• shareIcon

फ्लैट बेली डायट वजन कम करने का है कारगर उपाय

वज़न प्रबंधन By डा पूनम सचदेव , विशेषज्ञ लेख / Jan 01, 2013
फ्लैट बेली डायट वजन कम करने का है कारगर उपाय

फ्लैट टमी डायट कम समय में ज्‍यादा वजन कम करने में मदद करती है। इससे पेट पर जमा चर्बी कम होने के साथ ही शरीर का वजन भी नियंत्रित रहता है।

वह दौर अब गया अब गया जब, बढ़े हुए पेट को खाते-पीते घर की निशानी माना जाता था। अब, बढ़ा हुआ पेट आलस्‍य की पहचान और बीमारी का घर माना जाता है। जिन लोगों का पेट किसी कारण से बढ़ चुका है, उनकी कोशिश उससे छुटकारा पाने की होती है।

flat tummy diet'फ्लैट टमी डायट' की शुरुआत लिज वेकेरिलो और सिंथिया सास द्वारा शुरू की गयी थी। इस आहार योजना के त‍हत आप 15 दिनों में 32 पाउंड यानी करीब साढ़े 14 किलो वजन कम कर सकते हैं। अपनी किताब में इन दोनों ने वजन कम करने को केवल आहार और व्‍यवहार पर निर्भर बताया है। यह आहार योजना विशेषकर उन लोगों को ध्‍यान में रखकर तैयार की गयी हैं, जो अपनी कमर से कुछ इंच चर्बी कम करने के इच्‍छुक हैं।  


इस आहार योजना में पौष्टिक और अपरिष्‍कृत आहार खाने की सलाह दी जाती है। इसमें सब्जियां, साबुत अनाज, नट्स, बीन्‍स, बीज, पतला प्रोटीन और काफी कम मात्रा में रेड मीट (महीने में केवल एक बार) खाने की सलाह दी जाती है। लेखकों ने मोनोसेचुरेटेड फैट अथवा मुफा को अपने आहार का हिस्‍सा बनाने पर जोर दिया है। इससे आपको अपनी चर्बी कम करने में काफी मदद मिलती है। ऑलिव, अवाकाडो, नट्स, बीज, डार्क चॉकलेट, सोयाबीन, फ्लैक्‍स और ऑलिव अथवा सूरजमुखी का तेल, मुफा से भरपूर होते हैं। इसके साथ ही मुफा भूख को भी नियंत्रित रखने में मदद करता है।

इस आहार योजना को शुरू करने से पहले आपको कम से कम चार दिनों तक 1200 से 1400 कैलोरी प्रतिदिन की आहार योजना पर चलना होता है। इससे शरीर के लिए अगली आहार योजना को अपना पाना आसान हो जाता है। यह आहार योजना सूजन को कम करने और एक पौष्टिक आहार योजना को फॉलो करने में मदद करती है। इसके लिए आपको रोजाना दो लीटर पानी पीना होता है। इस पानी में मसाले, औषधियां, नींबू और खीरा आदि होता है। लेखकों का कहना है कि फ्लैट टमी डायट, सूजन और कब्‍ज से निजात दिलाता है, जिससे आप बेहतर और एक्टिव फील करते हैं। हां, बेहतर परिणाम पाने के लिए आप व्‍यायाम भी कर सकते हैं।


फ्लैट बेली आहार योजना: आप क्‍या खा सकते हैं

इस आहार योजना में आप दिनभर में 400 कैलोरी के चार भोजन खाएंगे। हर आहार में मुफा भरपूर मात्रा में होगा। क्‍योंकि आपके पास आहार लिस्‍ट है और इसमें प्रोटीन का साइज तय है, इसलिए आपको कैलोरी की फिक्र करने की जरूरत नहीं है। आप 28 आहारों में से अपने लिए नाश्‍ते, लंच और डिनर और स्‍नैक्‍स चुन सकते हैं। अपनी पसंद के हिसाब से इन्‍हें आपस में बदल भी सकते हैं। इन आहारों को कैलोरी और पौष्टिक तत्‍वों के आधार पर बांटा गया है। इनमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, संतृप्‍त वसा, कोलेस्‍ट्रोल, सोडियम और फाइबर पौषक तत्‍वों की संतुलित मात्रा होती है।


फ्लैट बैली डायट : यह कैसे काम करती है

फ्लैट बैली डायट किताब में वर्णित आहार योजना के अनुसार आपको रोजाना 1600 कैलोरी का उपभोग करना चाहिए और आपके हर आहार में मुफा प्रचुर मात्रा में होना चाहिए। हर चार घंटे में भोजन और नियमित व्‍यायाम (हालांकि व्‍यायाम जरूरी नहीं है) आखिरकार आपको अपना वजन कम करने में काफी मदद करेगा।

विशेषज्ञों के अनुसार फ्लेट बैली डायट से आपका वजन मुफा के कारण नहीं होता, बल्कि यह आपके पूरे शरीर के वजन कम होने का हिस्‍सा है। जब कभी भी आपका वजन कम होता है, तो आप शरीर के मध्‍यम हिस्‍से से वजन कम करते हैं, भले ही आप किसी भी आहार योजना का पालन कर रहे हों। इस प्रकार की आहार योजना उन लोगों के लिए काफी फायदेमंद है, जो अपने भोजन को लेकर अन‍ियमित होते हैं और अक्‍सर अपना भोजन समय पर नहीं खाते। इनमें नाश्‍ता न करने वाले लोग भी शामिल होते हैं।

जानकार यह भी मानते हैं कि वजन कम करना बहुत जरूरी है। अतिरिक्‍त चर्बी आपको हृदय रोग होने का खतरा काफी अधिक होता है। न केवल पेट पर जमा चर्बी, बल्कि शरीर में कहीं भी जमा अतिरिक्‍त चर्बी आपको गंभीर रोग दे सकती है। कई जानकार यह नहीं मानते कि मुफा आपको वजन कम करने में मदद करता है। उनके अनुसार, 'फ्लैट बेली डायट' का अनुसरण करने वाले लोगों के पेट से चर्बी उनके पूरे शरीर से कम हो रही वसा का ही हिस्‍सा होता है।

लिज वेकेरिलो और सिंथिया सास की लिखी इस किताब की कई सलाह पर जानकार सवाल उठाते हैं। उनकी नजर में जंप स्‍टार्ट प्‍लान का संबंध तनाव, च्‍युंइगम चबाना, भारी-भरकम कच्‍चे आहार का सेवन और मुफा से वजन कम होना जैसी बातें सवालों के घेरे में हैं। इस किताब में दी गयीं कई सलाह के पीछे कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। हालांकि, अपने आहार में पौष्टिक तत्‍वों को शामिल करने की बात कहना जरूर व्‍यावहारिक लगता है।

आहार योजना में शामिल कई खाद्य पदार्थ उच्‍च कैलोरी युक्‍त हैं, तो इसलिए आपको इस बात का खयाल रखना जरूरी है कि आप कितना खा रहे हैं। ऐसा भी हो सकता है कि आपको इस बात का अंदाजा ही न रहे कि आप आवश्‍यकता से अधिक कैलोरी का सेवन कर रहे हैं।

 

 

 

Read More Articles On Weight Loss Foods in Hindi


Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK