दिल्ली में कोरोना मरीजों को दिए जा रहे ये 2 इम्यूनिटी बूस्ट ड्रिंक, जानें कैसे आप भी बढ़ा सकते हैं इम्यूनिटी

Updated at: Jul 13, 2020
दिल्ली में कोरोना मरीजों को दिए जा रहे ये 2 इम्यूनिटी बूस्ट ड्रिंक, जानें कैसे आप भी बढ़ा सकते हैं इम्यूनिटी

दिल्ली में कोरोना रोगियों को सुबह शाम ये 2 इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक दिए जा रहे हैं ताकि वे जल्दी स्वस्थ हो सके। जानें कौन से हैं ये दो ड्रिंक।   

Jitendra Gupta
अन्य़ बीमारियांWritten by: Jitendra GuptaPublished at: Jul 13, 2020

कोरोना वायरस से बचाव के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ही नहीं डॉक्टर्स और स्वास्थ्य जगत से जुड़े हेल्थ एक्सपर्ट्स भी लोगों से इम्यूनिटी को बूस्ट करने को कह रहे हैं। यूं तो मौजूदा वक्त में मेडिकल शॉप पर इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए कई तरीके की दवाएं और टेबलेट हैं लेकिन आयुष मंत्रालय ने लोगों को इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए ज्यादा से ज्यादा आयुर्वेदिक नुस्खों को आजमाने की सलाह दी है। आयुर्वेदिक तरीके जितने हेल्दी होते हैं उतने ही इनसे होने वाले फायदों की संख्या भी अधिक होती है। 

milk

Natural Immunity Booster Drinks: इस बात को अब ज्यादातर लोग जान और मान चुके हैं कि कोरोना संक्रमण से बचने का सबसे मजबूत तरीका अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाना है और हमारा इम्यून सिस्टम ही इस वायरस के शरीर पर हमले को रोकने की ताकत रखता है। यही कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय, डॉक्टर्स और हेल्थ एक्सपर्ट्स लोगों से इम्यूनिटी बढ़ाने की अपील कर रहे हैं ताकि वह इस जानलेवा वायरस से बच सकें। आयुष मंत्रालय बार-बार लोगों से इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए इन आयुर्वेदिक नुस्खों को आजमाने की गुजारिश कर चुका है। आयुर्वेद के मुताबिक, इम्यूनिटी को बूस्ट करने के दो बेहतरीन फॉर्मूले हैं पहला हल्दी वाला दूध और दूसरा आयुर्वेदिक औषधियों से बना काढ़ा। आयुष मंत्रालय ने लोगों से इन दोनों प्राकृतिक इम्यूनिटी बूस्टर को पीने की सलाह दी है और लोग इनका इस्तेमाल भी कर रहे हैं। यही नहीं दिल्ली में कोरोना रोगियों को इस घरेलू नुस्खे से अवगत कराया जा रहा है और उन्हें कोरोना के मरीजों को ये दोनों ड्रिंक्स भी दिए जा रहे हैं। 

इन आयुर्वेदिक नुस्खों के स्वास्थ्य लाभों का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दिल्ली के छतरपुर में राधा स्वामी सत्संग ब्यास में तैयार किए गए सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर में भर्ती कोरोना के मरीजों को सुबह उठने के बाद इस आयुर्वेदिक काढ़े को पिलाया जाता है और शाम को उन्हें हल्दी वाले दूध का सेवन कराया जाता है। यहां हो रही कोरोना मरीजों की देखभाल का जायजा लेने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने राधा स्वामी सत्संग ब्यास सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर (एसपीसीसीसी) का दौरा किया और इस सेंटर में कोरोना रोगियों के प्रबंधन की स्थिति की समीक्षा भी की। राधा स्वामी सत्संग ब्यास (आरएसएसबी) में कोरोना के मरीजों के लिए 10,200 बिस्तर वाला ‘सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर’तैयार किया गया है, जहां पूरी दिल्ली से लोग आ रहे हैं। 

इसे भी पढ़ेंः इम्यूनिटी बढ़ाने वाला काढ़ा पीना कब होता है शरीर के लिए ज्यादा फायदेमंद?आयुर्वेद से जानें कब पीना चाहिए काढ़ा

milk benefits

कोरोना के मरीजों को पिलाया जा रहा है हल्दी वाला दूध

डॉ. हर्षवर्धन ने सेंटर की सुविधाओं और कोरोना मरीजों को दिए जा रहे इन दो ड्रिंक के बारे में कहा, इस सेंटर पर कोरोना रोगियों को सुबह आयुर्वेदिक काढ़ा और शाम के वक्त हल्दी वाला दूध पिलाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने इस सेंटर में करीब 12 मरीजों से बातचीत की। इस दौरान हर्षवर्द्धन ने पीपीई किट पहनी हुई थी। इके अलावा उन्होंने सेंटर में मरीजों को मिल रही सुविधाओं और उनके उपचार के साथ उनके बेहतर होते स्वास्थ्य की भी सुध ली। बता दें कि दिल्ली में कोरोनावायरस से अब तक 90 हजार लोग ठीक हो चुके हैं। 

हल्दी वाला दूध पीने से शरीर को होने वाले फायदेः

  • एंटीबैक्टेरियल और एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर हल्दी को दूध में मिलाकर पीने से अंदरूनी चोट व बाहरी घावों को जल्दी भरने में मदद मिलती है।
  • हल्दी वाला दूध पीने से हमारी स्किन में छिपे बैक्टेरिया को भी शरीर से बाहर निकालने और उन्हें नष्ट करने में मदद मिलती हैं।
  • शरीर में होने वाला दर्द कम हो जाता है।
  • रात में नींद ना आने की समस्या भी दूर हो जाती है। 

इसे भी पढ़ेंः ये आयुर्वेदिक नुस्खे दिलाएंगे आपको वायरल इंफेक्शन से छुटकारा, बारिश के मौसम में बढ़ जाता है वायरल

आयुर्वेदिक काढ़ा बनाने का तरीका 

  • दो कप पानी को एक पैन या पतीले में उबलनें के लिए रखें।
  • पानी में काली मिर्च या उसका पाउडर, कूटी हुई अदरक या सोंठ, लौंग, दालचीनी, पिपली और अन्य मसाले डाल लें।
  • आप इसमें तुलसी के हरे पत्ते भी डाल सकते हैं। 
  • इन सभी चीजों को पानी में डालकर 5 मिनट अच्छी तरह के लिए उबलने दें। 
  • इसे तब तक उबालें जब तक पैन का पानी आधा न हो जाए। 
  • जब पानी आधा हो जाए तो एक कप में इस मिश्रण को छान लें। 
  • आप इसमें स्वादानुसार गुड़ या शहद भी मिला सकते हैं और इसे गर्मा-गर्म पीएं।

Read More Other Disease In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK