• shareIcon

फैन्‍टम पेन

दर्द का प्रबंधन By सम्‍पादकीय विभाग , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Dec 24, 2009
फैन्‍टम पेन

फेंटम पेन वह दर्द है जो शरीर के उन अंगों में होता प्रतीत होता है, जो वास्तव में शरीर से निकाल दिए गए हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, यह वास्तविक अनुभूति है जो मेरुरज्जू और मस्तिष्क में उत्पन्न होती है।

 

फेंटम पेन प्राय़ः उन लोगों को महसूस होता है, जिनके हाथ या पैर कट गए हों, लेकिन यह शल्यक्रिया द्वारा शरीर के दूसरे हिस्सों को निकालने के बाद भी हो सकता है जैसे-स्तन, शिश्न या आँख या जीभ हटाने पर।

 

कुछ लोगों में दर्द समय के साथ बिना किसी इलाज के ही ठीक हो जाता है जबकि अन्य में इलाज बहुत मुश्किल हो सकता है।


कारण

  • फेंटम पेन का वास्तविक कारण ज्ञात नहीं है। संभवतया यह अनुभूति मेरुरज्जू या मस्तिष्क से उत्पन्न होती है।

  • फेंटम पेन से पीड़ित लोगों के मस्तिष्क की जांच की कुछ विधियों जैसे-मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग (एमआरआई) या पॉजिट्रॉन इमिशन टोमोग्राफी (पीईटी) के दौरान यह महत्वपूर्ण अंग कार्यसंपादन में उल्लेखनीय बदलाव दिखाता है।

  • मस्तिष्क ऐसे असामान्य रूप से काम क्यों करता है यह अभी तक रहस्य है, लेकिन कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि अंग विच्छेदन के बाद मस्तिष्क और मेरुरज्जू के कुछ भाग उस अंग से फीडबैक प्राप्त नहीं हो पाने के कारण प्रतिक्रिया स्वरूप दर्द का अनुभव करते हैं।

 

फेंटम पेन के दूसरे कारण

  • हटाए गए अंग के पास के नर्व एंडिग्स का क्षतिग्रस्त होना
  • अंगविच्छेदन वाली जगह पर के ऊतकों को चोट लगना
  • प्रभावित क्षेत्र में अंग विच्छेदन से पहले के दर्द की भौतिक/शारीरिक याद

 

लक्षण

 

अंग विच्छेदन के बाद कई लोगों को ऐसा महसूस होता है कि उनका वह अंग (खासकर हाथ या पैर) अभी भी है। ऐसा ही अनुभव उनलोगों को भी होता है, जिन्हें जन्म से ही पांव या हाथ नहीं होते। ऐसे लोगों को अपने विच्छेदित या विलुप्त अंगों में ठंड, गर्मी, खुजली या झनझनाहट महसूस होती है।

 

फेंटम पेन की उल्लेखनीय विशेषताएं

  • अंग विच्छेदन के कुछ दिनों बाद शुरू होता है।
  • दर्द लगातार रहने के बजाय आता है और जाता है
  • विलुप्त या विच्छेदित अंग के सबसे दूर के हिस्से में दर्द महसूस होना जैसे-कटे हुए पांव के निचले हिस्से में दर्द महसूस होना
  • दर्द की विशेषताएं-अचानक उठा तीव्र दर्द या टीस, ऊबाउ, अंग को कसकर दबाता हुआ प्रतीत होना या जलन महसूस होना।
  • मौसम परिवर्तन, कटे हु्ए हाथ-पांव के बचे हिस्से पर दबाव पड़ना या मानसिक तनाव

 

जांच और रोग की पहचान


फेंटम पेन की पहचान के लिए कोई जांच उपलब्ध नहीं है। डॉक्टर दर्द के पहले की दुर्घटना या सर्जरी का इतिहास जानने और दर्द की प्रकृति को समझने के बाद इसकी स्थिति का अनुमान लगाते हैं। आपके दर्द की प्रकृति का संक्षिप्त विवरण डॉक्टर की समस्या को समझने में मदद कर सकते हैं।

 

फेंटम पेन औऱ स्टम्प पेन में अंतर


आपका डॉक्टर ये निर्धारित करने का प्रयास करेगें कि आपको फेंटम पेन है या स्टम्प पेन। स्टम्प पेन न्यूरोमास (कटे या क्षतिग्रस्त हुए नर्व एंडिग्स के नर्व स्प्राउट्स), अत्यधिक दबाव, संक्रमण या दबी हुई बीमारी के फिर से उभर आने के कारण होता है।

 

इलाज

 

फेंटम पेन का सही इलाज कर पाना डॉक्टरों के लिए चुनौतीपूर्ण हो सकता है। फेंटम पेन के इलाज के निम्नलिखित विकल्प हैं-

  • दवाओं से इलाज
  • गैरपरंपरागत चिकित्सा प्रणालियां जिसमें एक्यूपंक्चर या ट्रांसक्यूटेनियस इलेक्टिक नर्व स्टिमुलेशन (टीएनएस) शामिल हैं।
  • अंतिम उपाय के रूप में इंजेक्शन या इम्पलांट किए गए उपकरण, सर्जरी इत्यादि का उपयोग होता है।

 

दवाओं से इलाज

 

फेंटम पेन के लिए कोई विशेष दवा नहीं है। दूसरे कई प्रकार के दर्द में उपयोग में आनेवाली दवाएं इस दर्द में भी उपयोगी हो सकती हैं। प्रत्येक व्यक्ति के लिए कोई एक ही दवा लाभकारी नहीं होती और ना ही प्रत्येक को दवा से लाभ हो पाता है। डॉक्टर आप पर विभिन्न प्रकार की दवाएं आजमा सकता है ताकि यह पता चल सके कि कौन सी दवा आपको दर्द से राहत दिलाती है।

  • एंटीडिप्रेसेंटःट्राइसाइक्लिक एंटीडिप्रेसेंट (जैसे-एमिट्रिप्टाइलिन और नॉरट्रि...

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK