• shareIcon

हड्डी की वृद्धि

दर्द का प्रबंधन By डा पूनम सचदेव , विशेषज्ञ लेख / Dec 24, 2009
हड्डी की वृद्धि

दंत प्रत्यारोपण केवल तभी सफल होते है यदि जबड़े की हड्डी में समर्थन के लिए पर्याप्त हड्डी हो ।

जबड़े में पर्याप्त हड्डी नही हो सकती

  • पिरियोडोन्टल(मसूड़े) डीज़िज से दांत की हानि के कारण
  • चोट या घाव के बाद
  • विकास दोष में या
  • लोग जिनके जबड़े अधिक छोटे(ऊपर और नीचे),अधिक संकीर्ण(दोनो तरफ) या दोनो होते है

हड्डी की वृद्धि एक ऐसी प्रक्रियाहैजिसमें जबड़े की हड्डी बोन ग्राफ्टिंग(हड्डी या हड्डी जैसी सामग्री) द्वारा निर्मित होती है,ताकि दंत प्रत्यारोपण को स्थापित किया जा सके।ग्राफ्टिड सामग्री कुछ महीनों बाद जबड़े की हड्डी के साथ जुड़ जाते है।आपके परिक्षण के बाद आपका दंत चिकित्सक प्रक्रिया को तय करेगा जो स्थिति की प्रक्रिया पर आधारित हड्डी की वृद्धि के लिए इस्तेमाल की जा सकती है और प्रत्यारोपण की संख्या का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।प्रत्यारोपण आमतौर पर हड्डी की वृद्धि की प्रक्रिया के बाद 6 से 12 महीनों में स्थापित किया जाता है।

 

हड्डी कहां से आती है?

 

अधिकांश हड्डी की वृद्धि की प्रक्रिया में बोन ग्राफ्ट का इस्तेमाल किया जाता है और आपकी खुद की हड्डी ओग्युमेन्टेशन के लिए अच्छी सामग्री के रूप में जानी जाती है।हड्डीअधिकतर ठोड़ी या रेमस (आपके निचले जबड़े का पिछे वाला भाग) से ली जाती है।यदि आवश्यक है तो कूल्हे या पिंडली(टिबिया)से हड्डी का इस्तेमाल किया जाता है।हड्डी सामग्री जो मानव शवोंया गायों की हड्डी से बनी होती है,यदि आवश्यक है तो ये इस्तेमाल की जा सकती है।आपका दंत चिकित्सक प्रक्रिया से पहले, उपलब्ध विकल्पों पर आपसे चर्चा करेगा।

 

हड्डी की वृद्धि की प्रक्रिया का एक नमूना

 

एक दाँत के लिएहड्डी की वृद्धि की प्रक्रिया अपने दंत चिकित्सक के कार्यालय में की जा सकता है।सर्जरी से पहले,आपको एंटीबायोटिक दवाईयां या दर्द से राहत देने वाली दवाईयां दी जा सकती है।सर्जरी आमतौर परस्थानीय एनीथिसिया के तहत की जा सकती है।लेकिन आपको यदि आवश्यक है तो बेहोश किया जा सकता है। स्थानीय एनीथिसिया दोनो क्षेत्रों पर दी जाती है,जहां हड्डी की वृद्धि (प्रापक स्थान) और क्षेत्र(डॉनर साइट)जहां से हड्डी ली जायेगी,आवश्यक होता है। हड्डी डॉनर एरिया से ली जाती है और उस क्षेत्र में स्थापित कर दी जाती है जहां, हड्डी की वृद्धि की आवश्यकता होती है।

 

सर्जरी के बाद,आपको एंटीबायोटिक दवाईयों और दर्दकारक दवाईयों और एंटीबैक्टीरियल माऊथ वॉश के लिए निर्धारित किया जायेगा।दवाईयों,खाद्द पदार्थों(जैसे कि कुछ खाद्द पदार्थों से बचें)और मौखिक स्वच्छता के बारें में अपने दंत चिकित्सक द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन करे और इसके ठीक होते हुए,क्षेत्र पर दबाव से बचें।क्षेत्र के ठीक होने तक आपको डेन्चर पहनने से बचना होता है।बोन ग्राफ्ट के ठीक होने में 6 से 12 महीने लग जाते है।प्रत्यारोपणआमतौर पर,हड्डी की वृद्धि की प्रक्रिया के बाद,6 से 12 महीनों में स्थापित हो जाता है।

 

कई प्रत्यारोपण के लिएअस्थि का निर्माण

 

यदि आपको बहुत से प्रत्यारोपण का आवश्यकता होती है तो अस्थि आमतौर परकूल्हे,पिंडली या दूसरे क्षेत्र से ली जाती है,जैसे अधिक बोन-ग्राफ्ट सामग्री आवश्यक होती है,तब यदि एक ही प्रत्यारोपण स्थापित किया गया हो।यह प्रक्रिया आमतौर पर लोकल एनीथीसिया के तहत अस्पताल में की जाती है और रातभर रूकने की आवश्यकता होती है।सर्जरी के लिए आवश्यक समय क्षेत्र का संख्या पर निर्भर करेगा,जंहा आपके लिए बोन-ग्राफ्टिंग आवश्यक होती है।

 

बोन-ग्राफ्टिंग का सफलता

 

दंत प्रत्यारोपण केलिए,बोन ग्राफ्ट की सफलता की दर अधिक अच्छी होती है,लेकिन किसी भी अन्य शल्यप्रक्रिया की तरह बोन-ग्राफ्टिंग के बाद हमेशा विफलता का स्थिति बनी रहती है।बोन-ग्राफ्टिंग की विफलता के कारण संक्रमण, धूम्रपान, और कुछ दवाईयां शामिल है या यदि ग्राफ्टिड हड्डी पूर्णरूप से स्थिर नही होती तो उस कारण भी बोन-ग्राफ्टिंग की विफलता हो सकती है।हालांकि बोन ग्राफ्ट अन्यअंग प्रत्यारोपण की तरह अस्वीकृत नही होती है।

 

हड्डी की वृद्धि की प्रक्रिया के अन्य प्रकार

 

हड्डी का वृद्धि के अलावा,प्रक्रिया के अन्य प्रकार जो हड्डी के निर्माण के लिए किये जाते है,ताकि प्रत्यारोपण को स्थापित कर सके,वो हैः

  • साइनस लिफ्टःइस हड्डी की वृद्धि की प्र...

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK