आराम करना चाहिए और ज्‍यादा नींद लेने की कोशिश करें। नींद लेने से माइग्रेन रोगियों को राहत मिलती है। गहरी नींद लेने के लिए आप शोर युक्‍त वातावरण से दूर रहने के साथ ही अंधेरे कमरे में सोने की कोशिश करें। माइग्रेन की समस्‍या का एक कारण तनाव भी होता है। नियमित रूप से व्यायाम, योग और मेडिटेशन करने से दिमाग तनाव मुक्‍त रहता है और आप माइग्रेन का शिकार होने से भी बचे रहते हैं।

    पानी पिएं

    विशेषज्ञों के मुताबिक डिहाइड्रेशन भी माइग्रेन का कारण होता है। इसलिए माइग्रेन की समस्‍या में आपको ज्‍यादा से ज्‍यादा पानी पीना चाहिए। साथ ही ठंडे पानी की पट्टी सिर पर रखने से भी राहत मिलती है। ऐसा करने से धमनियां फैलकर अपनी पूर्व स्थिति में आ जाती हैं। तो अगर माइग्रेन के हैंगओवर से छुटकारा चाहते हैं तो पानी पीएं।

    इसे भी पढ़ें: सिर ही नहीं पेट में भी होता है माइग्रेन का दर्द, जानिए एब्डॉमिनल माइग्रेन के लक्षण और कारण

    हेल्‍दी डाइट लें

    भूखे रहने पर भी यह दर्द बढ़ सकता है। इसलिए ज्‍यादा देर तक भूखे न रहें, थोड़ी-थोड़ी देर में कुछ न कुछ खाते रहें। हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन फायदेमंद रहता है। गाजर और खीरा भी लाभदायक है। मैग्निशियम से भरपूर आहार माइग्रेन में फायदेमंद होता है। कोशिश् करें कि आप अपना डाइट चार्ट बनाएं और उसको फॉलो करते हुए अपने खानपान पर ध्‍यान दें। जब तक आपका खानपान सही नहीं होगा तब तक इस समस्‍या से छुटकारा नहीं मिल सकता है।

    इसे भी पढ़ें: माइग्रेन के दर्द में इन 2 चीजों का करें सेवन, तुरंत दूर होगा दर्द

    सोशल मीडिया से रहें दूर

    आज की जेनरेशन पर सोशल मीडिया पूरी तरह से हावी हो चुका है। लोग कॉमेंट्स और लाइक्‍स के चक्‍कर में दिन-दिनभर सोशल मीडिया पर बैठे रहते हैं। कुछ लोगों में चैटिंग की बहुत बुरी लत होती है। सोशल मीडिया कुछ मामलों में तो ठीक है लेकिन इसका अत्‍यधिक प्रयोग लोगों को मानसिक रोगी बना रहा है। अक्‍सर माइग्रेन का हैंगओवर तब होता है जब लोग देर रात तक सोशल मीडिया का इस्‍तेमाल करते रहते हैं। अगर आपको भी ऐसी आदत है तो तुरंत इसे छोड़ दीजिए।

    ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

    Read More Articles On Migrain In Hindi

     
    Disclaimer:

    इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।