एड़ी के दर्द से पीड़ित लोगों के लिए क्यों जरूरी है घर में भी चप्पल पहनना? एक्सपर्ट से जानें एड़ी दर्द का उपाय

वर्क फ्रॉम होम में लोगों का काम ज्यादा बढ़ गया है, जिससे कि लोगों के एड़ी का दर्द भी बढ़ गया है। ऐसे में काम के बीच ये दो कारगर उपाय आजमाएं।

Pallavi Kumari
अन्य़ बीमारियांWritten by: Pallavi KumariPublished at: Oct 16, 2020
Updated at: Jun 29, 2021
एड़ी के दर्द से पीड़ित लोगों के लिए क्यों जरूरी है घर में भी चप्पल पहनना? एक्सपर्ट से जानें एड़ी दर्द का उपाय

एड़ी का दर्द कई कारणों से होता है। बात अगर हम कुछ गंभीर कारणों की करें, तो उनमें मोटापा, डायबिटीज और महिलाओं में प्रेग्नेंसी आदि शामिल हैं। इस तीनों स्वास्थ्य स्थितियों से गुजर रहे लोग अक्सर एड़ियों के दर्द की शिकायत करते हैं और इससे परेशान रहते हैं। वहीं जिन लोगों को प्लांटर फेशिआइटिस  (Plantar Fasciitis)की शिकायत है यानी कि पैर के निचले हिस्से में सामान्य दर्द और सूजन रहती है, वो भी एड़ी में दर्द से परेशान रहते हैं। एड़ी के दर्द से जुड़ी इन्हीं तमाम स्थितियों पर 'ऑन्ली माई हेल्थ' ने डॉ. अरुण आशीष पाण्डय से भी बात की, जो कि एक ऑरथोपेडिक (हड्डी रोग विशेषज्ञ) डॉक्टर हैं और उनसे जाना कि लोगों को ये परेशानी क्योंकि होती है और इससे निजात पाने के लिए कुछ कारगर उपाय क्या हैं।

insidehomeremediesforfootpain

एड़ी में अचानक से तेज दर्द क्यों होता है?

एड़ी में दर्द को लेकर डॉ. अरुण बताते हैं कि अक्सर ये दर्द कैलकेनियम के भीतरी परत में सूजन आने के कारण होता है। इसके कारण जैसे ही हम अपना पैर जमीन पर रखते हैं, एक तेज दर्द हमें एड़ी में महसूस होता है। आमतौर पर ये दर्द सो के उठने के बाद बिस्तर से उतरते ही शुरू हो जाता है। वहीं आप जब भी नंगे पैर चलेंगे, तब भी आपको तेज दर्द महसूस होगा। ऐसे में आपको कैलकेनियम के इस सूजन को कम करना होगा।

इसे भी पढ़ें : Weight Loss Benefits for Arthritis: वजन घटाने से मिल सकती है गठिया के दर्द से राहत, जानें कैसे?

एड़ी के दर्द का 2 कारगर उपाय  (Plantar Fasciitis Home Remedies)

1. घर में भी नंग पैर न चलें

एड़ी के दर्द से निजात पाने के लिए सबसे पहला और आसान उपाय ये है कि ऐसे लोगों को घर में भी नंग पैर चलने से बचना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि नंगे पैर चलने से एड़ी पर अतिरिक्स जोर पड़ता है और एड़ी के कैलकेनियम के भीतरी परत की सूजन बढ़ जाती है। इसलिए एड़ी के दर्द वाले मरीजों को घर में चप्पल और जूते पहन कर रहना चाहिए। यानी कि कुछ ऐसा पहनें जो पैरों को नीचे से स्पोर्ट दें ताकि एड़ी पर सीधे ज्यादा भार न पड़े। वहीं कोशिश करें कि अच्छे सोल (कुशन) वाले चप्पल और जूते पहनें। वहीं अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं, तो आपको अपने लिए ज्यादा कुशन वाले जूतों का इस्तेमाल करना चाहिए। वहीं जिन महिलाओं को एड़ी के दर्द की समस्या लगातार रहती है, उन्हें तो ऊंची हील्स वाली चप्पलों को पहनने से बचना चाहिए। साथ ही इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि घर में कुछ भी करें, पर नंगे पैर न चनें।

insidewaystocurefootpain

इसे भी पढ़ें : स्पाइन की सेहत पर न पड़ने दें दबाव, अपनी लाइफस्टाइल में ये बदलाव जरूरी

2. गर्म और ठंडे पानी वाली सिकाई करें

अक्सर लोग एड़ी में दर्द होने पर गर्म पानी की सिकाई करने पर जोड़ देते हैं। पर इसमें आपको ऐसा नहीं है। आपको सिकाई के लिए गर्म पानी लेना है और इसे एक टब में डाल के नमक डाल लेना है। दूसरी तरफ एक और टब लेना ही जिसमें आपको नॉर्मल पानी भर लेना है। अब आपको सबसे पहले गर्म पानी वाले टब में 5 मिनट तक दोनों पैरों को डूबो कर रखना है। फिर आपको अपने पैरों को 5 मिनट तक नॉर्मल पानी में रखना है। फिर आपको अपने पैरों को निकाल कर फिर से गर्म पानी में रखना है और दोबरा ठंडे पानी में रखना है। इस काम को आपको तब तक जारी रखना है, जब तक कि आपका गर्म पानी नॉर्मल पानी न बन जाए। ये आपको दिन भर में तीन बार करना चाहिए और आप पाएंगे कि आपके एड़ी का दर्द ठीक हो जाएगा।

इस तरह आप अपने कैलकेनियम के भीतरी परत की सूजन को कम कर सकते हैं। वहीं आज कल जब हम अपने घरों से ही काम कर रहे हैं और काम का स्ट्रेस भी ज्यादा है, तब भी आप अपने लिए समय निकालें और ये दोनों आसान उपचारों को ट्राई करें। वहीं जिन लोगों का वजन बहुत ज्यादा है, वो पहले तो वजन कंट्रोल करें और इसके लिए वो सही डाइट और एक्सरसाइज की मदद लें।

Read more articles on Other-Diseases in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK