लॉकडाउन में बच्चों के लिए जरूरी है शारीरिक गतिविधियां, जानें बच्चों के लिए 3 एक्सरसाइज और इसे करने का तरीका

Updated at: May 12, 2020
लॉकडाउन में बच्चों के लिए जरूरी है शारीरिक गतिविधियां, जानें बच्चों के लिए 3 एक्सरसाइज और इसे करने का तरीका

लॉकडाउन आपके बच्चे की सेहत पर भारी पड़ सकता है। उनके फिटनेस के स्तर को कुछ एक्सरसाइज के साथ बढ़ाएं, जिन्हें वे आसानी से घर पर कर सकते हैं।

Pallavi Kumari
बच्‍चे का स्‍वास्‍थ्‍यWritten by: Pallavi KumariPublished at: May 12, 2020

बढ़ते बच्चे के लिए शारीरिक गतिविधि बहुत महत्वपूर्ण है। लेकिन वर्तमान में लॉकडाउन के कारण बच्चें खेलने के लिए मैदान और पार्कों में नहीं जा पा रहे हैं। इस तरह उनकी सारी शारीरिक गतिविधियां थम गई हैं। वे घर के अंदर ही सीमित रहते हैं और ये उनके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य और फिटनेस पर भारी पड़ सकता है। ऐसे में एक अभिभावक के रूप में, आपको इस तथ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है और सक्रिय तौर पर आपको इसके लिए कुछ जरूरी कदम उठाने चाहिए। नियमित व्यायाम ही इस समय आपके बच्चे को शरीर गतिविधियों में लिप्त रहने और वजन संतुलन रखने में मदद कर सकता है। इससे उसकी मानसिक दृढ़ता में भी सुधार होगा और शारीरिक तौर पर भी वो इसे कर पाएंगे।

insideexerciseforkids

बच्चों के लिए एक्सरसाइज क्यों जरूरी है

बच्चों के लिए एक्सरसाइज करना बेहद जरूरी है क्योंकि ये उन्हें एक सक्रिय जीवन शैली की ओर अगसर करता है। दरअसल कई शोध बताते हैं कि जिन बच्चों में शारीरिक सक्रियता कम होती है, उनमें मोटापा, डायबिटीज, हृदय रोग और कैंसर जैसी स्थितियों के विकास का जोखिम बढ़ने लगता है। यही कारण है कि शुरू से ही बच्चों में व्यायाम को प्रोत्साहित करना और कम उम्र से फिट रहने की आदत डालना महत्वपूर्ण हो गया है। साथ ही शोध बच्चों में एक्सरसाइज के फायदों के बारे में बात करते हुए ये भी बताते हैं कि यह नियमित शारीरिक गतिविधि आत्मसम्मान, मनोदशा और नींद की गुणवत्ता को बढ़ावा दे सकती है, जिससे उनमें तनाव, अवसाद और मनोभ्रंश की संभावना कम हो जाती है। वहीं नियमित व्यायाम से बच्चों और युवाओं को बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं, जैसे:

  • -फिटनेस में सुधार
  • -एकाग्रता में वृद्धि
  • -शैक्षणिक स्कोर में सुधार
  • -एक मजबूत दिल, हड्डियों और स्वस्थ मांसपेशियों का निर्माण
  • -स्वस्थ विकास 
  • -आत्मसम्मान में सुधार
  • -मुद्रा और संतुलन में सुधार
  • -तनाव कम करना
  • -बेहतर रात की नींद को प्रोत्साहित करना 

इसे भी पढ़ें : बच्चों को भी है कोरोना वायरस का खतरा, पैरेंट्स इस तरह रखें अपने बच्चों का ख्याल

लॉकडाउन के दौरान बच्चों को कौन सी एक्सरसाइज करवाएं?

स्ट्रेचिंग (Stretching)

यह शरीर के लचीलापन में सुधार करेगा और मांसपेशियों के समन्वय को आसान बनाता है। साथ ही ब्लड सर्कुलेशन कोभी बेहतर बनाने में मदद करता है। बच्चों के लिए ये एक्सरसाइज ज्यादा आसान होगी। आइए जानते हैं इसे करने का सही तरीका।

  • -अपनी पीठ के साथ सीधे बैठें और दोनों पैरों को जितना हो सके उतना फैलाएं।
  • -दाहिने हाथ से दाहिने घुटने को पकड़ें।
  • -बाएं हाथ को सिर के ऊपर तक ले जाएं और दाईं ओर झुकें।
  • -पूरे शरीर को खींचने की कोशिश करें।
  • -सामान्य रूप से सांस लेते रहें।
  • -इसे फिर से 5 दोहराएं। 
insideexerciseforchildrens

बच्चों से करवाएं प्लैंक्स (Planks)

यह कोर, एब्स और बैक के लिए बहुत अच्छा एक्सरसाइज है। बच्चों के लिए ये एक्सरसाइज करना आसान हो सकता है। इसे करने के लिए उन्हें ज्यादा कुछ नहीं है, बस जो हम बता रहे हैं उनसे करवाते जाएं।

  • -बच्चे को नीचे छूकते हुए अपने फोरआर्म्स को जमीन पर टिकाने को कहें।
  • -बाहों को अपने शरीर के समानांतर कंधे-चौड़ाई की दूरी पर रखें।
  • -अपने सिर को अपनी पीठ के अनुरूप रखें।
  • -पैरों को थोड़ा ऊपर उठाएं और पैर की उंगलियों पर थोड़ा दबाव डालें।
  • -5 बार इसे दोहराएं।
insideexercise

इसे भी पढ़ें : बच्चों के लिए कई तरह से फायदेमंद है खेल के बाद हेल्दी स्नैक्स का सेवन, मोटापे को भी करेगा कंट्रोल

पुश अप (Push-Ups)

आपके बच्चे के लिए रोज इसे थोड़ा भी करना पूरे शरीर के कसरत हो सकती है। वहीं रोज इसे करने का फायदा ये होगा कि उनका वजन संतुलित रहेगा और वो दिन भर एक्टिव रहेंगे। इसे करने के लिए

  • - बच्चे को अपने पेट के बल लेट जाने को कहें और हथेलियों को जमीन पर रखवाएं।
  • -बाहों का उपयोग करके शरीर को ऊपर उठाएं। ध्यान रखें कि वजन उनके हाथों और पैरों के बीच संतुलित तरीके से बच जाए।
  • -अब खुद को छूकाने को कहते हुए बच्चों को सिर जमीन से न छूते हुए, कोहनी से 90 ° कोण बनाने को कहें।
  • -फिर उन्हें बताएं कि जैसे ही वे नीचे आते हैं और उठते समय सांस छोड़ते जाना है।

Read more articles on Childrens in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK